पाकिस्तान को एक और झटका, OIC ने भारत को बनाया ‘गेस्ट ऑफ ऑनर’

india
पाकिस्तान को एक और झटका, OIC ने भारत को बनाया 'गेस्ट ऑफ ऑनर'

नई दिल्ली। विदेश मंत्री (EAM) सुषमा स्वराज अगले महीने अबु धाबी में इस्लामिक सहयोग संगठन (OIC) के उद्घाटन सत्र को संबोधित करेंगी। पुलवामा हमले के बाद भारत की कूटनीतिक स्तर पर अहम कामयाबी मानी जा रही है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज अगले महीने अबू धाबी में इसमें ‘गेस्ट ऑफ ऑनर के तौर पर शरीक होंगी।

India Is Invited As Guest Of Honor In The Oic Meeting :

भारत को मिला आमंत्रण पाकिस्तान के लिए झटका माना जा रहा है। विदेश मंत्रालय ने बताया कि मुस्लिम बहुल देशों के शक्तिशाली संगठन ओआईसी के विदेश मंत्रियों के उद्घाटन सत्र में भारत को आमंत्रित किया गया है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज अगले महीने अबू धाबी में इसमें ‘गेस्ट ऑफ ऑनर’ के तौर पर शरीक होंगी। विदेश मंत्रालय ने इस न्योते को भारत में 18.5 करोड़ मुसलमानों की मौजूदगी और इस्लामी जगत में भारत के योगदान को मान्यता देने वाला एक स्वागत योग्य कदम बताया है।

ओआईसी के विदेश मंत्रियों की परिषद का 46वां सत्र 1 और 2 मार्च को अबू धाबी में होगा। गौरतलब है कि ओआईसी आमतौर पर पाकिस्तान का समर्थक है और कश्मीर मुद्दे पर अक्सर ही पाकिस्तान का पक्ष लेता है। विदेश मंत्रालय ने बताया है कि संयुक्त अरब अमीरात के विदेश मंत्री शेख अब्दुल्ला बिन जायद अल नाहयान ने सुषमा को गेस्ट ऑफ ऑनर के तौर पर आमंत्रित किया है और भारत इस न्योते को स्वीकार कर खुश है

नई दिल्ली। विदेश मंत्री (EAM) सुषमा स्वराज अगले महीने अबु धाबी में इस्लामिक सहयोग संगठन (OIC) के उद्घाटन सत्र को संबोधित करेंगी। पुलवामा हमले के बाद भारत की कूटनीतिक स्तर पर अहम कामयाबी मानी जा रही है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज अगले महीने अबू धाबी में इसमें 'गेस्ट ऑफ ऑनर के तौर पर शरीक होंगी। भारत को मिला आमंत्रण पाकिस्तान के लिए झटका माना जा रहा है। विदेश मंत्रालय ने बताया कि मुस्लिम बहुल देशों के शक्तिशाली संगठन ओआईसी के विदेश मंत्रियों के उद्घाटन सत्र में भारत को आमंत्रित किया गया है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज अगले महीने अबू धाबी में इसमें 'गेस्ट ऑफ ऑनर’ के तौर पर शरीक होंगी। विदेश मंत्रालय ने इस न्योते को भारत में 18.5 करोड़ मुसलमानों की मौजूदगी और इस्लामी जगत में भारत के योगदान को मान्यता देने वाला एक स्वागत योग्य कदम बताया है। ओआईसी के विदेश मंत्रियों की परिषद का 46वां सत्र 1 और 2 मार्च को अबू धाबी में होगा। गौरतलब है कि ओआईसी आमतौर पर पाकिस्तान का समर्थक है और कश्मीर मुद्दे पर अक्सर ही पाकिस्तान का पक्ष लेता है। विदेश मंत्रालय ने बताया है कि संयुक्त अरब अमीरात के विदेश मंत्री शेख अब्दुल्ला बिन जायद अल नाहयान ने सुषमा को गेस्ट ऑफ ऑनर के तौर पर आमंत्रित किया है और भारत इस न्योते को स्वीकार कर खुश है