इंदौर शहर ने मारी हैट्रिक, तीसरी बार बना सबसे स्वच्छ शहर

cleanest city
इंदौर शहर ने मारी हैट्रिक, तीसरी बार बना सबसे स्वच्छ शहर

नई दिल्ली। भारत में स्वच्छता सर्वेक्षण-2019 के लिए देश के सबसे स्वच्छ शहरों के नाम का ऐलान बुधवार को राष्ट्रपति भवन में हुआ। इस सर्वे में इंदौर लगातार तीसरी बार प्रथम स्थान पर रहा। सबसे स्वच्छ राजधानियों में भोपाल पहले स्थान पर है। 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों में अहमदाबाद और पांच लाख से कम आबादी वाले शहरों में उज्जैन ने बाजी मारी है।

Indore City Hits Hatrick Of The Cleanest City For The Third Time :

रिपोर्ट के मुताबिक, स्वच्छता सर्वेक्षण-2019 में 4237 शहरों का सर्वेक्षण 28 दिनों में किया गया। इस दौरान विभिन्न टीमों ने 64 लाख लोगों का प्रतिक्रिया लिया। यही नहीं इस सर्वेक्षण में सोशल मीडिया का सहारा लेकर इन शहरों के 4 करोड़ लोगों से फीडबैक लिया गया। टीम ने इन शहरों के 41 लाख फोटोग्राफ्स जमा किया। सर्वेक्षण में शामिल शहरों की तरफ से स्वच्छता के संदर्भ में 4.5 लाख डॉक्यूमेंट्स अपलोड किए गए।  

बता दें कि इस साल के स्वच्छता सर्वेक्षण में कुल 70 वर्ग में पुरस्कार बांटें गए हैं। सबसे स्वच्छ शहर ही नहीं बल्कि स्टार रैकिंग और जीरो वेस्ट मैनेजमेंट का पुरस्कार भी इंदौर को मिला। वहीं मध्य प्रदेश को 19 पुरस्कार मिले हैं। सर्वेक्षण में अव्वल रहने पर इंदौर को सफाई के लिए अब विशेष अनुदान मिलेगा। पिछली बार 20 करोड़ रुपए की रकम इंदौर शहर को मिला था।

नई दिल्ली। भारत में स्वच्छता सर्वेक्षण-2019 के लिए देश के सबसे स्वच्छ शहरों के नाम का ऐलान बुधवार को राष्ट्रपति भवन में हुआ। इस सर्वे में इंदौर लगातार तीसरी बार प्रथम स्थान पर रहा। सबसे स्वच्छ राजधानियों में भोपाल पहले स्थान पर है। 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों में अहमदाबाद और पांच लाख से कम आबादी वाले शहरों में उज्जैन ने बाजी मारी है।

रिपोर्ट के मुताबिक, स्वच्छता सर्वेक्षण-2019 में 4237 शहरों का सर्वेक्षण 28 दिनों में किया गया। इस दौरान विभिन्न टीमों ने 64 लाख लोगों का प्रतिक्रिया लिया। यही नहीं इस सर्वेक्षण में सोशल मीडिया का सहारा लेकर इन शहरों के 4 करोड़ लोगों से फीडबैक लिया गया। टीम ने इन शहरों के 41 लाख फोटोग्राफ्स जमा किया। सर्वेक्षण में शामिल शहरों की तरफ से स्वच्छता के संदर्भ में 4.5 लाख डॉक्यूमेंट्स अपलोड किए गए।  

बता दें कि इस साल के स्वच्छता सर्वेक्षण में कुल 70 वर्ग में पुरस्कार बांटें गए हैं। सबसे स्वच्छ शहर ही नहीं बल्कि स्टार रैकिंग और जीरो वेस्ट मैनेजमेंट का पुरस्कार भी इंदौर को मिला। वहीं मध्य प्रदेश को 19 पुरस्कार मिले हैं। सर्वेक्षण में अव्वल रहने पर इंदौर को सफाई के लिए अब विशेष अनुदान मिलेगा। पिछली बार 20 करोड़ रुपए की रकम इंदौर शहर को मिला था।