1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. भारत को आज pharmacy of the world कहा जाता है, इसके पीछे हिमाचल की बहुत बड़ी ताकत है : पीएम मोदी

भारत को आज pharmacy of the world कहा जाता है, इसके पीछे हिमाचल की बहुत बड़ी ताकत है : पीएम मोदी

PM Modi in Himachal: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हिमाचल पहुंचे हैं। हिमाचल (Himachal) की जयराम सरकार (Jairam Sarkar) के चार साल पूरे होने पर मण्डी में समारोह का आयोजन किया गया है। जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि, जयराम जी और उनकी परिश्रमी टीम ने हिमाचल वासियों के सपनों को पूरा करने के लिए कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी है। इन 4 वर्षों में 2 साल हमने मजबूती से कोरोना से भी लड़ाई लड़ी है और विकास के कार्यों को भी रुकने नहीं दिया।

By शिव मौर्या 
Updated Date

PM Modi in Himachal: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हिमाचल पहुंचे हैं। हिमाचल (Himachal) की जयराम सरकार (Jairam Sarkar) के चार साल पूरे होने पर मण्डी में समारोह का आयोजन किया गया है। जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि, जयराम जी और उनकी परिश्रमी टीम ने हिमाचल वासियों के सपनों को पूरा करने के लिए कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी है। इन 4 वर्षों में 2 साल हमने मजबूती से कोरोना से भी लड़ाई लड़ी है और विकास के कार्यों को भी रुकने नहीं दिया। गिरी नदी पर बन रही श्री रेणुकाजी बांध परियोजना जब पूरी हो जाएगी तो एक बड़े क्षेत्र को इससे सीधा लाभ होगा।

पढ़ें :- भारत और पाकिस्तान के बीच होने जा रहा है महामुकाबला, 8 दिनों बाद दोनों टीमों के बीच होगी भिड़ंत

इस प्रोजेक्ट से जो भी आय होगी उसका भी एक बड़ा हिस्सा यहीं के विकास पर खर्च होगा। पीएम मोदी ने कहा कि, पूरा विश्व भारत की इस बात की प्रशंसा कर रहा है कि हमारा देश किस तरह पर्यावरण को बचाते हुए विकास को गति दे रहा है। सोलर पावर से लेकर हाइड्रो पावर तक,पवन ऊर्जा से लेकर ग्रीन हाइड्रोजन तक। देश renewable energy के हर संसाधन को पूरी तरह इस्तेमाल करने के लिए निरंतर काम कर रहा है। भारत ने 2016 में ये लक्ष्य रखा था कि वो साल 2030 तक, अपनी installed electricity capacity का 40 प्रतिशत, non-fossil energy sources से पूरा करेगा।

आज हर भारतीय को इसका गर्व होगा कि भारत ने अपना ये लक्ष्य, इस साल नवंबर में ही प्राप्त कर लिया है। पीएम ने कहा कि, पहाड़ों को प्लास्टिक की वजह से जो नुकसान हो रहा है, हमारी सरकार उसे लेकर भी सतर्क है। सिंगल यूज प्लास्टिक के खिलाफ देशव्यापी अभियान के साथ ही हमारी सरकार, प्लास्टिक Waste मैनेजमेंट पर भी काम कर रही है। पीएम मोदी ने कहा कि, हिमाचल को स्वच्छ रखने में, प्लास्टिक और अन्य कचरे से मुक्त रखने में पर्यटकों का भी दायित्व बहुत बड़ा है।

इधर उधर फैला प्लास्टिक, नदियों में जाता प्लास्टिक, हिमाचल को जो नुकसान पहुंचा रहा है, उसे रोकने के लिए हमें मिलकर प्रयास करना होगा। भारत को आज pharmacy of the world कहा जाता है तो इसके पीछे हिमाचल की बहुत बड़ी ताकत है। कोरोना वैश्विक महामारी के दौरान हिमाचल प्रदेश ने ना सिर्फ दूसरे राज्यों, बल्कि दूसरे देशों की भी मदद की है।

उन्होंने कहा कि, हिमाचल ने अपनी पूरी वयस्क जनसंख्या को वैक्सीन देने में बाकी सबसे बाजी मार ली। यहां जो सरकार में हैं, वो राजनीतिक स्वार्थ में डूबे नहीं बल्कि उन्होंने पूरा ध्यान, हिमाचल के एक-एक नागरिक को वैक्सीन कैसे मिले, इसमें लगाया है। हमने तय किया है कि बेटियों की शादी की उम्र भी वही होनी चाहिए, जिस उम्र में बेटों को शादी की इजाजत मिलती है। बेटियों की शादी की उम्र 21 साल होने से, उन्हें पढ़ने के लिए पूरा समय भी मिलेगा और वो अपना करियर भी बना पाएंगी।

पढ़ें :- Gautam Adani Group News: सात दिनों में अडानी की संपत्ति पतझड़ की तरह बिखरी, आखिर कब थमेगी गिरावट?

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...