शर्मनाक : फ्लाइट में मासूम के रोने पर क्रू ने दी खिड़की से फेंकने की धमकी, बीच रास्ते ही परिवार को उतारा

british airways
शर्मनाक : फ्लाइट में मासूम के रोने पर क्रू ने दी खिड़की से फेंकने की धमकी, बीच रास्ते ही परिवार को उतारा

नई दिल्ली। ​यूरोप की एक बड़ी एयरलाइंस के जहाज में तैनात क्रू ने बहुत ही शर्मनाक घटना को अंजाम दिया है। हुंआ यूं कि एक भारतीय परिवार अपने तीन साल के बच्चे के साथ फ्लाइट में सवार हुआ। जैसे ही फ्लाइट टेंक आॅफ हुई तभी उनका मासूम बच्चा रोने लगा। महिला ने बच्चे को चुप कराने का काफी प्रयास भी किया।

Indian Family Offloaded From Plane Of British Airways Flight Over Crying Three Year Old Child :

जब बच्चा नही चुप हुआ तो क्रू वहां पहुंचा और बच्चे को खिड़की के बाहर ​फेंक देने की धमकी की। यही नही उस पर अभद्र टिप्प्णी करते हुए जहाज से उतार दिया। भारतीय परिवार ने इसकी शिकायत उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु से की है।

बताया जा रहा है कि बच्चे के रोने पर मां ने उसे चुप कराने की कोशिश कर रही थी, तब केबिन क्रू ने बच्चे को और डरा दिया जिसके बाद वह लगातार रोता रहा। ऐसे में परिवार के साथ बच्चे की मदद करने की कोशिश कर रहे कुछ अन्य भारतीय परिवारों को भी फ्लाइट से उतार दिया गया। बता दें कि भारतीयों के साथ ये कथित तौर पर रंगभेद और अपमानजनक घटना एक ब्रिटिश एयरवेज की लंदन-बर्लिन फ्लाइट (बीए 8495) में हुई। घटना 23 जुलाई की है, जो 1984 बैच के एक भारतीय इंजीनियरिंग सर्विस के अधिकारी के साथ हुई। अधिकारी फिलहाल रोड ट्रांसपॉर्ट मंत्रालय में काम कर रहे हैं।

इस घटना पर ब्रिटिश एयरवेज के प्रवक्ता का कहना है कि हम ऐसी घटनाओं को गंभीरता से लेते हैं। उन्होने कहा कि ​कस्टमर के साथ हुआ व्यवहार निंदात्मक है। उन्होने कहा कि हम अपने कस्टमर से लगातार संपर्क में हैं और इस घटना की जांच शुरू कर दी गई है।

नई दिल्ली। ​यूरोप की एक बड़ी एयरलाइंस के जहाज में तैनात क्रू ने बहुत ही शर्मनाक घटना को अंजाम दिया है। हुंआ यूं कि एक भारतीय परिवार अपने तीन साल के बच्चे के साथ फ्लाइट में सवार हुआ। जैसे ही फ्लाइट टेंक आॅफ हुई तभी उनका मासूम बच्चा रोने लगा। महिला ने बच्चे को चुप कराने का काफी प्रयास भी किया।जब बच्चा नही चुप हुआ तो क्रू वहां पहुंचा और बच्चे को खिड़की के बाहर ​फेंक देने की धमकी की। यही नही उस पर अभद्र टिप्प्णी करते हुए जहाज से उतार दिया। भारतीय परिवार ने इसकी शिकायत उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु से की है।बताया जा रहा है कि बच्चे के रोने पर मां ने उसे चुप कराने की कोशिश कर रही थी, तब केबिन क्रू ने बच्चे को और डरा दिया जिसके बाद वह लगातार रोता रहा। ऐसे में परिवार के साथ बच्चे की मदद करने की कोशिश कर रहे कुछ अन्य भारतीय परिवारों को भी फ्लाइट से उतार दिया गया। बता दें कि भारतीयों के साथ ये कथित तौर पर रंगभेद और अपमानजनक घटना एक ब्रिटिश एयरवेज की लंदन-बर्लिन फ्लाइट (बीए 8495) में हुई। घटना 23 जुलाई की है, जो 1984 बैच के एक भारतीय इंजीनियरिंग सर्विस के अधिकारी के साथ हुई। अधिकारी फिलहाल रोड ट्रांसपॉर्ट मंत्रालय में काम कर रहे हैं।इस घटना पर ब्रिटिश एयरवेज के प्रवक्ता का कहना है कि हम ऐसी घटनाओं को गंभीरता से लेते हैं। उन्होने कहा कि ​कस्टमर के साथ हुआ व्यवहार निंदात्मक है। उन्होने कहा कि हम अपने कस्टमर से लगातार संपर्क में हैं और इस घटना की जांच शुरू कर दी गई है।