1. हिन्दी समाचार
  2. राजनीति
  3. तीनों विधेक किसानों के हित में, कांग्रेस काम हमेशा राजनीति करना : जेपी नड्डा

तीनों विधेक किसानों के हित में, कांग्रेस काम हमेशा राजनीति करना : जेपी नड्डा

In The Interest Of All The Three Farmers Congress Should Always Do Politics Jp Nadda

By सोने लाल 
Updated Date

नई दिल्ली। किसानों के कल्याण को ध्यान में रखते हुए संसद के समक्ष तीन बिल (विधेयक) लाए गए हैं। इन विधेयकों पर जानकारी देते हुए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। नड्डा ने बताया कि सरकार किसानों के हित में तीन विधेयक लेकर आई है। इन विधेयकों को कृषि क्षेत्र में निवेश बढ़ाने के लिए लाया गया है। उन्होंने कहा कि पहले इन विधेयकों का कांग्रेस द्वारा समर्थन किया जा रहा था, लेकिन अब इस पर राजनीति की जा रही है।

पढ़ें :- यूपी में उपचुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, अन्नू टंडन ने पार्टी से दिया इस्तीफा

‘फॉर्मर्स प्रोड्यूस ट्रेड एंड कॉमर्स’ सुविधाजनक तरीके से किसान अपने उत्पाद को बेच सके इसकी व्यवस्था है। अभी उत्पाद अनाज मंडी के जरिए ही बेचा जाता है, ये सुविधा देता है कि अनाज मंडी से बाहर भी आप बेच सकते हैं और अपने दाम को तय कर सकते हैं।

नड्डा ने कहा, तीनों बिल किसान के पक्ष में हैं और इनमें किसान को बाज़ार में दाम मिलने में जितनी भी रूकावटें थीं उनको दूर करने का प्रयास किया गया है। आज कांग्रेस इनका विरोध कर रही है। हर चीज में इनका (कांग्रेस) काम हमेशा राजनीति करना है, कांग्रेस को सिवाय राजनीति के और कुछ नहीं आता।

कृषि अध्यादेश किसान हितों के विरूद्ध, आवश्यक वस्तु(संशोधन) कानून को देंगे चुनौती: कैप्टन

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने लोकसभा में पारित कृषि सम्बन्धित विधेयकों को केंद्र का कथित तौर पर किसान हितों पर सीधा और जानबूझ कर किया गया हमला करार दिया है। इसके अलावा उन्होंने लोकसभा में पारित आवश्यक बस्तु (संशोधन) अधिनियम को अदालत में चुनौती देने की भी बात कही है।

कैप्टन अमरिंदर ने लोकसभा में पारित उक्त विधेयकों को लेकर आज यहां जारी अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि केंद्र सरकार , जिसमें शिरोमणि अकाली दल भी एक घटक है, ने किसानों की चिंताओं को पूरी तरह दरकिनार कर राज्यों से जुड़े मुद्दों पर केंद्रीय कानून थोप दिया है जिससे देश के संघीय ढांचे को धक्का लगा है। उन्होंने कहा कि हम इस कानून को अदालत में चुनौती देंगे।

पढ़ें :- मायावती का बड़ा ऐलान, कहा-सपा को हराने के लिए भाजपा का साथ देना पड़े तो देंगे

उन्होंने कहा कि कांग्रेस किसी कीमत पर किसान हितों पर कुठाराधात नहीं होने देगी। उन्होंने कहा कि यह कानून सीधे तौर पर न्यूनतम समर्थन मूल्य(एमएसपी) व्यवस्था को समाप्त करने वाला कदम है। उन्होंने ऐलान किया कि राज्य के हितों पर किये गए हमले के विरुद्ध कांग्रेस पाटीर् आर-पार की लड़ाई लड़ेगी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...