कुछ ऐसी होगी भारत की ‘बुलेट ट्रेन’, दो घंटे का होगा मुंबई से अहमदाबाद का सफर

नई दिल्ली। आने वाले गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के पीएम शिंजो अबे भारत में बुलेट ट्रेन का शिलान्यास करेंगे। यह परियोजना साल 2022 तक पूरी होने की उम्मीद जताई जा रही है। जापानी प्रधानमंत्री शिंजो अबे दो दिवसीय भारत दौरे पर कल पहुंचेंगे। मुंबई से अहमदाबाद के बीच बन रहे इस 508 किलोमीटर लंबे कोरिडोर प्रोजेक्ट में 1.6 लाख करोड़ रुपए की लागत आएगी। भारत की पहली बुलेट ट्रेन की स्पीड 350 किलोमीटर प्रति घंटे की होगी।
पीएम शिंजो अबे गुजरात के अहमदाबाद से दौरे की शुरुआत करेंगे। 13 सितंबर की दोपहर डेढ़ बजे अहमदाबाद के सरदार बल्लभ भाई पटेल अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर पहुंचने का कार्यक्रम रखा गया है। शाम साढ़े चार बजे उन्हें साबरमती आश्रम जाना है औऱ फिर मस्जिद सिद्दी सैय्यद की जाली देखने  जाने का कार्यक्रम है।
मुंबई से अहमदाबाद के बीच चलने वाली देश की पहली हाईस्पीड बुलेट ट्रेन जापान के सहयोग से बनायी जा रही है। पीएम मोदी अपने समकक्ष शिंजो अबे के साथ दोपहर 12 बजे प्रतिनिधि मंडल स्तर की वार्ता करेंगे और फिर एक्सचेंज ऑफ एग्रीमेंट होगा।

ये होगी बुलेट ट्रेन की खासियत-

{ यह भी पढ़ें:- इस महीने तीसरी बार गुजरात पहुंचे पीएम मोदी, इन योजनाओं का हुआ शुभारंभ }

  • बुलेट ट्रेन से अहमदाबाद से मुंबई पहुंचने में महज दो घंटे लगेंगे।
  • मौजूदा समय में अहमदाबाद से मुंबई पहुंचने के लिए 7 से 8 घंटे का समय लगता है।
  • भारत में बुलेट ट्रेन चलाने के लिये जापान की टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जा रहा है।
  • जापान में बुलेट ट्रेन को ‘शिंकासेन’ नाम से जाना जाता है।
  • बुलेट ट्रेन के बारे में कहा जाता है कि ये ट्रेन आज तक 60 सेकंड से ज्यादा लेट नहीं हुई है।
  • संभव है कि भारत की बुलेट ट्रेन भी पंक्चुअल होगी।
  • भारत में शुरुआती दौर में 35 बुलेट ट्रेन चलाये जाने की योजना है और 2050 तक इन्हें बढ़ाकर 105 तक किया जा सकता है।
  • मुंबई से अहमदाबाद के बीच में 508 किलोमीटर की दूरी तय करते समय यह ट्रेन कुल 10 स्टेशनों पर रुकेगी।

रोजगार में होगी बढ़ोतरी-

60 के दशक में जब जापान में बुलेट ट्रेन की शुरुआत हुई थी, उस दौरान बुलेट ट्रेन ने जापान में रोजगार बढ़ाने में अहम भूमिका निभाई थी। माना जा रहा है भारत में भी बुलेट ट्रेन रोजगार बढ़ाने में मदद कर सकती है।

{ यह भी पढ़ें:- GST सही या गलत गुजरात चुनाव के नतीजे बताएंगे: अरुण जेटली }