1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. युद्ध की तरफ बढ़ रहे हैं भारत-चीन? लद्दाख में बढ़ाई सैनिकों की सख्या, चीन को मिलेगा मुंहतोड़ जवाब

युद्ध की तरफ बढ़ रहे हैं भारत-चीन? लद्दाख में बढ़ाई सैनिकों की सख्या, चीन को मिलेगा मुंहतोड़ जवाब

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। चीन अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। वह लगातार घुसपैठ की कोशिश करने में जुटा है। हालांकि, चीन के मंसूबों पर हर बार पानी फिर जा रहा है। भारतीय सैनिकों के पराक्रम ओर साहस के आगे चीनी सैनिक हर बार घुटना टेक दे रहे हैं। वहीं, चीन को इस बार मुंहतोड़ जवाब देने की तैयारी शुरू हो गयी है।

चीन की हरकतों को देखते हुए भारतीय सेना ने पूर्वी लद्दाख में पैंगोंग झील के आसपास सभी ‘रणनीतिक बिंदुओं’ पर सैनिकों और हथियारों की तैनाती बढ़ा दी है। सूत्रों की माने तो घुसपैठ की चीनी कोशिश को विफल करने के बाद पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) से लगे सभी क्षेत्रों में समग्र निगरानी तंत्र को और मजबूत किया गया है।

शीर्ष सैन्य एवं रक्षा प्राधिकारियों ने पूर्वी लद्दाख में पूरी स्थिति की समीक्षा की है। सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवाने ने ताजा टकराव को लेकर शीर्ष सैन्य अधिकारियों के साथ एक बैठक भी की। इसके साथ ही सूत्रों की माने तो वायुसेना से भी पूर्वी लद्दाख में एलएसी से लगे क्षेत्रों में निगरानी बढ़ाने को कहा गया है।

ऐसी रिपोर्ट है कि चीन ने उसके रणनीतिक रूप से अहम होतान एयरबेस पर लंबी दूरी के लड़ाकू विमान जे-20 और कुछ अन्य एसेट तैनात किए हैं। पिछले तीन महीने में, भारतीय वायुसेना ने अपने सभी प्रमुख लड़ाकू विमानों जैसे सुखोई-30 एमकेआइ, जगुआर और मिराज-2000 पूर्वी लद्दाख के प्रमुख सीमावर्ती एयरबेस और एलएसी के पास अन्य स्थानों पर तैनात किए हैं।

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...