1. हिन्दी समाचार
  2. क्रिकेट
  3. IND Vs SA: जानें कौन हैं प्रियांक पांचाल, जिन्हें रोहित शर्मा के स्थान पर मिली है भारतीय टेस्ट टीम में जगह

IND Vs SA: जानें कौन हैं प्रियांक पांचाल, जिन्हें रोहित शर्मा के स्थान पर मिली है भारतीय टेस्ट टीम में जगह

चोट के कारण भारतीय टेस्ट टीम से बाहर हुए उपकप्तान रोहित शर्मा की जगह प्रियांक पांचाल को टीम में शामिल किया गया है। क्रिकेटप्रेमी उनके नाम से अनजान भी होंगे और सोच रहे होंगे कि आखिर कौन है ये क्रिकेटर जिसे रोहित के स्थान पर टीम में जगह मिली है।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

नई दिल्ली। जल्द ही दक्षिण अफ्रीका के दौर पर जाने वाली भारत की टेस्ट टीम से चोट के कारण बाहर हुए ओपनर बल्लेबाज रोहित शर्मा की जगह प्रियांक पांचाल नामक युवा खिलाड़ी को टीम में शामिल किया गया है। क्रिकेटप्रेमी उनके नाम से अनजान भी होंगे और सोच रहे होंगे कि आखिर कौन है ये क्रिकेटर जिसे रोहित के स्थान पर टीम में जगह मिली है। भारतीय टेस्ट टीम के उप-कप्तान रोहित शर्मा सोमवार को मुंबई में ट्रेनिंग सेशन के दौरान चोटिल हो गए। वैसे तो रोहित के स्थान पर टीम में जगह बनाने के दावेदार और भी कई बड़े खिलाड़ी थे मगर पांचाल(Priyank Panchal) को ही टीम में जगह क्यों मिली ये दिमाग पर जोर डालने वाली बात है।

पढ़ें :- IND vs NZ T20 Match : भारत और न्यूजीलैंड के बीच 29 जनवरी को इकाना स्टेडियम में खेले जाने मैच की तैयारियों का जायजा लेने पहुंची मण्डलायुक्त डॉ. रोशन जैकब

हाल ही में भारत ‘ए’ और दक्षिण अफ्रीका ‘ए’ के बीच तीन अनऑफिशियल(Unofficial) टेस्ट मैचों की सीरीज खेली गई, जो कि ड्रॉ रही थी। इसमें पांचाल को भारतीय टीम का कप्तान बनाया गया था। उन्होंने इस सीरीज के पहले मैच में तेज और उछाल भरी पिचों पर दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाजों का डटकर सामना करते हुए 96 रनों की आकर्षक पारी खेली थी। इतना ही नहीं आज से पांच साल पहले नवंबर 2016 में पांचाल ने गुजरात की तरफ से खेलते हुए तहलका मचा दिया था।

उन्होंने यहां टीम के लिए तिहरा शतक जड़ दिया और ऐसा करने वाले पहले खिलाड़ी बने। इसके बाद अगले महीने उन्होंने गुजरात(Gujrat) के लिए रणजी ट्रॉफी के एक सीजन में 1,000 रन बना डाले। यह कारनामा करने वाले भी पांचाल पहले खिलाड़ी बने। 2016-17 के उस रणजी सीजन में प्रियांक सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज थे। उन्होंने 10 मैचों की 17 पारियों में कुल 1310 रन बनाए थे। उनके इस जोरदार प्रदर्शन के दम पर टीम ने पहली बार रणजी ट्रॉफी का खिताब अपने नाम किया था। फर्स्ट क्लास(First Class) में 7011 रन बनाने के अलावा पांचाल 75 लिस्ट ए मैचों में 40.19 की औसत से 2854 रन भी बना चुके हैं। इसमें 5 शतक और 18 अर्धशतक शामिल हैं। इतने शानदार रिकार्ड ही पांचाल की दावेदारी को मजबूत करने के लिए काफी थे।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...