1. हिन्दी समाचार
  2. बीते 24 घंटे में 1.36 लाख नमूनों की जांच कर 60 लाख के आंकड़े तक पहुंचा स्वास्थ्य विभाग…

बीते 24 घंटे में 1.36 लाख नमूनों की जांच कर 60 लाख के आंकड़े तक पहुंचा स्वास्थ्य विभाग…

In The Last 24 Hours The Health Department Reached 1 60 Million Figures By Examining 1 36 Lakh Samples

By आराधना शर्मा 
Updated Date

लखनऊ: कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए तेजी से जांच करने में लगे उत्तर प्रदेश ने एक और उपलब्धि हासिल की है। यूपी 60 लाख से अधिक कोरोना टेस्ट करने वाला देश का पहला राज्य बन गया है। प्रदेश ने बीते चौबीस घंटे में एक बार फिर एक लाख से अधिक जांच कर यह रिकार्ड बनाया है।

पढ़ें :- दिवाली, छठ पर घर पहुंचना होगा मुश्किल, 25 अक्टूबर से 10 दिसंबर तक यूपी-बिहार की ट्रेनों में कोई जगह नहीं

अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद के मुताबिक बीते 24 घंटों में विभिन्न प्रयोगशालाओं में कुल 1,36,803 कोरोना नमूनों की जांच की गई। इसको शामिल करते हुए राज्य में कुल जांच का आंकड़ा 60 लाख पार कर गया है। प्रदेश में अब तक 60,50,450 कोरोना नमूनों की जांच हो चुकी है। इस उपलब्धि के पीछे योगी सरकार का प्रयोगशालाओं की संख्या में लगातार इजाफा करना वजह है।

कोरोना की जांच को सुगम बनाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीते सोमवार को ही प्रदेश में 13 नयी बायोसेफ्टी सेकेण्ड जेनरेशन (बीएसएल-2) प्रयोगशालाओं का शुभारम्भ किया था। इनमें से 10 प्रयोगशालाएं विभिन्न राजकीय मेडिकल कॉलेजों में और तीन प्रयोगशालाएं निजी मेडिकल कॉलेजों में स्थापित की गई हैं। इन प्रयोगशालाओं में प्रतिदिन लगभग 05 हजार टेस्ट किए जा रहे हैं।

राजकीय मेडिकल कालेजों में प्रयोगशालाएं स्थापित होने के बाद सभी मण्डल मुख्यालयों में लैब स्थापना का कार्य सम्पन्न हो गया है। अब प्रत्येक जनपद में आरटीपीसीआर की बीएसएल-2 प्रयोगशालाएं स्थापित करने की तैयारी है। खास बात है कि यह प्रयोगशालाएं कोविड-19 सहित सभी वेक्टर जनित रोगों से लड़ने में सहायक होंगी।

पढ़ें :- हाथरस गैंगरेप पीड़िता ने उपचार के दौरान विवेचक के सामने कई बार बदले बयान, मेडिकल रिपोर्ट में रेप की पुष्टि नहीं : पुलिस

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...