U-19: भारत की बादशाहत, बांग्‍लादेश को हराकर सातवीं बार जीता अंडर-19 एशिया कप

indian cricketer
U-19: भारत की बादशाहत, बांग्‍लादेश को हराकर सातवीं बार जीता अंडर-19 एशिया कप

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) अंडर 19 स्‍तर पर भी एशिया की बादशाह बन गई है। प्रेमदासा स्टेडियम में खेले गए कम स्कोर वाले रोमांचक फाइनल मैच में बांग्लादेश को 5 रनों से हरा अंडर-19 एशिया कप का खिताब अपने नाम कर लिया है। भारतीय टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 32.4 ओवरों में सिर्फ 106 रनों पर ही आउट हो गई। आसान से लक्ष्य का पीछा करने उतरी बांग्लादेश 33 ओवरों में सिर्फ 101 रनों पर ऑल आउट हो गई।

India Beat Bangladesh Lift U 19 Asia Cup India Win U 19 Asia Cup Trophy :

भारतीय टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया था। टीम की बल्लेबाजी असफल रही और 32.4 ओवर में सिर्फ 106 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। यह स्कोर कोई बड़ा नहीं था लेकिन अथर्व ने अपनी फिरकी के जाल में बांग्लादेशी खिलाड़ियों को ऐसा फांसा कि पूरी टीम सिर्फ 101 रनों पर आउट हो गई। अथर्व को उनके प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया। बाएं हाथ के मध्यम तेज गति के गेंजबाज आकाश सिंह ने भी तीन विकेट झटके।

भारतीय गेंदबाजों के सामने नहीं टिक पाए बांग्‍ला बल्‍लेबाज

106 रन के लक्ष्‍य का बचाव करने को उतरे भारतीय गेंदबाजों ने पूरी जान लगा दी और 40 रन पर बांग्‍लादेश की आधी टीम आउट कर दी। बाएं हाथ के तेज गेंदबाज आकाश सिंह ने बांग्‍लादेश के टॉप ऑर्डर को ध्‍वस्‍त कर दिया। उन्‍होंने अपने पहले 3 ओवरों में 3 विकेट लिए। इसके बाद बाएं हाथ के स्पिनर अथर्व अंकोलेकर ने अपनी फिरकी में बांग्‍ला बल्‍लेबाजों को फंसाया और 78 रन पर विरोधी टीम के 8 विकेट गिर गए। लेकिन बांग्‍लादेश के कप्‍तान अकबर अली ने एक मोर्चा थाम लिया और उन्‍होंने सबसे ज्‍यादा 23 रन बनाए। अंकोलेकर ने ही उन्‍हें आउट किया।

बांग्‍लादेश के पुछल्‍ले बल्‍लेबाजों ने किया संघर्ष

लेकिन बांग्‍लादेश के पुछल्‍ले बल्‍लेबाजों ने भरपूर संघर्ष किया। तेज गेंदबाज मृत्‍युंजय चौधरी (21) ने टीम को मुकाबले में बनाए रखा। उनके अलावा तंजीम हसन शाकिब और रकीबुल हसन ने भी अहम पारियां खेलीं। एक समय ऐसा लग रहा था कि भारत खिताब से दूर रह जाएगा। लेकिन अंकोलेकर ने 3 गेंदों में 2 विकेट लेकर बांग्‍लादेश को 101 रन पर समेट दिया।

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) अंडर 19 स्‍तर पर भी एशिया की बादशाह बन गई है। प्रेमदासा स्टेडियम में खेले गए कम स्कोर वाले रोमांचक फाइनल मैच में बांग्लादेश को 5 रनों से हरा अंडर-19 एशिया कप का खिताब अपने नाम कर लिया है। भारतीय टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 32.4 ओवरों में सिर्फ 106 रनों पर ही आउट हो गई। आसान से लक्ष्य का पीछा करने उतरी बांग्लादेश 33 ओवरों में सिर्फ 101 रनों पर ऑल आउट हो गई। भारतीय टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया था। टीम की बल्लेबाजी असफल रही और 32.4 ओवर में सिर्फ 106 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। यह स्कोर कोई बड़ा नहीं था लेकिन अथर्व ने अपनी फिरकी के जाल में बांग्लादेशी खिलाड़ियों को ऐसा फांसा कि पूरी टीम सिर्फ 101 रनों पर आउट हो गई। अथर्व को उनके प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया। बाएं हाथ के मध्यम तेज गति के गेंजबाज आकाश सिंह ने भी तीन विकेट झटके। भारतीय गेंदबाजों के सामने नहीं टिक पाए बांग्‍ला बल्‍लेबाज 106 रन के लक्ष्‍य का बचाव करने को उतरे भारतीय गेंदबाजों ने पूरी जान लगा दी और 40 रन पर बांग्‍लादेश की आधी टीम आउट कर दी। बाएं हाथ के तेज गेंदबाज आकाश सिंह ने बांग्‍लादेश के टॉप ऑर्डर को ध्‍वस्‍त कर दिया। उन्‍होंने अपने पहले 3 ओवरों में 3 विकेट लिए। इसके बाद बाएं हाथ के स्पिनर अथर्व अंकोलेकर ने अपनी फिरकी में बांग्‍ला बल्‍लेबाजों को फंसाया और 78 रन पर विरोधी टीम के 8 विकेट गिर गए। लेकिन बांग्‍लादेश के कप्‍तान अकबर अली ने एक मोर्चा थाम लिया और उन्‍होंने सबसे ज्‍यादा 23 रन बनाए। अंकोलेकर ने ही उन्‍हें आउट किया। बांग्‍लादेश के पुछल्‍ले बल्‍लेबाजों ने किया संघर्ष लेकिन बांग्‍लादेश के पुछल्‍ले बल्‍लेबाजों ने भरपूर संघर्ष किया। तेज गेंदबाज मृत्‍युंजय चौधरी (21) ने टीम को मुकाबले में बनाए रखा। उनके अलावा तंजीम हसन शाकिब और रकीबुल हसन ने भी अहम पारियां खेलीं। एक समय ऐसा लग रहा था कि भारत खिताब से दूर रह जाएगा। लेकिन अंकोलेकर ने 3 गेंदों में 2 विकेट लेकर बांग्‍लादेश को 101 रन पर समेट दिया।