भारत के नागरिकता कानून से बौखलाए इमरान खान, दी परमाणु युद्ध की धमकी

imran khan
भारत के नागरिकता कानून से बौखलाए इमरान खान, दी परमाणु युद्ध की धमकी

नई दिल्ली। भारत ने जब जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाया था तब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान काफी बौखला गये थे और भारत को गीदड़ भभकी देने लगे थे। यही नही उन्होने पूरी दुनिया के सामने में भी इसका रोना रोया लेकिन उनका किसी भी देश ने समर्थन नही किया था। एकबार फिर जब भारत में नागरिकता कानून में संसोधन हुआ तो इमरान खान डर गये और अब भारत को परमाणु युद्ध की धमकी देने लगे।

Imran Khan Intimidated By Indias Citizenship Law Threatens Nuclear War :

इमरान खान ने यह धमकी जेनेवा में ग्लोबल रेफ्यूजी फोरम से दी है। इस दौरान नागरिकता कानून संसोधन पर बोलते हुए कहा कि इससे दक्षिण एशिया में ना केवल शरणार्थियों की समस्या पैदा हो जाएगी बल्कि ये परमाणु संपन्न शक्ति देशों के बीच संघर्ष को भी जन्म दे सकता है। इमरान ने भारत पर आरोप लगाया कि भारत कश्मीर की मुस्लिम बहुल जनसांख्यिकी को बदलने की कोशिश कर रहा है।

इमरान खान ने इस दौरान जम्मू कश्मीर से हटाये गये आर्टिकल 370 का भी जिक्र किया और कहा कि कश्मीर में कर्फ्यू और नए नागरिकता कानून की वजह से लाखों मुस्लिम भारत से भाग सकते हैं। उनका कहना है कि इस वजह से रिफ्यूजी संकट पैदा हो सकता है। इमरान का कहना है कि अगर यह संकट पैदा हुआ तो सारी समस्याएं बौनी हो जाएंगी। एकबार फिर उन्होने यह मुददा दुनिया के सामने उठाने की बात कही है, उनका कहना है कि अगर दुनिया भारत सरकार को ऐसे कदम उठाने से रोकती है तो हम इस संकट को टाल सकते हैं। इमरान खान ने कहा कि उनका देश और शरणार्थियों का बोझ वहन नहीं कर सकता है।

नई दिल्ली। भारत ने जब जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाया था तब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान काफी बौखला गये थे और भारत को गीदड़ भभकी देने लगे थे। यही नही उन्होने पूरी दुनिया के सामने में भी इसका रोना रोया लेकिन उनका किसी भी देश ने समर्थन नही किया था। एकबार फिर जब भारत में नागरिकता कानून में संसोधन हुआ तो इमरान खान डर गये और अब भारत को परमाणु युद्ध की धमकी देने लगे। इमरान खान ने यह धमकी जेनेवा में ग्लोबल रेफ्यूजी फोरम से दी है। इस दौरान नागरिकता कानून संसोधन पर बोलते हुए कहा कि इससे दक्षिण एशिया में ना केवल शरणार्थियों की समस्या पैदा हो जाएगी बल्कि ये परमाणु संपन्न शक्ति देशों के बीच संघर्ष को भी जन्म दे सकता है। इमरान ने भारत पर आरोप लगाया कि भारत कश्मीर की मुस्लिम बहुल जनसांख्यिकी को बदलने की कोशिश कर रहा है। इमरान खान ने इस दौरान जम्मू कश्मीर से हटाये गये आर्टिकल 370 का भी जिक्र किया और कहा कि कश्मीर में कर्फ्यू और नए नागरिकता कानून की वजह से लाखों मुस्लिम भारत से भाग सकते हैं। उनका कहना है कि इस वजह से रिफ्यूजी संकट पैदा हो सकता है। इमरान का कहना है कि अगर यह संकट पैदा हुआ तो सारी समस्याएं बौनी हो जाएंगी। एकबार फिर उन्होने यह मुददा दुनिया के सामने उठाने की बात कही है, उनका कहना है कि अगर दुनिया भारत सरकार को ऐसे कदम उठाने से रोकती है तो हम इस संकट को टाल सकते हैं। इमरान खान ने कहा कि उनका देश और शरणार्थियों का बोझ वहन नहीं कर सकता है।