1. हिन्दी समाचार
  2. जीवन मंत्रा
  3. International Yoga Day 2021: योगी विकास से जाने ‘योगा फॉर वेलबिइंग’ और इतिहास के बारे में…

International Yoga Day 2021: योगी विकास से जाने ‘योगा फॉर वेलबिइंग’ और इतिहास के बारे में…

  हर साल योग दिवस की थीम अलग तरह की रखी जाती है। इस साल 21 जून 2021 में योग दिवस की थीम ‘योगा फॉर वेलबिइंग’ रखी गई है यानि ‘स्वास्थ्य के लिए योग" योग और उसके महत्व को समझते हुए 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिन को मनाने की पहल भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने की थी, तब से हर साल 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है।

By आराधना शर्मा 
Updated Date

उत्तराखंड:  हर साल योग दिवस की थीम अलग तरह की रखी जाती है। इस साल 21 जून 2021 में योग दिवस की थीम ‘योगा फॉर वेलबिइंग’ रखी गई है यानि ‘स्वास्थ्य के लिए योग” योग और उसके महत्व को समझते हुए 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिन को मनाने की पहल भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने की थी, तब से हर साल 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। इस बार 21 जून को विश्व 7वां योग दिवस मना रहे हैं। उत्तरी गोलार्द्ध में 21जून का दिन साल का सबसे लंबा दिन होता है। इसी दृष्टि से लंबी उम्र के लिए योग करना भी बेहद जरूरी है।

पढ़ें :- National Doctors’ Day 2021: आज नेशनल डॉक्टर डे है, जानें इस दिन का इतिहास और महत्व

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर योग दिवस की शुरुवात

भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 27 सितम्बर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में इस दिन को सेलिब्रेट करने की पहल की थी, जिसके बाद 21 जून को ”अंतरराष्ट्रीय योग दिवस” (International Yoga Day 2021) घोषित किया गया। 21 जून को संयुक्त राष्ट्र में 177 सदस्यों द्वारा अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को मनाने का प्रस्ताव रखा गया था, जिसे 90 दिनों के अंदर पूर्ण बहुमत से पारित किया गया, जो संयुक्त राष्ट्र संघ में किसी दिवस प्रस्ताव के लिए सबसे कम समय था।

योग में विश्व रिकॉर्ड बनाने व ICY ऋषिकेष के संस्थापक योगी विकास ने जानकारी देते हुए बताया कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2021 की थीम ‘स्वास्थ्य के लिए योग (Yoga for Well Being)’ रखी है. कोरोना के कारण आजकल हमारा स्वास्थ्य सबसे ज्यादा खतरे में है।  इसलिए इस साल भी घर पर रहकर ही योगा के अभ्यास से स्वास्थ्य को मजबूत बनाने के प्रति जागरुकता फैलाई जा रही है।

21 जून को ही क्यों मनाया जाता है वर्ल्ड योग डे क्या हैं कारण 

योगी विकास ने बताया कि 21 जून को विश्व योग दिवस के रूप में चयनित करने के पीछे कुछ कारण थे. 21 जून का दिन पूरे साल का सबसे लंबा दिन होता है. इसका मतलब है कि इस दिन सूर्योदय से लेकर सूर्यास्त तक का समय सबसे ज्यादा होता है. इसी से योगा के अभ्यास से मिलने वाले लंबे स्वास्थ्य को प्रतिबिंबित किया गया है. इस दिन ही सूर्य अपनी स्थिति दक्षिणायन में लाता है, जो कि योग और अध्यात्म के लिए सबसे उपयोगी मानी जाती है. इन कारणों से ही 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में चुना गया.

इस योग दिवस पर है बड़ी प्रतियोगिता: योगी विकास

आयुष मंत्रालय ने आयोजित की जिंगल प्रतियोगिता (Jingle Competition by Ayush Ministry) इंटरनेशनल योगा डे 2021 के मौके पर भारत सरकार के आयुष मंत्रालय ने एक जिंगल (छोटा गाना व धुन) प्रतियोगिता आयोजित की है। जिसकी इनामी राशि नगद 25 हजार रखी गई है। इस प्रतियोगिता में भाग लेने की अंतिम तिथि 21 जून है। इसमें भाग लेने के लिए आपको भारतीय संविधान की आठवीं अनुसूचि में परिभाषित आधिकारिक भारतीय भाषाओं में से किसी एक में विश्व योगा दिवस का प्रचार-प्रसार करता हुआ 25-30 सेकेंड का एक गाना लिखना व कंपोज करना है और फिर उसे साउंड क्लाउड, गूगल ड्राइव या यूट्यूब पर अपलोड करके MyGov पोर्टल पर अपलोड करना है। अधिक जानकारी के लिए आप MyGov वेबसाइट पर जा सकते हैं।

पढ़ें :- पीएम मोदी सोमवार सुबह साढ़े छह बजे जनता को करेंगे संबोधित

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...