पाकिस्तान के लोगों पर महंगाई की मार, 400 रुपए प्रति किलो हुआ टमाटर

tamoto
पाकिस्तान के लोगों पर महंगाई की मार, 400 रुपए प्रति किलो हुआ टमाटर

नई दिल्ली। पाकिस्तान (Pakistan) के सबसे बड़े शहर कराची (Karachi) में टमाटर की कीमत (Tomatoes Price) मंगलवार को 400 रुपये किलो की रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गई। टमाटर के आयात पर प्रतिबंध सहित कई कारण है जिसकी वजह से दाम चढ़ा है। मीडिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है।

Inflation Hit Pakistans People Tomato Is Rs 400 Per Kg :

पाकिस्तानी अखबार डॉन न्यूज ने बताया कि पाकिस्तान सरकार ने पिछले सप्ताह ईरान से 4,500 टन टमाटर आयात करने का परमिट जारी किया था, लेकिन बाजार में यह आगमन जोर नहीं पकड़ सका, जिसके परिणामस्वरूप बढ़ती मांग की वजह से टमाटर की कीमतों में निरंतर वृद्धि होती चली गई। रिपोर्ट में एक व्यापारी के हवाले से बताया गया है कि ईरान से 4,500 टन टमाटर का आयात करने का परमिट दिया गया था। लेकिन इसमें से केवल 989 टन टमाटर ही पाकिस्तान पहुंच पाया।

बताया जा रहा है कि स्थिति को संभालने के लिए पाकिस्तान सरकार ने ईरान से टमाटर का आयात किया लेकिन ईरानी टमाटर बाजार में पहुंच नहीं पाने की वजह से मंडियों में इसकी कीमत में कोई कमी नहीं आ सकी। हालात ऐसे हो गए कि मांग की तुलना में आपूर्ति कम होने के कारण इसकी कीमत 400 रुपये किलो तक पहुंच गई। रिपोर्ट्स के मुताबिक, कराची में सोमवार को टमाटर 300 रुपये प्रति किलो बिका और मंगलवार को इसकी कीमत बढ़कर 400 रुपये किलो हो गई।

हमेशा की तरह स्थानीय प्रशासन ने एक बार फिर टमाटर के इस खुदरा मूल्य से इनकार करते हुए कहा कि मंगलवार को एक किलो टमाटर 253 रुपये में बिका। हालांकि, प्रशासन ने यह जरूर माना कि सोमवार की तुलना में मंगलवार को टमाटर की कीमत में 50 रुपये प्रति किलो से अधिक की वृद्धि हुई। एक व्यापारी ने कहा कि सरकार ने ईरान से साढ़े चार हजार टन टमाटर आयात करने का परमिट जारी किया था लेकिन अभी 989 टन ही पाकिस्तान पहुंच सका है।

नई दिल्ली। पाकिस्तान (Pakistan) के सबसे बड़े शहर कराची (Karachi) में टमाटर की कीमत (Tomatoes Price) मंगलवार को 400 रुपये किलो की रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गई। टमाटर के आयात पर प्रतिबंध सहित कई कारण है जिसकी वजह से दाम चढ़ा है। मीडिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। पाकिस्तानी अखबार डॉन न्यूज ने बताया कि पाकिस्तान सरकार ने पिछले सप्ताह ईरान से 4,500 टन टमाटर आयात करने का परमिट जारी किया था, लेकिन बाजार में यह आगमन जोर नहीं पकड़ सका, जिसके परिणामस्वरूप बढ़ती मांग की वजह से टमाटर की कीमतों में निरंतर वृद्धि होती चली गई। रिपोर्ट में एक व्यापारी के हवाले से बताया गया है कि ईरान से 4,500 टन टमाटर का आयात करने का परमिट दिया गया था। लेकिन इसमें से केवल 989 टन टमाटर ही पाकिस्तान पहुंच पाया। बताया जा रहा है कि स्थिति को संभालने के लिए पाकिस्तान सरकार ने ईरान से टमाटर का आयात किया लेकिन ईरानी टमाटर बाजार में पहुंच नहीं पाने की वजह से मंडियों में इसकी कीमत में कोई कमी नहीं आ सकी। हालात ऐसे हो गए कि मांग की तुलना में आपूर्ति कम होने के कारण इसकी कीमत 400 रुपये किलो तक पहुंच गई। रिपोर्ट्स के मुताबिक, कराची में सोमवार को टमाटर 300 रुपये प्रति किलो बिका और मंगलवार को इसकी कीमत बढ़कर 400 रुपये किलो हो गई। हमेशा की तरह स्थानीय प्रशासन ने एक बार फिर टमाटर के इस खुदरा मूल्य से इनकार करते हुए कहा कि मंगलवार को एक किलो टमाटर 253 रुपये में बिका। हालांकि, प्रशासन ने यह जरूर माना कि सोमवार की तुलना में मंगलवार को टमाटर की कीमत में 50 रुपये प्रति किलो से अधिक की वृद्धि हुई। एक व्यापारी ने कहा कि सरकार ने ईरान से साढ़े चार हजार टन टमाटर आयात करने का परमिट जारी किया था लेकिन अभी 989 टन ही पाकिस्तान पहुंच सका है।