पैराशूट रेजीमेंट में दो महीने ट्रेनिंग कर सकेंगे महेंद्र सिंह धोनी, आर्मी चीफ ने दी इजाजत

dhoni
पैराशूट रेजीमेंट में दो महीने ट्रेनिंग कर सकेंगे महेंद्र सिंह धोनी, आर्मी चीफ ने दी इजाजत

नई दिल्ली। क्रिकेट टीम के विकेट कीपर महेंद्र सिंह धोनी को भारतीय सेना में टेरिटोरियल आर्मी की ट्रेनिंग की इजाजत मिल गई है। आर्मी चीफ बिपिन रावत ने धोनी को इसकी इजाजत दे दी है। इससे पहले धोनी ने बीसीसीआई को बता दिया था कि वे वेस्टइंडीज दौरे पर नहीं जा पाएंगे, क्योंकि वे अगले दो महीने का वक्त सेना को देंगे। रविवार को भारतीय टीम का ऐलान हो गया, जिसमें धोनी के नहीं चुना गया।

Indian Cricket Team Wicket Keeper Mahendra Singh Dhoni Territorial Army Training :

धोनी को इंडियन टेरिटोरियल आर्मी ने 2011 में लेफ्टिनेंट कर्नल की मानद रैंक दी थी। सूत्रों की मानें तो सेना प्रमुख की अनुमति के बाद धोनी जम्मू-कश्मीर में होने वाली पैराशूट रेजीमेंट की ट्रेनिंग का भी हिस्सा हो सकते हैं। सेना धोनी को किसी सक्रिय ऑपरेशन में शामिल नहीं करेगी।

‘धोनी संन्यास का फैसला लेने में सक्षम हैं’

भारतीय टीम को वेस्टइंडीज दौरे पर तीन टी-20, तीन वनडे और दो टेस्ट मैच खेलने हैं। बीसीसीआई के चीफ सिलेक्टर एमएसके प्रसाद ने धोनी को टीम में शामिल नहीं किए जाने पर कहा कि धोनी इस दौरे के लिए उपलब्ध नहीं थे। वे खुद इस दौरे में शामिल नहीं होना चाहते। प्रसाद ने धोनी के संन्यास के सवाल पर कहा कि यह उनका निजी फैसला है। धोनी संन्यास का फैसला लेने में सक्षम हैं।

नई दिल्ली। क्रिकेट टीम के विकेट कीपर महेंद्र सिंह धोनी को भारतीय सेना में टेरिटोरियल आर्मी की ट्रेनिंग की इजाजत मिल गई है। आर्मी चीफ बिपिन रावत ने धोनी को इसकी इजाजत दे दी है। इससे पहले धोनी ने बीसीसीआई को बता दिया था कि वे वेस्टइंडीज दौरे पर नहीं जा पाएंगे, क्योंकि वे अगले दो महीने का वक्त सेना को देंगे। रविवार को भारतीय टीम का ऐलान हो गया, जिसमें धोनी के नहीं चुना गया। धोनी को इंडियन टेरिटोरियल आर्मी ने 2011 में लेफ्टिनेंट कर्नल की मानद रैंक दी थी। सूत्रों की मानें तो सेना प्रमुख की अनुमति के बाद धोनी जम्मू-कश्मीर में होने वाली पैराशूट रेजीमेंट की ट्रेनिंग का भी हिस्सा हो सकते हैं। सेना धोनी को किसी सक्रिय ऑपरेशन में शामिल नहीं करेगी। ‘धोनी संन्यास का फैसला लेने में सक्षम हैं’ भारतीय टीम को वेस्टइंडीज दौरे पर तीन टी-20, तीन वनडे और दो टेस्ट मैच खेलने हैं। बीसीसीआई के चीफ सिलेक्टर एमएसके प्रसाद ने धोनी को टीम में शामिल नहीं किए जाने पर कहा कि धोनी इस दौरे के लिए उपलब्ध नहीं थे। वे खुद इस दौरे में शामिल नहीं होना चाहते। प्रसाद ने धोनी के संन्यास के सवाल पर कहा कि यह उनका निजी फैसला है। धोनी संन्यास का फैसला लेने में सक्षम हैं।