IND VS NZ: न्यूजीलैंड ने पलटा पासा, झटके 216 पर 5 विकेट

कानपुर| भारतीय क्रिकेट टीम ने ग्रीन पार्क स्टेडियम में न्यूजीलैंड के साथ जारी पहले टेस्ट के पहले दिन गुरुवार को 69 ओवरों में पांच विकेट के नुकसान पर 216 रन बना लिए हैं। रोहित शर्मा 21 और रविचंद्रन आश्विन 4 रन पर नाबाद हैं। भारत ने लोकेश राहुल (32), चेतेश्वर पुजारा (62), कप्तान विराट कोहली (9), मुरली विजय (65) और अजिंक्य रहाणे (18) के रूप में अपने पांच विकेट गंवा दिए हैं। भोजनकाल तक भारत ने 105 रन बनाने के बाद सिर्फ एक विकेट ही गंवाया था लेकिन मेहमानों ने दूसरे सत्र में पुजारा, कोहली, विजय और रहाणे के विकेट नियमित अंतराल पर लेकर मेजबानों पर बैकफुट पर ढ़केल दिया।




यह भारतीय टीम का 500वां टेस्ट मैच है । ऐतिहासिक मैच में भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया। शिखर धवन की जगह टीम में शामिल किए गए लोकेश राहुल (32) ने विजय के साथ पारी की शुरुआत की। राहुल ने ट्रेंट बाउल्ट द्वारा फेंके गए पहले ओवर में दो चौके लगाकर अच्छी शुरुआत की। दोनों बल्लेबाजों ने पहले विकेट के लिए 42 रन जोड़े। इस दौरान राहुल तेजी में रन बोटर रहे थे वहीं, विजय संयम से बल्लेबाजी कर रहे थे। कीवी टीम के पहली सफलता स्पिनर मिशेल सेंटनर ने दिलाई। उन्होंने 11वें ओवर में राहुल को विकेट के पीछे बी.जे वॉटलिंग के हाथों कैच करा मेजबानों को पहला झटका दिया।

राहुल ने अपनी पारी में 39 गेंदों का सामना किया और चार चौके एवं एक छक्का लगाया। इसके बाद पुजारा ने विजय का साथ दिया। धीरे-धीरे दोनों ने पारी को आगे बढ़ाया और स्कोर 100 के पार पहुंचा दिया और भोजनकाल तक और कोई विकेट गिरने नहीं दिया। दूसरे सत्र में बल्लेबाजी करने उतरे दोनों बल्लेबाजों ने अपनी पारी को आगे बढ़ाया और पहले विजय ने अर्धशतक पूरा किया। इसके बाद पुजारा ने भी अपना अर्धशतक लगया। दोनों ने अपनी साझेदारी में 112 रन जोड़ लिए थे। केन विलियमसन ने अपने इकलौते सफल गेंदबाज सेंटनर को गेंद थमाई। उन्होंने भी अपने कप्तान को निराश नहीं किया और 154 के कुल स्कोर पर पुजारा को अपनी ही गेंद पर कैच कर आउट किया। पुजारा ने अपनी पारी में 109 गेंदें खेलीं और आठ चौके लगाए।

कप्तान कोहली मैदान पर उतरे लेकिन दो चौकों की मदद से नौ रन बनाने के बाद तेज गेंदबाज नील वेगनर की शिकार हो कर वापस पवेलियन लौट गए। इश सोढ़ी ने 59वें ओवर में सेट बल्लेबाज विजय को विकेट के पीछे कैच करा भारत को तीसरा झटका दिया। विजय ने अपनी पारी में 170 गेंदों का सामना किया और आठ चौकों की मदद से अर्धशतकी पारी खेली। इसके बाद रहाणे भी ज्यादा देर तक क्रीज़ पर टिक नहीं सके और 18 रन बनाकर चलते बने।