1. हिन्दी समाचार
  2. भारतीय रेलवे 36 लाख प्रवासियों के लिए अगले 10 दिनों में चलाएगा 2600 और श्रमिक स्पेशल ट्रेन

भारतीय रेलवे 36 लाख प्रवासियों के लिए अगले 10 दिनों में चलाएगा 2600 और श्रमिक स्पेशल ट्रेन

Indian Railways To Run 2600 More Laborers Special Trains In Next 10 Days For 36 Lakh Migrants

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नई दिल्ली । रेलवे बोर्ड के चेयरमैन (सीआरबी) विनोद कुमार यादव ने बताया कि विभिन्न राज्यों में फंसे प्रवासियों को उनके गृह राज्यों तक जल्द से जल्द पहुंचाने के लिए रेलवे अगले 10 दिनों में 2600 और श्रमिक रेलगाड़ियों का परिचालन करेगा। इससे लगभग 36 लाख प्रवासी मजदूरों, छात्रों और पर्यटकों को राहत मिलेगी।

पढ़ें :- विश्व के सबसे बड़े पर्यटन क्षेत्र के रूप में उभर रहा है केवड़िया: PM मोदी

सीआरबी विनोद कुमार यादव ने कहा कि एक बड़े फैसले में रेल मंत्रालय ने राज्य सरकारों की जरूरतों के अनुसार देश भर में अगले दस दिनों में 2600 अधिक श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का परिचालन करने का निर्णय लिया है। रेलवे और राज्य सरकारों ने इन ‘श्रमिक स्पेशल’ के समन्वय और सुचारू संचालन के लिए वरिष्ठ अधिकारियों को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है। भारतीय रेलवे ने पिछले 23 दिनों में 2600 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई हैं। लगभग 36 लाख फंसे प्रवासियों को अब तक उनके गृह राज्यों में पहुंचाया गया है।

उल्लेखनीय है कि श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के अलावा रेल मंत्रालय ने 15 जोड़ी स्पेशल ट्रेनों काे भी 12 मई से शुरू कर दिया है। इसके अलावा एक जून से 200 एसी और नॉन ऐसी ट्रेन सेवाओं की भी बुकिंग शुरू कर दी ही। उन्होंने बताया कि 20 मई को सबसे अधिक 279 श्रमिक स्पेशल रेलगाड़ियों का परिचालन किया गया, जिससे चार लाख प्रवासियों को उनके गृह राज्य तक पहुंचाया गया। अब तक कुल चलाई गई रेलगाड़ियों में 80 प्रतिशत श्रमिक स्पेशल रेलगाड़ियां उत्तर प्रदेश और बिहार के लिए थीं। पिछले 4 दिनों में औसतन 261 ट्रेन प्रतिदिन चलाई गई हैं।

सीआरबी ने बताया कि पांच हजार कोविड केयर सेंटर के 50 प्रतिशत कोच श्रमिक स्पेशल रेलगाड़ियों में इस्तेमाल किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि शेष कोविड केयर सेंटर को आवश्यकता पड़ने पर कोरोना संक्रमितओं को रखने के लिए मुहैया कराया जाएगा।

एक सवाल के जवाब में सीआरबी ने कहा कि जब तक जरूरत है और प्रवासियों का पंजीकरण होगा, तब तक श्रमिक स्पेशल रेलगाड़ियां चलती रहेंगी। चेयरमैन रेलवे बोर्ड ने एक जून से चलने वाली 200 ट्रेनों की बुकिंग के संबंध में कहा कि उसकी मॉनिटरिंग जारी है। इनमें पूरब दिशा की ओर जाने वाली ट्रेनों में 90 प्रतिशत तक बुकिंग हुई है। ऐसे में जरूरत पड़ी तो उन रूटों के लिए कुछ और ट्रेनें चलाई जाएंगी।

पढ़ें :- सीएम योगी ने झांसी में स्ट्रॉबेरी महोत्सव का किया वर्चुअल शुभारम्भ, कहा-बुन्देलखण्ड में मिलेगी ...

पश्चिम बंगाल द्वारा रेल सेवाओं के संबंध में सीआरबी ने स्पष्ट किया कि बंगाल में साइक्लोन के कारण ट्रेनें रुकी हैं। हालात सामान्य होते की रेल चलेंगी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...