1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. तेलंगाना एक्सप्रेस 2 हिस्‍सों में बंटी, 7 डिब्बे इंजन के साथ आगे दौड़े, बाकी पीछे छूटे

तेलंगाना एक्सप्रेस 2 हिस्‍सों में बंटी, 7 डिब्बे इंजन के साथ आगे दौड़े, बाकी पीछे छूटे

मध्य प्रदेश (Mdahya Padesh) के मुरैना में बड़ा हादसा होते-होते टल गया। बीते बुधवार की रात नई दिल्ली से हैदराबाद जा रही तेलंगाना एक्सप्रेस (Telangana Express) बड़ी दुर्घटना होते होते बच गई। ट्रेन की कपलिंग खुलने से ट्रेन दो हिस्सों में बंट गई थी। यह घटना एक बार नहीं बल्कि दो बार हुई। पहली बार हेतमपुर में कपलिंग खुली। इसके बाद दूसरी बार फिर ट्रेन की कपलिंग मुरैना स्टेशन पर खुली। गनीमत रही कि इस घटना में कोई नुकसान नहीं हुआ।

By संतोष सिंह 
Updated Date

मुरैना। मध्य प्रदेश (Mdahya Padesh) के मुरैना में बड़ा हादसा होते-होते टल गया। बीते बुधवार की रात नई दिल्ली से हैदराबाद जा रही तेलंगाना एक्सप्रेस (Telangana Express) बड़ी दुर्घटना होते होते बच गई। ट्रेन की कपलिंग खुलने से ट्रेन दो हिस्सों में बंट गई थी। यह घटना एक बार नहीं बल्कि दो बार हुई। पहली बार हेतमपुर में कपलिंग खुली। इसके बाद दूसरी बार फिर ट्रेन की कपलिंग मुरैना स्टेशन पर खुली। गनीमत रही कि इस घटना में कोई नुकसान नहीं हुआ।

पढ़ें :- भारतीय रेलवे ने किया 374 से ज्यादा ट्रेनों को रद्द, देखें पूरी लिस्ट

प्राप्त जानकारी के अनुसार जब पहली बार कपलिंग खुली तो ट्रेन धीमी गती से चल रही थी और दूसरी बार मुरैना स्टेशर से रवाना होने के समय कपलिंग खुली। मुरैना स्टेशन पर इंजन के साथ 7 बोगी अलग हो गई और शेष बोगी अलग हो गई। तकरीबन पचास मीटर आगे जाने पर गाड़ी अपने आप रुक गई. इसके बाद रेलवे स्टाफ ने आनन-फानन में कपलिंग जोड़ा तब गाड़ी आगे बढ़ पाई। रिपेयरिंग की समस्या के कारण ट्रेन 3 घंटे लेट हो गई थी।

जानकारी के मुताबिक तेलंगाना एक्सप्रेस (Telangana Express) में नई दिल्ली से आते समय कोच में दिक्कत की सूचना बुधवार रात को रेलवे कंट्रोल रूम को दी गई। इसके कारण रात करीब 8.15 बजे ट्रेन को हेतमपुर स्टेशन पर रोका गया था। एक मिनट बाद जैसे ही ट्रेन रवाना हुई तो कोच ए-1 और बी-7 की कपलिंग खुल गई। इस कारण करीब 41 मिनट ट्रेन खड़ी रही। बताया जा रहा है कि ट्रेन लूप लाइन में थी और स्पीड नहीं पकड़ी थी। इसलिए कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ।

हेतमपूर के बाद ट्रेन जैसे-तैसे मुरैना पहुंची। यहां करीब 9.25 बजे ट्रेन रवाना हुई तो एक बार फिर कपलिंग खुल गई। इस दैरान ट्रेन के 7 डिब्बे इंजन के साथ आगे बढ़ गए और शेष 21 डिब्बे वहीं खड़े रह गए। कपलिंग टूटने से कोच के यात्री थोड़े घबरा गए थे। फिर स्थानीय टेक्नीकल स्टाफ ने इसे जोड़ा और ट्रेन मुरैना स्टेशन से करीब 1.15 पर रवाना हुई।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...