बीजेपी विधायक के बिगड़े बोले, कहा बांग्लादेशी व रोहिंग्या न जाएं तो मार दो गोली

telangana bjp mla
बीजेपी विधायक के बिगड़े बोले, कहा बांग्लादेशी व रोहिंग्या न जाएं तो मार दो गोली

नई दिल्ली। एक तरफ जहां संसद में रोहिंग्या और बांग्लादेशियों को लेकर हंगामा मचा हुआ है, वही दूसरी तरफ तेलंगाना से भारतीय जनता पार्टी के विधायक ने इसको लेकर एक ऐसा बयान दे दिया, जिसने जिसने भी सुना उसके होश उड़ गए। हालाकि मामले ने तूल पकड़ा तो उक्त बीजेपी विधायक सफाई देते हुए नजर आए।

If Rohingyas And Bangladeshi Not Leave The Country Shoot Them Says Bjp Mla :

तेलंगाना के बीजेपी विधायक राजा सिंह ने कहा कि अगर रोहिंग्या और बांग्लादेशी अवैध प्रवासी भारत सम्मान के साथ नहीं छोड़ते हैं तो उन्हें गोली मार दी जानी चाहिए। राजा सिंह ने कहा कि देश को तभी सुरक्षित किया जा सकता है, जब ये लोग देश छोंड़कर बाहर चले जाएं। इससे पहले लोकसभा में गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को कहा कि रोहिंग्या की घुसपैठ को रोहने के लिए सीमा सुरक्षा बलों और असम राइफल्स को तैनात किया गया है। आगे उन्होने कहा कि इस मसले को लेकर राज्य सरकारों को एडवाइजरी भी जारी की गई है कि उनके यहां जो लोग आ चुके हैं, उनपर नजर रखे और उन्हे दूसरी जगह फैलने से रोंके। राज्य सरकार को भी यह अधिकार है कि वह उन्हें बाहर निकाले।

बता दें कि पिछले साल कट्टर रोहिंग्याओं की तरफ से म्यांमार में सुरक्षाबलों पर हमला किया गया था, ​जिसके बाद उन्हे वहां से खदेड़ दिया गया गया था। जिसके बाद काफी तादाद में वे लोग भागकर बांग्लादेश और अन्य देश चले गए थे। इस दौरान कुछ लोग भारत में भी दाखिल हो गए। हालाकि केन्द्र सरकार ने कहा कि रोहिंग्या भारत के लिए खतरा हैं, ​इसलिए इन लोगों को देश से निकालना बहुत ही जरूरी है।

 

नई दिल्ली। एक तरफ जहां संसद में रोहिंग्या और बांग्लादेशियों को लेकर हंगामा मचा हुआ है, वही दूसरी तरफ तेलंगाना से भारतीय जनता पार्टी के विधायक ने इसको लेकर एक ऐसा बयान दे दिया, जिसने जिसने भी सुना उसके होश उड़ गए। हालाकि मामले ने तूल पकड़ा तो उक्त बीजेपी विधायक सफाई देते हुए नजर आए।तेलंगाना के बीजेपी विधायक राजा सिंह ने कहा कि अगर रोहिंग्या और बांग्लादेशी अवैध प्रवासी भारत सम्मान के साथ नहीं छोड़ते हैं तो उन्हें गोली मार दी जानी चाहिए। राजा सिंह ने कहा कि देश को तभी सुरक्षित किया जा सकता है, जब ये लोग देश छोंड़कर बाहर चले जाएं। इससे पहले लोकसभा में गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को कहा कि रोहिंग्या की घुसपैठ को रोहने के लिए सीमा सुरक्षा बलों और असम राइफल्स को तैनात किया गया है। आगे उन्होने कहा कि इस मसले को लेकर राज्य सरकारों को एडवाइजरी भी जारी की गई है कि उनके यहां जो लोग आ चुके हैं, उनपर नजर रखे और उन्हे दूसरी जगह फैलने से रोंके। राज्य सरकार को भी यह अधिकार है कि वह उन्हें बाहर निकाले।बता दें कि पिछले साल कट्टर रोहिंग्याओं की तरफ से म्यांमार में सुरक्षाबलों पर हमला किया गया था, ​जिसके बाद उन्हे वहां से खदेड़ दिया गया गया था। जिसके बाद काफी तादाद में वे लोग भागकर बांग्लादेश और अन्य देश चले गए थे। इस दौरान कुछ लोग भारत में भी दाखिल हो गए। हालाकि केन्द्र सरकार ने कहा कि रोहिंग्या भारत के लिए खतरा हैं, ​इसलिए इन लोगों को देश से निकालना बहुत ही जरूरी है।