अंतरराष्ट्रीय योग दिवस: सीएम योगी ने कहा-जीवन में सकारात्मक परिवर्तन लाता है योग

    cm yogi
    सीएम योगी की सराहनीय पहल: अब शहीदों के नाम से जानी जाएंगी यूपी के इन शहरों की सड़के

    लखनऊ। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने सरकारी आवास पर योग किया। वहीं, कोरोना संक्रमण के कारण अन्य मंत्रियों और अधिकारियों ने अपने—अपने आवास पर ​योग किया। सीएम योगी ने कहा कि योग हमारे लिए प्राचीन भारतीय ऋषियों की आध्यात्मिक परंपरा का प्रसाद है। पीएम मोदी के नेतृत्व से पूरे देश में योग से लोग आत्मीय संवाद कर रहे हैं।

    International Yoga Day Cm Yogi Said Yoga Brings Positive Changes In Life :

    उन्होंने कहा कि योग हमारे जीवन से जुड़े भौतिक, मानसिक,आत्मिक, आध्यात्मिक आदि सभी पहलुओं पर काम कर जीवन में सकारात्मक परिवर्तन लाता है। शिवावतारी महायोगी गुरु श्री गोरक्षनाथ जी ने सर्वजन हेतु योग को सुलभ बनाया। इस वर्ष योग एट होम की संकल्पना के साथ सभी को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की शुभकामनाएं। सीएम ने कहा कि योग न केवल लोगों को आपस में जोड़ता है वरन स्वास्थ्य के साथ मानसिक उत्थान का सबसे बड़ा मार्ग निर्धारक है।

    यही वजह है कि भारत की इस परंपरा को वैश्विक स्वरूप प्राप्त हो सका है। मुख्यमंत्री ने बताया कि केंद्रीय आयुष मंत्रालय ने एक कॉमन योग प्रोटोकॉल जारी किया है। इसके तहत योग करते हुए लोग अपना फोटो या वीडियो उस पर अपलोड कर सकते हैं। केंद्र और राज्य सरकार अच्छे योगाभ्यासियों को पुरस्कृत भी करेगी। वहीं, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि योग हमारे जीवन का अभिन्न अंग हैं।

    यह दिनचर्या को दुरुस्त करने के साथ हमारे शरीर की प्रतिरोधन क्षमता का विकास करता है, जिससे कि हम गंभीर बीमारियों से भी भिड़ सकते हैं। हमको पता होना चाहिए कि अपने काम को सही ढंग से करना ही योग है। निष्काम कर्म को बिना किसी स्वार्थ के करना भी योग है। योग एक ऐसी प्रकिया है जिसकी अवधारणा से हम परिवार और समाज के रूप में एकजुट होकर आगे बढ़ेंगे।

    राज्यपाल ने किया योगाभ्यास
    योग दिवस के अवसर पर बधाई देते हुए राज्यपाल ने कहा कि प्रतिदिन नियमित रूप से योग करने पर हम शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ रहते हैं तथा रोगों से लड़ने की हमारी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।

     

    लखनऊ। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने सरकारी आवास पर योग किया। वहीं, कोरोना संक्रमण के कारण अन्य मंत्रियों और अधिकारियों ने अपने—अपने आवास पर ​योग किया। सीएम योगी ने कहा कि योग हमारे लिए प्राचीन भारतीय ऋषियों की आध्यात्मिक परंपरा का प्रसाद है। पीएम मोदी के नेतृत्व से पूरे देश में योग से लोग आत्मीय संवाद कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि योग हमारे जीवन से जुड़े भौतिक, मानसिक,आत्मिक, आध्यात्मिक आदि सभी पहलुओं पर काम कर जीवन में सकारात्मक परिवर्तन लाता है। शिवावतारी महायोगी गुरु श्री गोरक्षनाथ जी ने सर्वजन हेतु योग को सुलभ बनाया। इस वर्ष योग एट होम की संकल्पना के साथ सभी को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की शुभकामनाएं। सीएम ने कहा कि योग न केवल लोगों को आपस में जोड़ता है वरन स्वास्थ्य के साथ मानसिक उत्थान का सबसे बड़ा मार्ग निर्धारक है। यही वजह है कि भारत की इस परंपरा को वैश्विक स्वरूप प्राप्त हो सका है। मुख्यमंत्री ने बताया कि केंद्रीय आयुष मंत्रालय ने एक कॉमन योग प्रोटोकॉल जारी किया है। इसके तहत योग करते हुए लोग अपना फोटो या वीडियो उस पर अपलोड कर सकते हैं। केंद्र और राज्य सरकार अच्छे योगाभ्यासियों को पुरस्कृत भी करेगी। वहीं, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि योग हमारे जीवन का अभिन्न अंग हैं। यह दिनचर्या को दुरुस्त करने के साथ हमारे शरीर की प्रतिरोधन क्षमता का विकास करता है, जिससे कि हम गंभीर बीमारियों से भी भिड़ सकते हैं। हमको पता होना चाहिए कि अपने काम को सही ढंग से करना ही योग है। निष्काम कर्म को बिना किसी स्वार्थ के करना भी योग है। योग एक ऐसी प्रकिया है जिसकी अवधारणा से हम परिवार और समाज के रूप में एकजुट होकर आगे बढ़ेंगे। राज्यपाल ने किया योगाभ्यास योग दिवस के अवसर पर बधाई देते हुए राज्यपाल ने कहा कि प्रतिदिन नियमित रूप से योग करने पर हम शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ रहते हैं तथा रोगों से लड़ने की हमारी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।