1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. रूस से सुखोई-57 लड़ाकू विमान खरीद सकते हैं भारत, चीन

रूस से सुखोई-57 लड़ाकू विमान खरीद सकते हैं भारत, चीन

By रवि तिवारी 
Updated Date

नई दिल्ली। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने इस विमान को ‘विश्व का सर्वश्रेष्ठ सैन्य विमान’ करार दिया है। एसयू-57 पांचवीं पीढ़ी का लड़ाकू विमान है जो हवाई लड़ाई से लेकर जमीनी और नौसैन्य ठिकानों को निशाना बनाने में सक्षम है। रूस अपने नए लड़ाकू विमान सुखोई एसयू-57 के लिए भारत और चीन को संभावित खरीददार मानता है।

चीनी वायुसेना के पास इस समय जे-20 स्टील्थ लड़ाकू विमानों के अलावा रूस के एसयू-35 विमानों का बेड़ा है। भारत फ्रांस से राफेल लड़ाकू विमान खरीद रहा है, इसलिए चीन अपनी वायुसेना को और मजबूती देने के लिए एसयू-57 खरीदने पर विचार कर रहा है।

चीन हालांकि अपने देश में खुद नई पीढ़ी के युद्धक विमान तैयार कर रहा है, लेकिन वह विमानों के इंजन के मामले में रूसी इंजनों पर ज्यादा भरोसा करता है। चीन खुद उस तरह के इंजन नहीं तैयार कर पाया है, इसीलिए पाकिस्तान के साथ संयुक्त रूप से तैयार कि ए जा रहे जेएफ-17 विमानों में भी रूसी ईंजन लगाए गए हैं।

रूस ने पांचवीं पीढ़ी के अपने इस स्टील्थ युद्धक विमान को खरीदने का चीन और भारत को प्रस्ताव दिया है। उन्होंने कहा कि चीन की तरह भारत में भी पांचवीं पीढ़ी का कोई विमान नहीं है इसलिए एसयू-57 भारत के लिए भी एक अच्छा विकल्प साबित होगा।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...