India-US के बीच हुआ 3 अरब डॉलर का रक्षा सौदा, ट्रंप ने पाक को दी चेतावनी, इस्लामिक आतंकवाद का करेंगे खात्मा

modi trump meet
India-US के बीच हुआ 3 अरब डॉलर का रक्षा सौदा, ट्रंप ने पाक को दी चेतावनी, इस्लामिक आतंकवाद का करेंगे खात्मा

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे का आज दूसरा दिन हैं। दूसरे दिन राष्ट्रपति भवन और राजघाट जाने के बाद हैदराबाद हाउस में उनकी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की द्वीपक्षीय वार्ता हुई। इस वार्ता के बाद डोनाल्ड ट्रंप ने तीन अरब डॉलर के रक्षा सौदे पर हस्ताक्षर करने का ऐलान किया हैं।

India Us 3 Billion Defense Deal Trump Warns Pakistan Will End Islamic Terrorism :

दोनों वैश्विक नेताओं ने एक स्वर में आतंकवाद को खरी-खरी सुनाई। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की धरती से चलने वाले आतंकवाद पर लगाम लगाना जरूरी है। इस दौरान राष्ट्रपति ट्रंप ने दोनो देशों के मजबूत रिश्तों का जिक्र किया। ट्रंप ने कहा कि वह भारत के इस दौरे को कभी नहीं भूलेंगे। साथ ही उन्होंने शानदार स्वागत के लिए भारतीयों और पीएम मोदी को धन्यवाद कहा।

भारत और अमेरिका के बीच तीन अरब डॉलर (21559350000000 रुपये) के रक्षा समझौते पर हस्ताक्षर हुए हैं। जिसमें अमेरिका के 23 एमएच 60 रोमियो हेलिकॉप्टर और छह एएच 64ई अपाचे हेलिकॉप्टर शामिल हैं। ट्रंप ने कहा कि इस सौदे से दोनों देशों के बीच रक्षा संबंध और मजबूत होंगे। ये दोनों हेलिकॉप्टर हर तरह के मौसम में दिन के किसी भी समय हमला करने में सक्षम हैं। चौथी पीढ़ी वाला यह हेलिकॉप्टर छिपी हुई पनडुब्बियों को निशाना बना सकता है।

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे का आज दूसरा दिन हैं। दूसरे दिन राष्ट्रपति भवन और राजघाट जाने के बाद हैदराबाद हाउस में उनकी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की द्वीपक्षीय वार्ता हुई। इस वार्ता के बाद डोनाल्ड ट्रंप ने तीन अरब डॉलर के रक्षा सौदे पर हस्ताक्षर करने का ऐलान किया हैं। दोनों वैश्विक नेताओं ने एक स्वर में आतंकवाद को खरी-खरी सुनाई। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की धरती से चलने वाले आतंकवाद पर लगाम लगाना जरूरी है। इस दौरान राष्ट्रपति ट्रंप ने दोनो देशों के मजबूत रिश्तों का जिक्र किया। ट्रंप ने कहा कि वह भारत के इस दौरे को कभी नहीं भूलेंगे। साथ ही उन्होंने शानदार स्वागत के लिए भारतीयों और पीएम मोदी को धन्यवाद कहा। भारत और अमेरिका के बीच तीन अरब डॉलर (21559350000000 रुपये) के रक्षा समझौते पर हस्ताक्षर हुए हैं। जिसमें अमेरिका के 23 एमएच 60 रोमियो हेलिकॉप्टर और छह एएच 64ई अपाचे हेलिकॉप्टर शामिल हैं। ट्रंप ने कहा कि इस सौदे से दोनों देशों के बीच रक्षा संबंध और मजबूत होंगे। ये दोनों हेलिकॉप्टर हर तरह के मौसम में दिन के किसी भी समय हमला करने में सक्षम हैं। चौथी पीढ़ी वाला यह हेलिकॉप्टर छिपी हुई पनडुब्बियों को निशाना बना सकता है।