जा सकती है इमरान की कुर्सी, सरकार के खिलाफ निकला आजादी मार्च पहुंच गया इस्लामाबाद

pakistan
जा सकती है इमरान की कुर्सी, सरकार के खिलाफ निकला आजादी मार्च पहुंच गया इस्लामाबाद

नई दिल्ली। पाकिस्तान की इमरान सरकार पर संकट के और बादल चढ़ चुके हैं। पाकिस्तान का पूरा विपक्ष एक साथ मिलकर सरकार के खिलाफ आजादी मार्च में शामिल हो गया है। यही नही विपक्ष् द्वारा निकाले गये इस आजादी मार्च में काफी जनता भी बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रही है। पाकिस्तान के पीएम इमरान खान का इस्तीफा मांगने के लिए आजादी मार्च आज इस्लामाबाद भी पहुंच गया है।

Imrans Chair Can Go Independence March Against Government Reached Islamabad :

आपको बता दें कि आजादी मार्च 27 अक्टूबर से पाकिस्तान के सबसे बड़े धार्मिक गुट जमीयत-उल-इस्लाम की अगुवाई में निकाला गया है, इस गुट के प्रमुख फजलुर्रहमान कर रहे हैं। यह आजादी मार्च करांची से निकला था, इमरान सरकार ने इसे रोकने के लिए भरपूर प्रयास किये, सड़को पर गढ़े तक खुदवा दिये लेकिन यह मार्च नही रूका और आज इस्लामाबाद तक पंहुच गया।

पाकिस्तान में जबसे इमरान सरकार आयी है तभी से देश में आर्थिक तंगी, बेरोजगारी, गरीबी, महंगाई आ गयी थी और पकिस्तान के अन्य देशों से रिश्ते खराब होने के चलते किसी देश से ज्यादा मदद भी नही मिल रही है। यही नही देश के अन्दर भी आपसी युद्ध चल रहा है। पाकिस्तान के लोगों में जिस तरह से सरकार के प्रति नाराजगी बनी हुई है उससे यही लग रहा है कि जल्द ही यहां पर तख्ता पलट हो सकता है। बताया जा रहा है कि आज का जुमा इमरान के लिए बुरी खबर ले कर आ सकता है।

नई दिल्ली। पाकिस्तान की इमरान सरकार पर संकट के और बादल चढ़ चुके हैं। पाकिस्तान का पूरा विपक्ष एक साथ मिलकर सरकार के खिलाफ आजादी मार्च में शामिल हो गया है। यही नही विपक्ष् द्वारा निकाले गये इस आजादी मार्च में काफी जनता भी बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रही है। पाकिस्तान के पीएम इमरान खान का इस्तीफा मांगने के लिए आजादी मार्च आज इस्लामाबाद भी पहुंच गया है। आपको बता दें कि आजादी मार्च 27 अक्टूबर से पाकिस्तान के सबसे बड़े धार्मिक गुट जमीयत-उल-इस्लाम की अगुवाई में निकाला गया है, इस गुट के प्रमुख फजलुर्रहमान कर रहे हैं। यह आजादी मार्च करांची से निकला था, इमरान सरकार ने इसे रोकने के लिए भरपूर प्रयास किये, सड़को पर गढ़े तक खुदवा दिये लेकिन यह मार्च नही रूका और आज इस्लामाबाद तक पंहुच गया। पाकिस्तान में जबसे इमरान सरकार आयी है तभी से देश में आर्थिक तंगी, बेरोजगारी, गरीबी, महंगाई आ गयी थी और पकिस्तान के अन्य देशों से रिश्ते खराब होने के चलते किसी देश से ज्यादा मदद भी नही मिल रही है। यही नही देश के अन्दर भी आपसी युद्ध चल रहा है। पाकिस्तान के लोगों में जिस तरह से सरकार के प्रति नाराजगी बनी हुई है उससे यही लग रहा है कि जल्द ही यहां पर तख्ता पलट हो सकता है। बताया जा रहा है कि आज का जुमा इमरान के लिए बुरी खबर ले कर आ सकता है।