1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. योगी सरकार के आदेशों की धज्जियां उड़ा रहा है इमाकुलेट कॉन्वेट कनसप्शन स्कूल, अभिभावक परेशान

योगी सरकार के आदेशों की धज्जियां उड़ा रहा है इमाकुलेट कॉन्वेट कनसप्शन स्कूल, अभिभावक परेशान

कोरोना काल में जहां आम आदमी की कमर टूट गई है। इसको देखते हुए यूपी की योगी सरकार ने प्रदेश के प्राइवेट स्कूलों में वर्तमान शैक्षिक सत्र 2021-22 में भी फीस बढ़ोत्तरी न करने का फरमान जारी कर चुकी है। शासनादेश के मुताबिक निजी स्कूल वर्ष 2019-20 में निर्धारित की गई फीस ही ले सकेंगे।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। कोरोना काल में जहां आम आदमी की कमर टूट गई है। इसको देखते हुए यूपी की योगी सरकार ने प्रदेश के प्राइवेट स्कूलों में वर्तमान शैक्षिक सत्र 2021-22 में भी फीस बढ़ोत्तरी न करने का फरमान जारी कर चुकी है। शासनादेश के मुताबिक निजी स्कूल वर्ष 2019-20 में निर्धारित की गई फीस ही ले सकेंगे।

पढ़ें :- शारदीय नवरात्रों को लेकर सीएम योगी ने जारी किया सख्त निर्देश

इसके साथ ही स्कूलों को सख्त निर्देश दिए गए हैं कि जब तक विद्यालय परिसर में भौतिक रूप से उपस्थित होकर विद्यार्थी परीक्षा न दें। तब तक उनसे परीक्षा शुल्क न वसूला जाए। आनलाइन परीक्षा के नाम पर शुल्क वसूलने पर कार्रवाई की जाएगी। वहीं विद्यालय बंद रहने की अवधि में अभिभावकों से एडमीशन शुल्क, कंप्यूटर शुल्क, क्रीड़ा, प्रयोगशाला, लाइब्रेरी और वार्षिक समारोह का शुल्क भी नहीं ले सकेंगे।

सरकार के आदेशों की काट ढूढ़ते हुए राजधानी गोमतीनगर विनीत खण्ड स्थित इमाकुलेट कॉन्वेट कनसप्शन स्कूल विभिन्न मदों जैसे कंप्यूटर शुल्क, क्रीड़ा, प्रयोगशाला, लाइब्रेरी शुल्क आदि का कहने को तो खत्म कर दिया है, लेकिन इस सबको मर्ज करते हुए टयूशन फीस में गई गुना बढ़ोत्तरी कर दी है।

उदाहरण के तौर पर बताते चलें कि शैक्षिक 2019-20 में कक्षा आठ की दो माह की फीस 4100 रुपये थी। इसके अलावा इमाकुलेट कॉन्वेट कनसप्शन स्कूल रि-न्यू एडमीशन 4700 रुपये और दो माह की कम्प्यूटर फीस 300 रुपये व टर्म फीस साल में दो बार में 1900-1900 रुपये वसूलता था। बीते वर्ष जिन अभिभावकों ने दबाव डाला तो उनके बच्चे का रि-न्यू एडमीशन चार्ज व कम्प्यूटर फीस को माफ कर दिया था। इसके बाद बच्चों से टयूशन फीस व टर्म फीस ही ली थी।

लेकिन इस बार प्रदेश की योगी सरकार व अभिभावकों की आंखों में धूल झोंकते हुए गोमतीनगर विनीत खण्ड स्थित इमाकुलेट कॉन्वेट कनसप्शन स्कूल ने अधिक फीस वसूली का नया फार्मूला तैयार कर ​दिया है। जिसके तहत कहने को तो किसी भी मद में फीस की वसूली भी नहीं कर रहा है। इन सभी शुल्क को हर दो माह पर वसूली जाने वाली फीस में मर्ज कर दिया है। इस वर्ष कक्षा आठ की फीस दो माह की 5845 रुपये कर दी गयी है।

पढ़ें :- IILM 17th Academy Convocation 2022 : प्रो. मनोज दीक्षित ने मेधावियों को दिया मंत्र 'पढ़ें, कमाएं और लौटाऐं'

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...