पहली तिमाही में भारत की आर्थिक विकास दर 8.2 फीसदी पहुंची

पहली तिमाही में भारत की आर्थिक विकास दर 8.2 फीसदी पहुंची
पहली तिमाही में भारत की आर्थिक विकास दर 8.2 फीसदी पहुंची

India Gdp Expands In First Quarter Of Current Financial

नई दिल्ली। आर्थिक विकास के मोर्चे पर मोदी सरकार के लिए अच्छी खबर आई है। चालू वित्त वर्ष 2018-19 की पहली तिमाही में जीडीपी ग्रोथ रेट 8.2 फीसद रही है। जीडीपी का यह बीती तिमाही से भी बेहतर प्रदर्शन है। इससे पहले जनवरी-मार्च 2016 में यह 9.2% थी। विकास दर लगातार चौथी तिमाही में बढ़ी है। पिछली तिमाही (जनवरी-मार्च) में ग्रोथ 7.7% रही थी। भारत दुनिया में सबसे तेज विकास दर वाला देश बना हुआ है। अप्रैल-जून में चीन की विकास दर भारत से कम यानी 6.7% रही।

नोटबंदी के बाद अर्थव्यवस्था में सुस्ती आयी थी और एक जुलाई 2017 को वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू किये जाने के बाद विनिर्माण गतिविधियां सुस्त पड़ गयी थी। अब फिर से विनिर्माण गतिविधियों के साथ निमार्ण क्षेत्र में भी तेजी आने लगी है और इसके बल पर सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) वृद्धि दर में बढोतरी हो रही है।

केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक, मौजूदा वित्त वर्ष की पहली तिमाही में 7% से ज्यादा की विकास दर देने वालों में मैन्युफैक्चरिंग, कंस्ट्रक्शन, बिजली, गैस, वॉटर सप्लाई, डिफेंस जैसे सेक्टर शामिल हैं। मैन्युफैक्चरिंग में सबसे ज्यादा 13.5% की विकास दर रही। कंस्ट्रक्शन में 8.7% की ग्रोथ रही। माइनिंग सेक्टर में 0.1% और एग्रीकल्चर में 5.3% ग्रोथ दर्ज की गई। फाइनेंशियल सर्विस सेक्टर 6.5% की दर से बढ़ा।

नई दिल्ली। आर्थिक विकास के मोर्चे पर मोदी सरकार के लिए अच्छी खबर आई है। चालू वित्त वर्ष 2018-19 की पहली तिमाही में जीडीपी ग्रोथ रेट 8.2 फीसद रही है। जीडीपी का यह बीती तिमाही से भी बेहतर प्रदर्शन है। इससे पहले जनवरी-मार्च 2016 में यह 9.2% थी। विकास दर लगातार चौथी तिमाही में बढ़ी है। पिछली तिमाही (जनवरी-मार्च) में ग्रोथ 7.7% रही थी। भारत दुनिया में सबसे तेज विकास दर वाला देश बना हुआ है। अप्रैल-जून में चीन की…