1. हिन्दी समाचार
  2. भारतीय सेना के पराक्रम के आगे चीन के कैमरे-सेंसर फेल, सेना ने यूं ऊंचाई पर किया कब्जा

भारतीय सेना के पराक्रम के आगे चीन के कैमरे-सेंसर फेल, सेना ने यूं ऊंचाई पर किया कब्जा

In Front Of The Might Of The Indian Army Chinas Camera Censors Failed The Army Captured Such A Height

By शिव मौर्या 
Updated Date

लद्दाख। भारतीय सीमा में घुसपैठ की कोशिश कर रहा चीन हर बार नाकाम हो जा रहे हैं। भारतीय सैनिकों के साहस और पराक्रम के आगे चीनी सैनिक घुटने टेक दे रहे हैं। चीनी सेना की घुसपैठ के दो दिन बाद लद्दाख सीमा को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। सूत्रों की माने तो पेंगोंग त्सो झील के दक्षिणी किनारे को भारत ने अपने अधिकार क्षेत्र में ले लिया है। यहां की कई चोटियों पर भारतीय सेना के जवान तैनात हैं।

पढ़ें :- सुशांत सिंह केस: मीरा चोपड़ा ने ट्वीट कर कह दी ऐसी बात, फैंस हो गए भावुक

सूत्रों ने बताया कि सेना ने मुश्किल माने जाने वाले स्पांगुर गैप, स्पांगुर झील और इसके किनारे चीन द्वारा बनाई गई सड़क पर भी अपना कैंप स्थापित किया है। पेंगोंग त्सो झील के दक्षिणी किनारे के पास स्थित ऊंचाई वाले स्थानों पर चीनी सेना ने कैमरा और निगरानी उपकरण लगाए हुए थे, लेकिन फिर भी भारत के शूरवीर जवानों ने पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के सैनिकों से पहले इलाके को अपने अधिकार में कर लिया।

बताया जा रहा है कि चीनी सेना ने ऊंचाई पर भारतीय गतिविधियों पर नजर रखने के लिए उन्नत कैमरे और निगरानी उपकरण तैनात किए, लेकिन इसके बावजूद भारतीय सेना वहां ऊंचाई वाले इलाके को अपने अधिकार में करने में कामयाब हुई। बताया जा रहा है कि जब भारतीय सेना ने इन ऊंचाई वाले क्षेत्रों को अपने अधिकार में लिया, तो चीन ने धीरे से कैमरों और निगरानी उपकरणों को अपने क्षेत्रों से हटा लिया।

चीन दावा करता रहा है कि ऊंचाई वाले क्षेत्र उसके हैं। साथ ही वह इस क्षेत्र में कब्जा जमाना चाहता है, ताकि उसे पेंगोंग झील के दक्षिणी किनारे और निकटवर्ती स्पंगुर गैप तक बढ़त मिल जाए। इस इलाके में चीन ने अपने बख्तरबंद रेजिमेंट तैनात किए हुए हैं। सूत्रों ने बताया कि भारतीय पक्ष ने एक विशेष ऑपरेशन यूनिट और सिख लाइट इन्फैंट्री सैनिकों सहित अपने अन्य सैनिकों द्वारा चीन की कार्रवाई के खिलाफ उसे कड़ा जवाब देने के लिए अच्छी तैयारी की हुई है।

पढ़ें :- एसएसपी को फोनकर दी गोरखनाथ मंदिर को उड़ाने की धमकी, कड़ी की गई मंदिर की सुरक्षा व्‍यवस्‍था

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...