भारत-नेपाल की संयुक्त टीम ने ढूंढ निकाली नदी में डूबे युवक की लाश

IMG-20190715-WA0038

महराजगंज:पड़ोसी राष्ट्र नेपाल के कसीनो (जुआघर) में अपना सब कुछ गवा कर लौटे गोरखपुर के एक युवक ने नेपाल के बेलहिया थाना क्षेत्र के डांडा हेड के पुल से रविवार को डंडा नदी में कूद गया था ।

India Nepal Joint Team Found Dead Body Of Youth Trapped In River :

जिसकी तलाश में भारत और नेपाल की संयुक्त स्पेशल टीम 28 घंटे की तलाश के बाद उसकी लाश बरामद कर लिया है। एसएसबी और नेपाल के बचाव दल ने इस तलाश अभियान में काफी मशक्कत की।

एसएसबी के 66वी बटालियन के सेनानायक बलजीत सिंह ने बताया इस सर्च अभियान में 44 लोग जुटे थे।
।लाश को बरामद कर नेपाल पुलिस को सौंप दिया गया है। नेपाल पुलिस आवश्यक कार्यवाही के बाद उनके परिजनों को लाश सौंप देगी।

भैरहवा पुलिस डीएसपी धर्मराज भंडारी ने बताया कि मृतक का युवक का नाम राजेश कुमार जायसवाल पुत्र कपिल मुनि जायसवाल जो गोरखपुर के निवासी हैं ।

मृतक के भाई राहुल ने बताया कि राजेश अपने एक साथी हिमांशु त्रिपाठी के साथ शनिवार की शाम को बुलेट मोटरसाइकिल से दोनों गोरखपुर से नेपाल घूमने के लिए निकले और भैरहवां के एक होटल के कैसिनो में जुआ खेले। इस दौरान मनीष और राजेश दोनों अलग-अलग हो गए।

राजेश अपना सब कुछ हार गया जिस पर कैसीनो के गार्डों ने उसे भोर में कैसिनो से बाहर कर दिया। उन्होंने बताया कि राजेश पैदल ही पकलियवहवा के रास्ते डांडापुल पर पहुंच गया और पुल से कूदकर जान दे दिया। लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

महराजगंज:पड़ोसी राष्ट्र नेपाल के कसीनो (जुआघर) में अपना सब कुछ गवा कर लौटे गोरखपुर के एक युवक ने नेपाल के बेलहिया थाना क्षेत्र के डांडा हेड के पुल से रविवार को डंडा नदी में कूद गया था । जिसकी तलाश में भारत और नेपाल की संयुक्त स्पेशल टीम 28 घंटे की तलाश के बाद उसकी लाश बरामद कर लिया है। एसएसबी और नेपाल के बचाव दल ने इस तलाश अभियान में काफी मशक्कत की। एसएसबी के 66वी बटालियन के सेनानायक बलजीत सिंह ने बताया इस सर्च अभियान में 44 लोग जुटे थे। ।लाश को बरामद कर नेपाल पुलिस को सौंप दिया गया है। नेपाल पुलिस आवश्यक कार्यवाही के बाद उनके परिजनों को लाश सौंप देगी। भैरहवा पुलिस डीएसपी धर्मराज भंडारी ने बताया कि मृतक का युवक का नाम राजेश कुमार जायसवाल पुत्र कपिल मुनि जायसवाल जो गोरखपुर के निवासी हैं । मृतक के भाई राहुल ने बताया कि राजेश अपने एक साथी हिमांशु त्रिपाठी के साथ शनिवार की शाम को बुलेट मोटरसाइकिल से दोनों गोरखपुर से नेपाल घूमने के लिए निकले और भैरहवां के एक होटल के कैसिनो में जुआ खेले। इस दौरान मनीष और राजेश दोनों अलग-अलग हो गए। राजेश अपना सब कुछ हार गया जिस पर कैसीनो के गार्डों ने उसे भोर में कैसिनो से बाहर कर दिया। उन्होंने बताया कि राजेश पैदल ही पकलियवहवा के रास्ते डांडापुल पर पहुंच गया और पुल से कूदकर जान दे दिया। लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।