1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. हरिद्वार में उमडा श्रद्धालुओ का सैलाब, लाखो ने लगाई आस्था की डुबकी

हरिद्वार में उमडा श्रद्धालुओ का सैलाब, लाखो ने लगाई आस्था की डुबकी

हरिद्वार में कार्तिक पूर्णिमा यानि गंगा स्नान के पर्व पर मंगलवार को श्रद्धालुओ का जनसैलाब उमडा। श्रद्धालुओ ने विधि विधान से पूजा अर्चना की और गांगा में आस्था की डुबकी लगाई। कार्तिक स्नान पर्व के अवसर पर गंगा स्नान करने का विशेष महत्व माना जाता है। मंगलवार सुबह से ही हरकी पैड़ी पर लाखो श्रद्धालु गंगा स्नान कर रहे है।

By Sachin 
Updated Date

हरिद्वार में कार्तिक पूर्णिमा यानि गंगा स्नान के पर्व पर मंगलवार को श्रद्धालुओ का जनसैलाब उमडा। श्रद्धालुओ ने विधि विधान से पूजा अर्चना की और गांगा में आस्था की डुबकी लगाई। कार्तिक स्नान पर्व के अवसर पर गंगा स्नान करने का विशेष महत्व माना जाता है। मंगलवार सुबह से ही हरकी पैड़ी पर लाखो श्रद्धालु गंगा स्नान कर रहे है। धार्मिक दृष्टी से कार्तिक पूर्णिमा पर्व का काफी महत्व माना जाता है। कार्तिक महिने में पड़ने वाले स्नान को देव दिपावली के रुप में मनाया जाता है। मान्यता है कि इस दिन देवता धरती पर स्नान करने के लिए आते है।

पढ़ें :- महराजगंज:एमएलसी चुनाव के मतदान स्थलों की तैयारियों का डीएम व एसपी ने लिया जायजा

श्रद्धालुओ की सुरक्षा के लिए कडे़ इंतजाम
हरिद्वार में गंगा स्नान के लिए आने वाले श्रद्धालुओ की सुरक्षा के लिए हरिद्वार पुलिस ने कड़े इंतजाम किये है। हरिद्वार में मेला क्षेत्र को 9 जोन और 33 सेक्टरो में बांटा गया है। सभी जगहो पर पुलिस बल को तैनात किया गया है। इसके अलावा हरिद्वार में ट्रेफिक व्यवस्था को बनाये रखने के लिए भी सभी सड़को पर जगह जगह ट्रेफिक पुलिस तैनात है और सभी चौराहो पर ट्रेफिक पुलिस द्वारा यातायात को नियंत्रित किया जा रहा है। श्रद्धालुओ की सुरक्षा को लेकर सादी वर्दी में भी पुलिस बल तैनात किया गया है और जगह जगह पर हेल्प बूथ भी बनाये गये है। गंगा घाटो पर भी पुलिस के अलावा किसी अप्रिय घटना को रोकने के लिए जल पुलिस जवान, गोताखारो के अलावा एक प्लाटून फ्लड कंपनी को भी बोट के साथ तैनात किया गया है। इस दौरान पुलिस के जवान लगातार चेकिंग भी कर रहे है।

विधि विधान से पूजा अर्चना कर स्नान कर रहे श्रद्धालु
वेसे तो हरिद्वार में साल भर ही श्रद्धालुओ का आना-जाना लगा रहता है, मगर गंगा स्नान, मकर संक्राति स्नान, कुंभ मेला, कांवड मेला आदि के दौरान श्रद्धालुओ की संख्या काफी बढ़ जाती है। श्रद्धालुओ का मानना है कि कार्तिक पूर्णिमा पर गंगा स्नान करने से पुण्य और मोक्ष की प्राप्ति होती है। मंगलवार को सुबह के समय मौसम काफी ठंडा था, मगर फिर भी लाखो श्रद्धालुओ ने पूरी अस्था और उत्साह से गंगा में डुबकी लगाई है।

पढ़ें :- एसएसबी आईजी लखनऊ ने किया सोनौली सीमा का दौरा

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...