प्रज्ञा ठाकुर अगर आतंकी मसूद अजहर को श्राप देती तो सर्जिकल स्ट्राइक की ज़रूरत ना होती: दिग्विजय सिंह

digvijay singh
प्रज्ञा ठाकुर अगर आतंकी मसूद अजहर को श्राप देती तो सर्जिकल स्ट्राइक की ज़रूरत ना होती: दिग्विजय सिंह

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से दो बार मुख्यमंत्री रहे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने अशोका गार्डन में एक रैली को संबोधित करते हुए अपनी प्रतिद्वंद्वी और भाजपा प्रत्याशी प्रज्ञा सिंह ठाकुर पर तंज़ कसा। दिग्विजय ने कहा कि अगर प्रज्ञा ठाकुर ने जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख आतंकी मसूद अजहर को श्राप दिया होता तो सर्जिकल स्ट्राइक की कोई जरूरत नहीं होती।

If Pragya Thakur Cursed Masood Azhar If He Did Not Need A Surgical Strike Digvijay Singh :

दिग्विजय सिंह ने कहा, “उन्होंने एटीएस प्रमुख शहीद हेमंत करकरे को श्राप दिया था, जिन्होंने देश के लिए सर्वोच्च बलिदान दिया। अगर उन्होंने पाकिस्तान आधारित आतंकी मसूद अजहर को श्राप दिया होता तो सर्जिकल स्ट्राइक की कोई जरूरत ही नहीं पड़ती।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा, “प्रधानमंत्री का कहना है कि उन्होंने देश में छिपे आतंकियों का भी शिकार किया है। मगर मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि देश में जब पुलवामा, पठानकोट और उरी जैसे हमले हुए, तब वह कहां थे? तब वो ऐसे हमलों से बचने के लिए क्यों नहीं तैयार थे?”

आगे उन्होंने कहा, “हमारे धर्म में हम कहते हैं हर-हर महादेव, मगर मोदी की सरकार में कहते हैं हर-हर मोदी। भाजपा के इस नारे से हमारी धार्मिक भावना को आहत पहुंचता है। हम सभी जानते हैं कि गूगल पर फेकू टाइप करने पर किसकी तस्वीर आती है।” दिग्विजय ने कहा, “पीएम मोदी कहते हैं हिंदुओं को एकजुट होना चाहिए क्योंकि वे खतरे में हैं। मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि इस देश में 500 सालों तक मुसलमानों ने शासन किया, मगर किसी धर्म को कोई हानि नहीं हुई। बल्कि हमें ऐसे लोगों से सावधान रहने की जरूरत है जो राजनीति के नाम पर धर्म को बेचते हैं।”

आपको बता दें कि इस बार मध्य प्रदेश की भोपाल सीट पर कांटे की टक्कर है, क्योंकि इस सीट पर दिग्विजय सिंह के खिलाफ भाजपा ने मालेगांव ब्लास्ट की आरोपी और हिंदुत्व का चेहरा प्रज्ञा ठाकुर को उतारा है। अब देखना ये काफी दिलचस्प होगा कि क्या प्रज्ञा ठाकुर दिग्विजय सिंह को हरा पाएंगी? आखिर किसको मिलेगी भोपाल की सीट।

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से दो बार मुख्यमंत्री रहे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने अशोका गार्डन में एक रैली को संबोधित करते हुए अपनी प्रतिद्वंद्वी और भाजपा प्रत्याशी प्रज्ञा सिंह ठाकुर पर तंज़ कसा। दिग्विजय ने कहा कि अगर प्रज्ञा ठाकुर ने जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख आतंकी मसूद अजहर को श्राप दिया होता तो सर्जिकल स्ट्राइक की कोई जरूरत नहीं होती। दिग्विजय सिंह ने कहा, "उन्होंने एटीएस प्रमुख शहीद हेमंत करकरे को श्राप दिया था, जिन्होंने देश के लिए सर्वोच्च बलिदान दिया। अगर उन्होंने पाकिस्तान आधारित आतंकी मसूद अजहर को श्राप दिया होता तो सर्जिकल स्ट्राइक की कोई जरूरत ही नहीं पड़ती।" प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा, "प्रधानमंत्री का कहना है कि उन्होंने देश में छिपे आतंकियों का भी शिकार किया है। मगर मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि देश में जब पुलवामा, पठानकोट और उरी जैसे हमले हुए, तब वह कहां थे? तब वो ऐसे हमलों से बचने के लिए क्यों नहीं तैयार थे?" आगे उन्होंने कहा, "हमारे धर्म में हम कहते हैं हर-हर महादेव, मगर मोदी की सरकार में कहते हैं हर-हर मोदी। भाजपा के इस नारे से हमारी धार्मिक भावना को आहत पहुंचता है। हम सभी जानते हैं कि गूगल पर फेकू टाइप करने पर किसकी तस्वीर आती है।" दिग्विजय ने कहा, "पीएम मोदी कहते हैं हिंदुओं को एकजुट होना चाहिए क्योंकि वे खतरे में हैं। मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि इस देश में 500 सालों तक मुसलमानों ने शासन किया, मगर किसी धर्म को कोई हानि नहीं हुई। बल्कि हमें ऐसे लोगों से सावधान रहने की जरूरत है जो राजनीति के नाम पर धर्म को बेचते हैं।" आपको बता दें कि इस बार मध्य प्रदेश की भोपाल सीट पर कांटे की टक्कर है, क्योंकि इस सीट पर दिग्विजय सिंह के खिलाफ भाजपा ने मालेगांव ब्लास्ट की आरोपी और हिंदुत्व का चेहरा प्रज्ञा ठाकुर को उतारा है। अब देखना ये काफी दिलचस्प होगा कि क्या प्रज्ञा ठाकुर दिग्विजय सिंह को हरा पाएंगी? आखिर किसको मिलेगी भोपाल की सीट।