भारत-जापान की इस डिफेंस डील से उड़ जाएंगे चीन-पाकिस्तान के होश

नई दिल्ली| भारत, चीन और पाकिस्तान की किसी भी गुस्ताखी का जवाब देने के लिए जापान से 12 US-2i एयरक्राफ्ट खरीदने पर विचार कर रहा है| इस विमान की खासियत यह है कि यह जमीन और पानी दोनों पर चल सकता है| इस सौदे की कीमत 10000 करोड़ रुपए होगी| द्विपक्षीय सामरिक संबंधों को और मजबूती प्रदान करने के लिए पीएम मोदी 11-12 नवंबर को टोक्यो का दौरा करने वाले हैं| इसी दौरान इस डील के फाइनल होने की उम्मीद है|




हाल ही में रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर की अध्यक्षता में डिफेंस ऐक्विजिशन काउंसिल की मीटिंग में भी इस प्रोजेक्ट को लेकर चर्चा हुई है| खरीदे जाने वाले 12 US-2i में से छह कोस्ट गार्ड और छह नेवी को दिए जाएंगे| US-2i का ज्यादातर इस्तेमाल सर्च और रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए किया जाएगा| इमरजेंसी की स्थिति में 30 सैनिकों को भी US-2i के जरिए भेजा जा सकता है|

जापानी रक्षा मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, 1.6 अरब डॉलर के विमान डील में जापान की ओर से कीमतें कम करने की पूरी कोशिश की जाएगी| अगर दोनों देशों के बीच यह समझौता होता है तो चीन को यह संदेश जाएगा कि भारत और जापान रक्षा क्षेत्र में एक-दूसरे के साथ हैं|