पैराशूट ना खुलने से 11 हजार 500 फुट की ऊंचाई से गिरा जवान, मौत

पैराशूट ना खुलने से 11 हजार 500 फुट की ऊंचाई से गिरा जवान, मौत
पैराशूट ना खुलने से 11 हजार 500 फुट की ऊंचाई से गिरा जवान, मौत

आगरा। मलपुरा के गामरी स्थित पैरा ड्रोपिंग जोन में गुरुवार दोपहर लगभग 11.5 हजार फुट की ऊंचाई से गिरने से पैरा ब्रिगेड के जवान हरदीप सिंह (26) की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि उनका पैराशूट नहीं खुला था। वह हेलिकॉप्टर से सीधे जमीन पर आकर गिरा। सेना के जवान उन्हें सैन्य अस्पताल ले गए। वहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। सूचना मिलते ही एयरफोर्स कर्मियों में हड़कंप मच गया. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

Indian Army Paratrooper Death After Parachute Does Not Open In Agra :

मलपुरा पुलिस के अनुसार घटना दोपहर 12 बजकर 15 मिनट की है। हवलदार अखंड प्रताप सिंह ने थाने पर हादसे की सूचना दी। बताया कि समाना, पटियाला (पंजाब) निवासी हरदीप सिंह (26) ने फ्री फॉल जंप लगाई थी। पैराशूट नहीं खुला। उनकी मौत हो गई। वह 11 पैरा स्पेशल फोर्स के जवान थे। सूचना पर मलपुरा पुलिस मिलिट्री हॉस्पिटल पहुंची। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। सेना की तरफ से हरदीप सिंह के परिजनों को सूचना दी गई। वे आगरा के लिए चल दिए थे। हरदीप सिंह ने एएन-32 हजार से 11 हजार फुट की ऊंचाई से छलांग लगाई थी। वह अकेले नहीं थे। कई और जवानों ने छलांग लगाई थी। हरदीप सिंह का पैराशूट नहीं खुला।

दोनों पैराशूट दे गए धोखा-

पैरा जंपिंग के दौरान दो पैराशूट होते हैं। एक मुख्य और दूसरा रिजर्व। हरदीप सिंह ने पहले मुख्य पैराशूट खोला था। वह थोड़ा सा खुला और उसकी रस्सियां आपस में लिपट गईं। यह देख उन्होंने रिजर्व पैराशूट खोला। वह भी नहीं खुला। रिजर्व पैराशूट मुख्य पैराशूट में लिपट गया। इस दौरान किसी को कुछ करने का मौका ही नहीं मिला। हरदीप सिंह अविवाहित थे। शुक्रवार को सैन्य सम्मान के साथ उनका पार्थिव शरीर उनके घर भेजा जाएगा।

आगरा। मलपुरा के गामरी स्थित पैरा ड्रोपिंग जोन में गुरुवार दोपहर लगभग 11.5 हजार फुट की ऊंचाई से गिरने से पैरा ब्रिगेड के जवान हरदीप सिंह (26) की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि उनका पैराशूट नहीं खुला था। वह हेलिकॉप्टर से सीधे जमीन पर आकर गिरा। सेना के जवान उन्हें सैन्य अस्पताल ले गए। वहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। सूचना मिलते ही एयरफोर्स कर्मियों में हड़कंप मच गया. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।मलपुरा पुलिस के अनुसार घटना दोपहर 12 बजकर 15 मिनट की है। हवलदार अखंड प्रताप सिंह ने थाने पर हादसे की सूचना दी। बताया कि समाना, पटियाला (पंजाब) निवासी हरदीप सिंह (26) ने फ्री फॉल जंप लगाई थी। पैराशूट नहीं खुला। उनकी मौत हो गई। वह 11 पैरा स्पेशल फोर्स के जवान थे। सूचना पर मलपुरा पुलिस मिलिट्री हॉस्पिटल पहुंची। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। सेना की तरफ से हरदीप सिंह के परिजनों को सूचना दी गई। वे आगरा के लिए चल दिए थे। हरदीप सिंह ने एएन-32 हजार से 11 हजार फुट की ऊंचाई से छलांग लगाई थी। वह अकेले नहीं थे। कई और जवानों ने छलांग लगाई थी। हरदीप सिंह का पैराशूट नहीं खुला।

दोनों पैराशूट दे गए धोखा-

पैरा जंपिंग के दौरान दो पैराशूट होते हैं। एक मुख्य और दूसरा रिजर्व। हरदीप सिंह ने पहले मुख्य पैराशूट खोला था। वह थोड़ा सा खुला और उसकी रस्सियां आपस में लिपट गईं। यह देख उन्होंने रिजर्व पैराशूट खोला। वह भी नहीं खुला। रिजर्व पैराशूट मुख्य पैराशूट में लिपट गया। इस दौरान किसी को कुछ करने का मौका ही नहीं मिला। हरदीप सिंह अविवाहित थे। शुक्रवार को सैन्य सम्मान के साथ उनका पार्थिव शरीर उनके घर भेजा जाएगा।