इंटरनेट के मामले में भारत दुनिया में सबसे आगे, 2024 तक इतना बढ़ सकता है उपयोग

internet most useful in india
इंटरनेट के मामले में भारत दुनिया में सबसे आगे, 2024 तक इतना बढ़ सकता है उपभोग

नई दिल्ली। आज विदेशों से लेकर देशभर में इंटरनेट का इस्तेमाल काफी तेज़ी से हो रहा है। इस मामले में इंटरनेट का सबसे ज़्यादा उपयोग करने वाला देश भारत बताया गया है। इस बात की जानकारी जून 2019 में आई एरिक्सन मोबिलिटी रिपोर्ट से मिली है। रिपोर्ट में बताया गया कि 2018 के अंत तक हर महीने प्रति स्मार्टफोन में औसतन 9.8 जीबी डाटा का उपयोग होने लगा था और आने वाले साल 2024 तक यह उपभोग बढ़कर दोगुना होने वाला है। इंटरनेट का इस्तेमाल अगर 2018 में एक ग्राहक 9.8 जीबी हर महीने खर्च कर रहा है तो 2024 तक सालाना 11 फीसदी की रफ्तार से बढ़कर 18 जीबी तक पहुंच सकता है।

In The Case Of Internet India Can Grow In The Forefront Of The World By 2024 :

रिपोर्ट के अनुसार बताया गया कि जब भारत में 5जी का ट्रायल शुरू हुआ तब भारतीय स्मार्टफोन के ग्राहक भविष्य की 5जी सेवाओं के लिए 66 फीसदी से अधिक प्रीमियम का भुगतान करने को तैयार हो गए। वहीं, ये भी बताया गया कि 2024 तक इंडियन रीजन (भारत, नेपाल और भूटान) में स्मार्टफोन ग्राहकों की संख्या सालाना 11 फीसदी की रफ्तार से बढ़कर 1.1 अरब पहुंच सकती है।

साथ ही ये भी कहा गया कि वर्तमान में 61 करोड़ से ज़्यादा लोग मोबाइल ब्रॉडबैंड का इस्तेमाल कर रहें हैं। जिसकी वजह से आने वाले साल 2024 में इसकी संख्या बढ़कर 1.25 अरब हो जाएगी। इंटरनेट कि स्पीड तेज होने के कारण लोगों को फोन पर लाइव वीडियो देखना ज्यादा पसंद आ रहा है। कहा जा रहा है कि 5जी आने के बाद इसमें जबरदस्त उछाल आएगा।

नई दिल्ली। आज विदेशों से लेकर देशभर में इंटरनेट का इस्तेमाल काफी तेज़ी से हो रहा है। इस मामले में इंटरनेट का सबसे ज़्यादा उपयोग करने वाला देश भारत बताया गया है। इस बात की जानकारी जून 2019 में आई एरिक्सन मोबिलिटी रिपोर्ट से मिली है। रिपोर्ट में बताया गया कि 2018 के अंत तक हर महीने प्रति स्मार्टफोन में औसतन 9.8 जीबी डाटा का उपयोग होने लगा था और आने वाले साल 2024 तक यह उपभोग बढ़कर दोगुना होने वाला है। इंटरनेट का इस्तेमाल अगर 2018 में एक ग्राहक 9.8 जीबी हर महीने खर्च कर रहा है तो 2024 तक सालाना 11 फीसदी की रफ्तार से बढ़कर 18 जीबी तक पहुंच सकता है। रिपोर्ट के अनुसार बताया गया कि जब भारत में 5जी का ट्रायल शुरू हुआ तब भारतीय स्मार्टफोन के ग्राहक भविष्य की 5जी सेवाओं के लिए 66 फीसदी से अधिक प्रीमियम का भुगतान करने को तैयार हो गए। वहीं, ये भी बताया गया कि 2024 तक इंडियन रीजन (भारत, नेपाल और भूटान) में स्मार्टफोन ग्राहकों की संख्या सालाना 11 फीसदी की रफ्तार से बढ़कर 1.1 अरब पहुंच सकती है। साथ ही ये भी कहा गया कि वर्तमान में 61 करोड़ से ज़्यादा लोग मोबाइल ब्रॉडबैंड का इस्तेमाल कर रहें हैं। जिसकी वजह से आने वाले साल 2024 में इसकी संख्या बढ़कर 1.25 अरब हो जाएगी। इंटरनेट कि स्पीड तेज होने के कारण लोगों को फोन पर लाइव वीडियो देखना ज्यादा पसंद आ रहा है। कहा जा रहा है कि 5जी आने के बाद इसमें जबरदस्त उछाल आएगा।