1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. आईजी की पत्नी साइबर क्राइम का शिकार, खाते से निकाले गये 1.37 लाख रुपये

आईजी की पत्नी साइबर क्राइम का शिकार, खाते से निकाले गये 1.37 लाख रुपये

By पर्दाफाश समूह 
Updated Date

अहमदाबाद । साइबर अपराधियों ने सूरत के आईजी राजकुमार पांडियन की पत्नी डॉ शालिनी के बैंक खाते से एक लाख 37 हजार रुपये उड़ा दिए। जालसाजों ने एक अनोखे तरीके का प्रयोग कर शालिनी के बैंक खाते की डिटेल और ओटीपी नंबर हासिल कर लिया जिसके बाद उनके खाते में सेंध लगा दी।


साइबर सेल की टीम ने इस तरह की धोखाधड़ी के लिए बैंकों को जिम्मेदार ठहराते हुए उन्हें चि_ी लिखी है। उन्होंने कहा है कि बैंक सिर्फ ओटीपी वेरिफिकेशन करके ही ट्रांजैक्शन प्रक्रिया को आगे न बढ़ाए बल्कि उन्हें कस्टमर्स को फोन कर यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वह प्रकिया को आगे बढ़ाना चाहता है कि नहीं।

साइबर सेल के अधिकारियों ने बताया कि डॉ शालिनी ने रविवार को मुकदमा दर्ज करवाया है। इसके मुताबिक शालिनी 27 मार्च को एक सैलून में गई थीं पर वहां की सर्विस से संतुष्ट नहीं थीं। वह अपने पैसे वापस चाहती थीं। इसके लिए उन्होंने ऑनलाइन कंप्लेंट ्रफॉर्म की तलाश की तो उन्हें गूगल पर एक लिंक मिला। जब उन्होंने इस लिंक को ओपन किया तो वहां शिकायत दर्ज कराने संबंधी पेज दिखा। उन्होंने वहां अपनी शिकायत दर्ज की और ईमेल आईडी समेत अन्?य जानकारी देते हुए फॉर्म सबमिट कर दिया।

उसी दिन शाम को शालिनी के पास एक युवक का फोन आता है। राहुल सक्सेना नाम का यह शख्स खुद को सलून का कर्मचारी बताता है और शालिनी को हुई असुविधा के लिए माफी मांगता है। वह बताता है कि सलून शालिनी द्वारा चुकाए गए तीन हजार रुपये वापस कर देगा साथ ही उन्हें हुई दिक्कत के लिए दस हजार रुपये का मुआवजा भी दिया जाएगा। राहुल ने शालिनी से कहा कि चूंकि उसकी कंपनी कैश या वाउचर के रूप में उन्हें पैसा नहीं दे पाएगी इसलिए वह अपने बैंक खाते का डिटेल भेज दें।

अधिकारी ने बताया कि एक प्राइवेट यूनिवर्सिटी में प्रफेसर डॉ शालिनी युवक के झांसे में आ गईं। थोड़ी ही देर में उनके मोबाइल पर एक के बाद एक करके चार ओटीपी नंबर आए। यह देखकर उन्हें शक हुआ और उन्होंने बैंक के कस्टमर केयर को फोन कर सुनिश्चित किया कि कहीं उनके खाते से पैसे तो नहीं निकल गए। अगले दिन 28 मार्च को रोहन ने दोबारा शालिनी को फोन किया और बताया कि उन्हें सलून की तरफ से 13 हजार रुपये मिल गए हैं।

इसलिए वह उन्हें ओटीपी नंबर बता दें ताकि उनके बैंक खाते में पैसा ट्रांसफर किया जा सके। डॉ शालिनी ने तुरंत रोहन को ओटीपी नंबर दे दिया। थोड़ी ही देर बाद उनके खाते से एक लाख 37 हजार रुपये निकलने का मेेसेज आया जिसे देख उनके होश उड़ गए।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...