1. हिन्दी समाचार
  2. तकनीक
  3. इंडियन टैलेंट का दुनिया में बजा फिर डंका, भारतीय मूल के लक्ष्मण नरसिम्हन बने स्टारबक्स के नए CEO

इंडियन टैलेंट का दुनिया में बजा फिर डंका, भारतीय मूल के लक्ष्मण नरसिम्हन बने स्टारबक्स के नए CEO

Starbucks New CEO : अमेरिका की दिग्गज कॉफी कंपनी स्टारबक्स (Starbucks) ने अपनी कमान एक भारतीय के हाथों में सौंप दी है। स्टारबक्स (Starbucks) के मैनजमेंट ने भारतीय मूल के लक्ष्मण नरसिम्हन (Laxman Narasimhan) को कंपनी का मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) नियुक्त करने का ऐलान किया है। नरसिम्हन एक अक्टूबर से स्टारबक्स (Starbucks)से जुड़ जाएंगे और अगले साल कंपनी के मौजूदा सीईओ हॉवर्ड शुल्त्स (Howard Schultz) की जगह लेंगे।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Starbucks New CEO : अमेरिका की दिग्गज कॉफी कंपनी स्टारबक्स (Starbucks) ने अपनी कमान एक भारतीय के हाथों में सौंप दी है। स्टारबक्स (Starbucks) के मैनजमेंट ने भारतीय मूल के लक्ष्मण नरसिम्हन (Laxman Narasimhan) को कंपनी का मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) नियुक्त करने का ऐलान किया है। नरसिम्हन एक अक्टूबर से स्टारबक्स (Starbucks)से जुड़ जाएंगे और अगले साल कंपनी के मौजूदा सीईओ हॉवर्ड शुल्त्स (Howard Schultz) की जगह लेंगे।

पढ़ें :- कानपुर एक दर्दनाक हादसा: ट्रैक्टर-ट्राली अनियंत्रित होकर पलटी, 22 की मौत

स्टारबक्स के सीईओ नियुक्त होने के ऐलान के बाद नरसिम्हन भी सुंदर पिचाई और पराग अग्रवाल के क्लब में शामिल हो गए हैं, जिनके हाथों में विदेशी कंपिनयों की कमान है। सुंदर पिचाई गूगल और पराग अग्रवाल ट्विटर के सीईओ हैं। अगले साल से संभालेंगे सीईओ का पद एक अक्टूबर से अमेरिकन कंपनी स्टारबक्स में शामिल होने वाले लक्ष्मण नरसिम्हन की मदद के लिए हॉवर्ड शुल्त्स अप्रैल 2023 तक अंतरिम प्रमुख के रूप में बने रहेंगे।

कई जिम्मेदारियां संभाल चुके हैं नरसिम्हन
55 वर्षीय नरसिम्हन हाल ही में यूके बेस्ड कंज्यूमर, हेल्थ, हाइजीन और न्यूट्रिशन कंपनी रेकिट (Reckitt) के सीईओ थे, जो अन्य उत्पादों के बीच लाइसोल क्लीनर और एनफैमिल फॉर्मूला बनाती है। रेकिट (Reckitt) ने गुरुवार को नरसिम्हन के अचानक जाने की घोषणा की थी। घोषणा के बाद रेकिट के शेयर 5% गिर गए।

नरसिम्हन ने पेप्सिको में कई लीडरशिप रोल्स निभाए हैं
इससे पहले, नरसिम्हन ने पेप्सिको में कई लीडरशिप रोल्स निभाए हैं, जिसमें ग्लोबल चीफ कमर्शियल ऑफिसर का रोल भी शामिल था। उन्होंने कंपनी के लैटिन अमेरिका, यूरोप और उप-सहारा अफ्रीका संचालन के सीईओ के रूप में भी काम किया। नरसिम्हन ने कंसल्टिंग फर्म मैकिन्से एंड कंपनी में एक सीनियर पार्टनर के रूप में भी काम किया है, जहां उन्होंने यू.एस., एशिया और भारत में अपने उपभोक्ता, खुदरा और टेक्नोलॉजी प्रैक्टिस पर ध्यान केंद्रित किया है।

नरसिम्हन ने कहां से ली है एजुकेशन
नरसिम्हन ने भारत की पुणे यूनिवर्सिटी से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिग्री प्राप्त की है और पेन्सिलवेनिया विश्वविद्यालय में द लॉडर इंस्टीट्यूट से जर्मन और अंतर्राष्ट्रीय अध्ययन में मास्टर डिग्री प्राप्त की है। उन्होंने पेन्सिलवेनिया विश्वविद्यालय के व्हार्टन स्कूल से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर्स भी किया है।

पढ़ें :- पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान की बढेंगी मुश्किलें, इस मामले में जारी हुआ गिरफ्तारी वारंट

आनंद महिंद्रा बोले- इंडियन CEO की सुनामी…

लक्ष्मण नरसिम्हन के स्टारबक्स से सीईओ बनने पर दिग्गज उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने ट्वीट कर भारतीय टैलेंट की तारीफ की है। उन्होंने कहा- ‘शुरू में जो पानी की एक बूंद थी वह अब सुनामी में बदल गई है। दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित कंपनियों में भारतीय मूल के सीईओ की नियुक्ति अब एक चल बन गया है। इंटरनेशनल बोर्ड रूम में उन्हें लीडरशीप सौंपना लगभग सुरक्षित दांव माना जा रहा है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...