राम विलास पासवान: GST की नई दरों के बाद अब छापने होंगे नए एमआरपी

gst1
नई दिल्ली। केंद्रीय उपभोक्ता मामलों के मंत्री राम विलास पासवान ने बुधवार को कहा कि जीएसटी (वस्तु एवं सेवा कर) परिषद द्वारा 10 नवंबर को 200 उपभोक्ता सामानों पर कर की दरों में किए गए बदलाव के बाद अब उसी हिसाब ने नया अधिकतम बिक्री मूल्य (एमआरपी) छपवाना होगा। पासवान ने ऐसा नहीं करनेवालों पर कार्रवाई की बात भी कही है। पासवान ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा, "जिन सामानों पर जीएसटी की कीमतें घटाई गई हैं, उन्हें नई…

नई दिल्ली। केंद्रीय उपभोक्ता मामलों के मंत्री राम विलास पासवान ने बुधवार को कहा कि जीएसटी (वस्तु एवं सेवा कर) परिषद द्वारा 10 नवंबर को 200 उपभोक्ता सामानों पर कर की दरों में किए गए बदलाव के बाद अब उसी हिसाब ने नया अधिकतम बिक्री मूल्य (एमआरपी) छपवाना होगा। पासवान ने ऐसा नहीं करनेवालों पर कार्रवाई की बात भी कही है।

पासवान ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा, “जिन सामानों पर जीएसटी की कीमतें घटाई गई हैं, उन्हें नई एमआरपी के साथ बेचना होगा। ग्राहकों को इसका लाभ दिया जाना चाहिए। इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी गई है।” उन्होंने कहा कि उत्पादकों को घटी हुई एमआरपी के साथ पुरानी एमआरपी को भी लगाना होगा, ताकि जीएसटी की दरों में कटौती का लाभ ग्राहकों को दिया जा सके।

{ यह भी पढ़ें:- भारत की अर्थव्यवस्था 7.4 फीसद से बढ़कर 7.8 फीसद तक होने की उम्मीद : IMF }

Loading...