1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. मन की बात कार्यक्रम में पीएम मोदी ने दिया कोरोना से लड़ाई का मंत्र, कहा-‘दवाई के साथ कड़ाई भी’

मन की बात कार्यक्रम में पीएम मोदी ने दिया कोरोना से लड़ाई का मंत्र, कहा-‘दवाई के साथ कड़ाई भी’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' के जरिए राष्ट्र को संबोधित किए। मन की बात में पीएम मोदी ने पिछले साल लगाए गए जनता कर्फ्यू से लेकर कोरोना टीकाकरण का जिक्र किया। पीएम मोदी ने कहा कि पिछले वर्ष ये मार्च का ही महीना था, देश ने पहली बार जनता कर्फ्यू शब्द सुना था। लेकिन इस महान देश की महान प्रजा की महाशक्ति का अनुभव देखिये, जनता कर्फ्यू पूरे विश्व के लिए एक अचरज बन गया था।

By शिव मौर्या 
Updated Date

In The Mann Ki Baat Program Pm Modi Gave The Mantra To Fight With Corona Said Kadai Ki Kardai Bhi

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ के जरिए राष्ट्र को संबोधित किए। मन की बात में पीएम मोदी ने पिछले साल लगाए गए जनता कर्फ्यू से लेकर कोरोना टीकाकरण का जिक्र किया। पीएम मोदी ने कहा कि पिछले वर्ष ये मार्च का ही महीना था, देश ने पहली बार जनता कर्फ्यू शब्द सुना था। लेकिन इस महान देश की महान प्रजा की महाशक्ति का अनुभव देखिये, जनता कर्फ्यू पूरे विश्व के लिए एक अचरज बन गया था।

पढ़ें :- खुशखबरी : देश में अब मुफ्त टीकाकरण, Co-Win पर पंजीकरण की अनिवार्य खत्म,न करें देर

अनुशासन का ये अभूतपूर्व उदाहरण था, आने वाली पीढ़ियां इस एक बात को लेकर के जरूर गर्व करेंगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इन सबके बीच कोरोना से लड़ाई का मंत्र ‘दवाई भी-कड़ाई भी’ जरुर याद रखिए। मन की बात के जरिए पीएम ने कहा कि यहां के लोग दुनिया के किसी भी कोने में जाते हैं तो वह गर्व से कहते हैं हम भारतीय है।

हम अपने योग, आयुवेर्द , दर्शन क्या कुछ नहीं है हमारे पास, जिसके लिए हम गर्व करते हैं। हमें नया तो पाना है, लेकिन साथ-साथ पुरातन गंवाना भी नहीं है। हमें बहुत परिश्रम के साथ अपने आस-पास मौजूद अथाह सांस्कृतिक धरोहर का संवर्धन करना है, नई पीढ़ी तक पहुचाना है। इसके साथ ही पीएम ने कहा कि कृषि में आधुनिक पद्धतियां समय की जरूरत हैं, हमने पहले ही बहुत समय गंवा दिया है।

मन की बात में पीएम मोदी ने अमृत महोत्व का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि अमृत महोत्सव दांडी यात्रा के दिन से शुरू हुआ था और 15 अगस्त 2023 तक चलेगा। ‘अमृत महोत्सव’ से जुड़े कार्यक्रम पूरे देश में लगातार हो रहे हैं, अलग-अलग जगहों से इन कार्यक्रमों की तस्वीरें, जानकारियां लोग शेयर कर रहे हैं। इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि, अभी कुछ दिन पहले हमने विश्व गोरैया दिवस मनाया।

कहीं इसे चकली बोलते हैं, कहीं चिमनी बोलते हैं, कहीं घान चिरिका कहा जाता है। पहले हमारे घरों के आस-पास पेड़ों पर गोरैया चहकती रहती थी, लेकिन आज इसे बचाने के लिए हमें प्रयास करने पड़ रहे हैं। कोरोना वैक्सीन को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि पिछले साल इस समय तक यह सवाल था कि कोरोना की वैक्सीन कब तक आएगी। हम सब के लिए यह गर्व की बात है कि आज भारत, दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीन अभियान चला रहा है।

पढ़ें :- पीएम मोदी सोमवार सुबह साढ़े छह बजे जनता को करेंगे संबोधित

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X