बदलते मौसम में सर्दी जुखाम की समस्या से होते हैं परेशान, इस्तेमाल करें ये गजब के घरेलू नुस्खे

COLD

मानसून आते ही सर्दी जुखाम की समस्या बार-बार सताने लगती है। इतना ही नहीं इससे जुडी कई तरह की बीमारियां समस्या बनने लगती हैं। कुछ लोगों को मौसम बदलने के कारण एलर्जी की कई लोग इससे बचने के लिए कई समस्या भी होती है। इसके कारण गले में खराश होने लगती है।

In The Changing Season People Are Troubled By The Problem Of Cold :

कई लोग इससे बचने के लिए कई तरह की दवा का सेवन भी करतें हैं लेकिन आयुर्वेदिक औषधि इन समस्याओं का जड़ से इलाज करती हैं. इन मौसमी बीमारियों का इलाज आप घर पर ही कर सकते हैं।

आपके घर में ऐसी बहुत सारी चीजें हैं, जो आपके इलाज में काम आती हैं। इनमें काली मिर्च और गुड़ का सेवन सबसे ज्यादा फायदेमंद होता है। आपको बता दें, काली मिर्च और गुड़ सबसे अचूक आयुर्वेदिक औषधि माने जाते हैं, आइए इनके फायदों के बारे में जानते हैं…

वजन कम करने में सहायक

काली मिर्च वजन कम करने में भी मददगार होती है. डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला के अनुसार, इसमें फाइटोन्यूट्रिएंट्स होते हैं, जो अतिरिक्त वसा को तोड़ने का काम करते हैं. इसके साथ ही मेटाबॉलिज्म को भी बेहतर करती है.

भूख बढ़ाने में सहायक

कुछ अध्ययनों में यह पता चला है कि काली मिर्च भूख बढ़ाने का काम भी करती है. जिन लोगों को अक्सर भूख न लगने की समस्या होती है, उन्हें काली मिर्च का सेवन करना चाहिए. यदि एक चम्मच काली मिर्च के साथ गुड़ का सेवन करेंगे तो इससे भूख बढ़ेगी.

काली मिर्च और गुड़ खांसी में है लाभदायक 

सर्दी-जुकाम और खांसी में काली मिर्च और गुड़ सेवन फायदा पहुंचाता है. काली मिर्च के पाउडर में गुड़ मिलाकर दिनभर चूसने से गले की खराश दूर होती है. डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला बताते हैं कि काली मिर्च में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं, जो सर्दी-खांसी में राहत देने का काम करते हैं. काली मिर्च से इंफेक्शन की समस्या भी दूर होती हैं. एक अध्ययन के अनुसार, काली मिर्च के सेवन से मच्छरों से होने वाली संक्रामक बीमारियों से भी बचा जा सकता है.

मानसून आते ही सर्दी जुखाम की समस्या बार-बार सताने लगती है। इतना ही नहीं इससे जुडी कई तरह की बीमारियां समस्या बनने लगती हैं। कुछ लोगों को मौसम बदलने के कारण एलर्जी की कई लोग इससे बचने के लिए कई समस्या भी होती है। इसके कारण गले में खराश होने लगती है। कई लोग इससे बचने के लिए कई तरह की दवा का सेवन भी करतें हैं लेकिन आयुर्वेदिक औषधि इन समस्याओं का जड़ से इलाज करती हैं. इन मौसमी बीमारियों का इलाज आप घर पर ही कर सकते हैं। आपके घर में ऐसी बहुत सारी चीजें हैं, जो आपके इलाज में काम आती हैं। इनमें काली मिर्च और गुड़ का सेवन सबसे ज्यादा फायदेमंद होता है। आपको बता दें, काली मिर्च और गुड़ सबसे अचूक आयुर्वेदिक औषधि माने जाते हैं, आइए इनके फायदों के बारे में जानते हैं...

वजन कम करने में सहायक

काली मिर्च वजन कम करने में भी मददगार होती है. डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला के अनुसार, इसमें फाइटोन्यूट्रिएंट्स होते हैं, जो अतिरिक्त वसा को तोड़ने का काम करते हैं. इसके साथ ही मेटाबॉलिज्म को भी बेहतर करती है.

भूख बढ़ाने में सहायक

कुछ अध्ययनों में यह पता चला है कि काली मिर्च भूख बढ़ाने का काम भी करती है. जिन लोगों को अक्सर भूख न लगने की समस्या होती है, उन्हें काली मिर्च का सेवन करना चाहिए. यदि एक चम्मच काली मिर्च के साथ गुड़ का सेवन करेंगे तो इससे भूख बढ़ेगी.

काली मिर्च और गुड़ खांसी में है लाभदायक 

सर्दी-जुकाम और खांसी में काली मिर्च और गुड़ सेवन फायदा पहुंचाता है. काली मिर्च के पाउडर में गुड़ मिलाकर दिनभर चूसने से गले की खराश दूर होती है. डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला बताते हैं कि काली मिर्च में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं, जो सर्दी-खांसी में राहत देने का काम करते हैं. काली मिर्च से इंफेक्शन की समस्या भी दूर होती हैं. एक अध्ययन के अनुसार, काली मिर्च के सेवन से मच्छरों से होने वाली संक्रामक बीमारियों से भी बचा जा सकता है.