कोहरे से लड़ने के लिए तैयार भारतीय रेलवे, रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर दी जानकारी

Indian Railways
कोहरे से लड़ने के लिए तैयार भारतीय रेलवे, रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर दी जानकारी

नई दिल्ली। देश में ठंड ने भले ही दस्तक दे दी हो लेकिन कोहरे का असर अभी तक दिखाई नहीं दिया है। आने वाले समय में रेलवे ने इससे निपटने की तैयारी शुरू कर दी है। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर कोहरे में लेट होने वाली ट्रेनों की सूचना यात्रियों को समय-समय पर एसएमएस के जरिये देने की व्यवस्था के निर्देश दिए हैं।

Indian Railways Ready To Fight Fog Railway Minister Piyush Goyal Tweeted Information :

दरअसल, रेलवे के रिकार्ड की माने तो कोहरे का असर 15 दिसंबर के बाद होता है। इसके मद्देनजर उत्तर रेलवे में चलने वाली 38 ट्रेनों को पूरी तरह से 31 जनवरी तक निरस्त कर दिया गया है। 20 से अधिक ट्रेनों को सप्ताह में एक से तीन दिन तक निरस्त किया है।

वहीं, रेलवे ने कोहरे के दौरान क्या व्यवस्था की है, इसकी जानकारी रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर दी है। इसमें कहा गया है कि कोहरे में ट्रेनों के देरी से चलने की जानकारी एसएमएस के माध्यम से यात्रियों को दी जाएगी। इसकी तैयारी कर ली गई है। सुरक्षित ट्रेनों का संचालन करने के लिए फॉग सेफ्टी डिवाइस जैसे आधुनिक सिस्टम प्रमुख स्टेशनों व ट्रेनों के इंजन पर लगाए गए हैं।

बता दें, यह सिस्टम चालक को सिग्नल, स्टेशन, रेल फाटक की जानकारी देगा। साथ ही ट्रेन कहां चल रही है, इसकी सही सूचना रेलवे अधिकारियों व कर्मियों को मिलेगी। ट्वीट में रेल मंत्री ने कहा कि रात में रेल लाइन पर पेट्रोलिंग कराने की विशेष व्यवस्था की गई है। इससे रेल लाइन चटकने व टूटने की जानकारी समय से चालक, स्टेशन मास्टर और अधिकारियों को मिल जाएगी। समय से मरम्मत कर ट्रेन को चलाया जा सकेगा।

नई दिल्ली। देश में ठंड ने भले ही दस्तक दे दी हो लेकिन कोहरे का असर अभी तक दिखाई नहीं दिया है। आने वाले समय में रेलवे ने इससे निपटने की तैयारी शुरू कर दी है। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर कोहरे में लेट होने वाली ट्रेनों की सूचना यात्रियों को समय-समय पर एसएमएस के जरिये देने की व्यवस्था के निर्देश दिए हैं। दरअसल, रेलवे के रिकार्ड की माने तो कोहरे का असर 15 दिसंबर के बाद होता है। इसके मद्देनजर उत्तर रेलवे में चलने वाली 38 ट्रेनों को पूरी तरह से 31 जनवरी तक निरस्त कर दिया गया है। 20 से अधिक ट्रेनों को सप्ताह में एक से तीन दिन तक निरस्त किया है। वहीं, रेलवे ने कोहरे के दौरान क्या व्यवस्था की है, इसकी जानकारी रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर दी है। इसमें कहा गया है कि कोहरे में ट्रेनों के देरी से चलने की जानकारी एसएमएस के माध्यम से यात्रियों को दी जाएगी। इसकी तैयारी कर ली गई है। सुरक्षित ट्रेनों का संचालन करने के लिए फॉग सेफ्टी डिवाइस जैसे आधुनिक सिस्टम प्रमुख स्टेशनों व ट्रेनों के इंजन पर लगाए गए हैं। बता दें, यह सिस्टम चालक को सिग्नल, स्टेशन, रेल फाटक की जानकारी देगा। साथ ही ट्रेन कहां चल रही है, इसकी सही सूचना रेलवे अधिकारियों व कर्मियों को मिलेगी। ट्वीट में रेल मंत्री ने कहा कि रात में रेल लाइन पर पेट्रोलिंग कराने की विशेष व्यवस्था की गई है। इससे रेल लाइन चटकने व टूटने की जानकारी समय से चालक, स्टेशन मास्टर और अधिकारियों को मिल जाएगी। समय से मरम्मत कर ट्रेन को चलाया जा सकेगा।