ब्राजील जाने के लिए भारतीयों को अब वीजा की जरूरत नहीं: राष्ट्रपति बोल्सोनारो

bolsonaro
ब्राजील जाने के लिए भारतीयों को अब वीजा की जरूरत नहीं: राष्ट्रपति बोल्सोनारो

नई दिल्ली। दुनिया के पांचवें सबसे बड़े देश ब्राजील (Brazil) ने दिवाली से पहले भारतीयों को बड़ा तोहफा दिया है। ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो (Jair Bolsonaro) ने कहा है कि भारत के लोगों को ब्राजील आने के लिए वीजा (Visa) की जरूरत नहीं होगी। हाल ही में ब्राजील ने अमेरिका, कनाडा, जापान और ऑस्ट्रेलियाई नागरिकों के लिए वीजा खत्म किया था।

Indians Will No Longer Require Visas To Visit Brazil Says Its President Jair Bolsonaro :

ब्राजील में इसी साल चुनाव जीतकर राष्ट्रपति बने बोल्सोनारो ने अपनी नीतियों से स्पष्ट कर दिया था कि उनकी सरकार विकासशील देशों के लिए वीजा जरूरतों को खत्म करेगी। हालांकि, भारत-चीन के लिए बोल्सोनारो का यह ऐलान उनके बीजिंग दौरे से ठीक पहले आया है।

गौरतलब है कि ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो को कड़े फैसले लेने के लिए जाना जाता है। भ्रष्टाचार से मुक्ति दिलाने के वादों की वजह से उन्हें जीत मिली है। इस बार के चुनाव में उन्होंने काफी अंतर से जीत दर्ज कराई थी। हालांकि, राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो को नस्लवादी, समलैंगिक विरोधी और महिला विरोधी टिप्पणियों के लिए जाना चाहता है।  

ब्रिक्स समिट में मोदी से मिलेंगे बोल्सोनारो

इस साल ब्रिक्स (ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका) समिट ब्राजील की राजधानी ब्रासीलिया में 13-14 नवंबर को आयोजित होगी। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी हिस्सा लेंगे। माना जा रहा है कि मोदी और बोल्सोनारो यहां बैठक के दौरान कई मुद्दों पर समझौते करेंगे। इससे पहले दोनों नेता जून में जी-20 समिट के दौरान मिले थे। यहां दोनों के बीच व्यापार और कूटनीतिक सहयोग बढ़ाने पर चर्चा हुई थी।

नई दिल्ली। दुनिया के पांचवें सबसे बड़े देश ब्राजील (Brazil) ने दिवाली से पहले भारतीयों को बड़ा तोहफा दिया है। ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो (Jair Bolsonaro) ने कहा है कि भारत के लोगों को ब्राजील आने के लिए वीजा (Visa) की जरूरत नहीं होगी। हाल ही में ब्राजील ने अमेरिका, कनाडा, जापान और ऑस्ट्रेलियाई नागरिकों के लिए वीजा खत्म किया था। ब्राजील में इसी साल चुनाव जीतकर राष्ट्रपति बने बोल्सोनारो ने अपनी नीतियों से स्पष्ट कर दिया था कि उनकी सरकार विकासशील देशों के लिए वीजा जरूरतों को खत्म करेगी। हालांकि, भारत-चीन के लिए बोल्सोनारो का यह ऐलान उनके बीजिंग दौरे से ठीक पहले आया है। गौरतलब है कि ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो को कड़े फैसले लेने के लिए जाना जाता है। भ्रष्टाचार से मुक्ति दिलाने के वादों की वजह से उन्हें जीत मिली है। इस बार के चुनाव में उन्होंने काफी अंतर से जीत दर्ज कराई थी। हालांकि, राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो को नस्लवादी, समलैंगिक विरोधी और महिला विरोधी टिप्पणियों के लिए जाना चाहता है।   ब्रिक्स समिट में मोदी से मिलेंगे बोल्सोनारो इस साल ब्रिक्स (ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका) समिट ब्राजील की राजधानी ब्रासीलिया में 13-14 नवंबर को आयोजित होगी। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी हिस्सा लेंगे। माना जा रहा है कि मोदी और बोल्सोनारो यहां बैठक के दौरान कई मुद्दों पर समझौते करेंगे। इससे पहले दोनों नेता जून में जी-20 समिट के दौरान मिले थे। यहां दोनों के बीच व्यापार और कूटनीतिक सहयोग बढ़ाने पर चर्चा हुई थी।