कश्‍मीर: LOC पर सर्जिकल स्ट्राइक का कमांडो संदीप सिंह शहीद

कश्‍मीर: LOC पर सर्जिकल स्ट्राइक का कमांडो संदीप सिंह शहीद
कश्‍मीर: LOC पर सर्जिकल स्ट्राइक का कमांडो संदीप सिंह शहीद

कश्मीर। भारतीय सेना की ओर से पाकिस्तान के खिलाफ की गई सर्जिकल स्ट्राइक में शामिल रहे एक जवान शहीद हो गए हैं। तंगधार सेक्टर में सेना के एक ऑपरेशन में काम करने के दौरान लांस नायक संदीप सिंह शहीद हुए। वीरगति को प्राप्‍त होने से पहले पैरा कमांडो संदीप सिंह और उनके साथियों ने तीन आतंकवादियों को भी मार गिराया। इस दौरान लांस नायक सिंह ने अदम्‍य साहस का परिचय दिया।

Indian Army Lance Naik Sandeep Singh Lost Life Jawan Was Part Of The Surgical Strike Team :

सेना के सूत्रों ने हमारे सहयोगी अखबार मुंबई मिरर को बताया कि पंजाब के गुरदासपुर के रहने वाले संदीप सिंह 4 पैरा कमांडो टीम के साथ तंगधार सेक्‍टर के गगाधारी नार इलाके में सर्च ऑपरेशन का नेतृत्‍व कर रहे थे। इस दौरान उन्‍हें कुछ संदिग्‍ध गतिविधि नजर आई। इसके बाद उन्‍होंने अपनी टीम के साथ आगे बढ़कर आतंकवादियों का पता लगाने की कोशिश की। बता दें कि रविवार को एलओसी पर आतंकियों ने घुसपैठ की। इसमें पहले दिन दो आतंकी मारे गए थे। जबकि सोमवार को तीन और आतंकी मारे गए। मुठभेड़ में सोमवार को संदीप सिंह घायल हो गए और श्रीनगर के 92 बेस अस्पताल में उन्होंने दम तोड़ दिया।

सर्जिकल स्‍ट्राइक करने वाली टीम का हिस्‍सा थे संदीप

आमने-सामने की लड़ाई में सिंह ने तीन आतंकवादियों को ढेर कर दिया। साथ ही आतंकवादियों के घातक हमले से अपने साथियों की जान बचाई। एक सूत्र ने कहा, ‘इस साहसिक कार्रवाई के दौरान वह घायल हो गए लेकिन आतंकवादियों के खिलाफ गोलियां बरसाना जारी रखा। इसी बीच एक गोली उनके सिर में जा लगी। अस्‍पताल ले जाते समय लांस नायक सिंह शहीद हो गए।

सेना के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा, ‘अपनी सुरक्षा को ध्‍यान न देकर अपनी टीम की सुरक्षा के लिए तीन आतंकवादियों को मार गिराना उनके वीरतापूर्ण प्रदर्शन को दर्शाता है। इन आतंकवादियों के पास से बड़ी संख्‍या में हथियार बरामद हुए हैं।’ उन्‍होंने बताया कि लांस नायक सिंह के परिवार में पत्‍नी और 5 साल का बेटा है। अधिकारी ने बताया कि सिंह दो साल पहले सर्जिकल स्‍ट्राइक करने वाली टीम का हिस्‍सा थे।

कश्मीर। भारतीय सेना की ओर से पाकिस्तान के खिलाफ की गई सर्जिकल स्ट्राइक में शामिल रहे एक जवान शहीद हो गए हैं। तंगधार सेक्टर में सेना के एक ऑपरेशन में काम करने के दौरान लांस नायक संदीप सिंह शहीद हुए। वीरगति को प्राप्‍त होने से पहले पैरा कमांडो संदीप सिंह और उनके साथियों ने तीन आतंकवादियों को भी मार गिराया। इस दौरान लांस नायक सिंह ने अदम्‍य साहस का परिचय दिया। सेना के सूत्रों ने हमारे सहयोगी अखबार मुंबई मिरर को बताया कि पंजाब के गुरदासपुर के रहने वाले संदीप सिंह 4 पैरा कमांडो टीम के साथ तंगधार सेक्‍टर के गगाधारी नार इलाके में सर्च ऑपरेशन का नेतृत्‍व कर रहे थे। इस दौरान उन्‍हें कुछ संदिग्‍ध गतिविधि नजर आई। इसके बाद उन्‍होंने अपनी टीम के साथ आगे बढ़कर आतंकवादियों का पता लगाने की कोशिश की। बता दें कि रविवार को एलओसी पर आतंकियों ने घुसपैठ की। इसमें पहले दिन दो आतंकी मारे गए थे। जबकि सोमवार को तीन और आतंकी मारे गए। मुठभेड़ में सोमवार को संदीप सिंह घायल हो गए और श्रीनगर के 92 बेस अस्पताल में उन्होंने दम तोड़ दिया।

सर्जिकल स्‍ट्राइक करने वाली टीम का हिस्‍सा थे संदीप

आमने-सामने की लड़ाई में सिंह ने तीन आतंकवादियों को ढेर कर दिया। साथ ही आतंकवादियों के घातक हमले से अपने साथियों की जान बचाई। एक सूत्र ने कहा, 'इस साहसिक कार्रवाई के दौरान वह घायल हो गए लेकिन आतंकवादियों के खिलाफ गोलियां बरसाना जारी रखा। इसी बीच एक गोली उनके सिर में जा लगी। अस्‍पताल ले जाते समय लांस नायक सिंह शहीद हो गए। सेना के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा, 'अपनी सुरक्षा को ध्‍यान न देकर अपनी टीम की सुरक्षा के लिए तीन आतंकवादियों को मार गिराना उनके वीरतापूर्ण प्रदर्शन को दर्शाता है। इन आतंकवादियों के पास से बड़ी संख्‍या में हथियार बरामद हुए हैं।' उन्‍होंने बताया कि लांस नायक सिंह के परिवार में पत्‍नी और 5 साल का बेटा है। अधिकारी ने बताया कि सिंह दो साल पहले सर्जिकल स्‍ट्राइक करने वाली टीम का हिस्‍सा थे।