1. हिन्दी समाचार
  2. राजनीति
  3. वीडियो कांफ्रेंसिंग में ममता बनर्जी ने केंद्र पर निशाना साधा, कहा- ऐसे वक्‍त राजनीति न करें

वीडियो कांफ्रेंसिंग में ममता बनर्जी ने केंद्र पर निशाना साधा, कहा- ऐसे वक्‍त राजनीति न करें

In Video Conferencing Mamata Banerjee Targeted The Center Said Do Not Do Politics At Such Times

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नई दिल्‍ली: कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच देश में लागू लॉकडाउन से बाहर निकलने के लिए सोमवार दोपहर तीन बजे से पीएम नरेंद्र मोदी मुख्‍यमत्रियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बातचीत कर रहे हैं। कोरेाना महामारी शुरू होने के बाद पीएम मोदी पांचवीं बार मुख्यमंत्रियों के साथ संवाद करेंगे। अंत में पीएम मोदी कोरोना को लेकर मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान से बात करेंगे। वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान छह केंद्र शासित (जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, चंडीगढ़, दादरा नगर हवेली और दमन दीव, अंडमान और निकोबार, लक्षद्वीप) को बोलने का मौका नहीं मिलेगा। ये अपने विचार और सुझाव लिखित में भेज सकते हैं।

पढ़ें :- चिराग पासवान ने बिहार में बढ़ते अपराध को लेकर सीएम नीतीश को ठहराया जिम्मेदार

बैठक में दो सेशन होगा। पहला सेशन 3 बजे से 5.30 बजे तक होगा। उसके बाद आधे घंटे का इंटरवल होगा। उसके बाद छह बजे से दूसरा सेशन शुरू होगा। सबसे पहले पीएम मोदी, आंध्र के सीएम जगन मोहन रेड्डी से बात करेंगे। इसके बाद अरुणाचल, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, छत्तीसगढ़, गुजरात, तेलंगाना, राजस्थान, उत्तराखंड, पंजाब, महाराष्ट्र, हरियाणा, त्रिपुरा, ओडिशा, केरल, असम, झारखंड, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, दिल्ली, गोवा, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, पुदुचेरी, सिक्किम, बिहार और हिमाचल प्रदेश के सीएम से बात होगी।

पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा कि ऐसे वक्‍त में केंद्र को राजनीति नहीं करनी चाहिए। केंद्र संघीय ढांचे को बरकरार रखे। पीएम मोदी ने कहा कि राज्य केंद्र के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। कैबिनेट सचिव, राज्यों के सचिव के साथ लगातार संपर्क में हैं। उन्‍होंने कहा कि ऐसे मौके पर संतुलित रणनीति के साथ आगे बढ़ें। इसके साथ जो चुनौतियां सामने हैं, उन पर काम करें। पीएम मोदी ने कहा कि आप सभी के सुझावों से दिशा-निर्देश निर्धारित होंगे। पीएम मोदी ने कहा कि सभी राज्यों ने जिम्मेदारी निभाई है, दो गज की दूरी ढीली हुई तो संकट बढ़ेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत इस संकट से अपने आपको बचाने में बहुत हद तक सफल हुआ है। राज्यों ने जिम्मेदारी निभाई है, लेकिन लोगों के बीच दो गज की दूरी कम हुई तो संकट बढ़ेगा। लॉकडाउन लागू करने में सभी की भूमिका महत्वपूर्ण रही। पीएम ने कहा कि हमारे प्रयास रहे कि जो जहां है वहीं रहे। लेकिन हमें कुछ निर्णय बदलने भी पड़े। कोराना वायरस गांव तक ना पहुंचे, अब यही सबसे बड़ी चुनौती है।

बैठक में आंध्र प्रदेश के मुख्‍यमंत्री जगन मोहन रेड्डी और अरुणाचल प्रदेश के मुख्‍यमंत्री प्रेमा खांडू ने संबोधित किया।

पढ़ें :- कुर्की के आदेश के बाद नसीमुद्दीन और रामअचल राजभर ने कोर्ट में किया सरेंडर, भेजे गए जेल

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...