इन आसान तरीकों से मेहंदी को बना सकते हैं और भी खूबसूरत

In Upayo Se Apni Mehndi Ko Bana Sakte Hai Aur Bhi Khubsurat

बारिश, हरियाली, झूले, मिट्टी की सोंधी सी खुशबू, मेहंदी, बागों में खिले फूल, यही तो है सावन की असली पहचान। सावन आते ही प्रकृति अपनी एक अनोखी छटा बिखेर देती है। ऐसा लगता है मानो प्रकृति ने हरे रंग की चादर ओढ़ ली हो। सावन के महीने में महिलाएं अपने हाथों में मेहंदी लगती हैं। सावन में मेहंदी लगाना एक परंपरा भी है और आज के समय में फैशन भी।

कहा जाता है कि मेहंदी के बिना सौंदर्य अधूरा होता है। मेहंदी की खुशबू घर-आंगन को महकाने के साथ-साथ हथेलियों की खूबसूरती में भी चार चांद लगाती है। मेंहदी तभी खूबसूरत लगती है, जब उसका रंग गहरा हो और यह सही से रचे। मेहंदी का एक खास गहरा लाल रंग होता है जो हाथों पर बेहद खूबसूरत लगता है।

इन उपायों से गहरी रचेगी मेंहदी—

  • मेंहदी लगाने के बाद धैर्य रखना बहुत जरूरी है। कम से कम पांच से छह घंटे के लिए मेंहदी को हाथों पर रचे रहने दें। इससे मेंहदी का रंग गहरा चढ़ता है।
  • नींबू और चीनी के घोल के इस्तेमाल से भी मेंहदी का रंग गहरा चढ़ता है। दरअसल, इस घोल को लगाने से मेंहदी ज्यादा देर के लिए हाथों में चिपकी रहती है और इससे उसका रंग गहरा हो जाता है।
  • फ्राइंग पैन में लौंग की कुछ कलियों को डालकर हाथ पर उनका धुंआ लेना भी एक कारगर उपाय है। ऐसा करने से मेंहदी का रंग गहरा हो जाता है।
  • मेंहदी छुड़ाने के लिए पानी का इस्तेमाल न करें। हो सके तो 10 से 12 घंटों तक हाथों पर पानी के इस्तेमाल से बचें। साबुन के इस्तेमाल से दूर ही रहें तो बेहतर होगा।
  • मेंहदी छुड़ाने के बाद सरसों के तेल को हाथों पर मल लें।
बारिश, हरियाली, झूले, मिट्टी की सोंधी सी खुशबू, मेहंदी, बागों में खिले फूल, यही तो है सावन की असली पहचान। सावन आते ही प्रकृति अपनी एक अनोखी छटा बिखेर देती है। ऐसा लगता है मानो प्रकृति ने हरे रंग की चादर ओढ़ ली हो। सावन के महीने में महिलाएं अपने हाथों में मेहंदी लगती हैं। सावन में मेहंदी लगाना एक परंपरा भी है और आज के समय में फैशन भी। कहा जाता है कि मेहंदी के बिना सौंदर्य अधूरा होता…