इंदौर टेस्ट : भारत ने न्यूजीलैंड को 321 रनों से हराया, 3-0 से सीरीज अपने नाम की

इंदौर| भारत के खिलाफ तीसरे और अंतिम टेस्ट मैच के चौथे दिन 475 रन का टारगेट चेज करने उतरी न्यूजीलैंड की दूसरी पारी 153 रनों पर सिमट गई है| इसी के साथ भारत ने 321 रनों से यह मैच जीतते हुए 3-0 से सीरीज अपने नाम कर ली है| इससे पहले भारत ने अपनी दूसरी पारी भोजनकाल के बाद तीन विकेट के नुकसान पर 216 रनों पर घोषित कर दी। चेतेश्वर पुजारा ने नाबाद 101 रन बनाए। पुजारा ने अपनी पारी में 148 गेंदों में नौ चौके लगाए। कप्तान विराट कोहली ने पुजारा का शतक पूरा होने के तुरंत बाद पारी समाप्त करने की घोषणा की।




भारत ने दिन के पहले सत्र में मुरली विजय (19) और गौतम गंभीर (50) के रूप में दो विकेट गंवाए, जबकि कोहली (17) का विकेट दूसरे सत्र में गिरा।दिन के आठवें ओवर में मुरली के रन आउट होने के बाद सोमवार को रिटायर्ड हर्ट हो पवेलियन लौटे गंभीर ने मैदान पर दोबारा वापसी की। गंभीर ने पुजारा के साथ दूसरे विकेट के लिए 76 रनों की साझेदारी निभाई।

लंबे अंतराल के बाद राष्ट्रीय टीम में वापसी करते हुए गंभीर ने 54 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया। हालांकि अर्धशतक पूरा करने के बाद रन गति तेज करने के प्रयास में वह मार्टिन गुप्टिल की ओर कैच उठा बैठे। गंभीर ने 56 गेंदों की अपनी पारी में छह चौके लगाए। इसके बाद पुजारा का साथ देने कप्तान विराट कोहली उतरे, हालांकि कोहली अपनी पारी को ज्यादा आगे तक नहीं ले जा सके और दूसरे सत्र में जीतन पटेल की गेंद पर पगबाधा करार दिए गए।

भारत ने कोहली (211) और अजिंक्य रहाणे (188) की मदद से पांच विकेट पर 557 रन बनाकर अपनी पहली पारी घोषित कर दी थी, जिसके जवाब में किवी टीम अपनी पहली पारी में महज 299 रन बना सकी। भारतीय कप्तान ने हालांकि किवी टीम को फॉलोआन खेलने का निमंत्रण नहीं दिया। किवी टीम की पारी ढहाने में स्पिन गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन की महती भूमिका रही। अश्विन आठ किवी बल्लेबाजों को पवेलियन भेजने का सबब बने। उन्होंने छह विकेट चटकाए, जबकि दो बल्लेबाजों को रन आउट किया।