1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. आईपी सिंह को BJP ने 6 वर्ष के लिए पार्टी से किया निष्काषित, जानिए क्यों की गयी कार्रवाई

आईपी सिंह को BJP ने 6 वर्ष के लिए पार्टी से किया निष्काषित, जानिए क्यों की गयी कार्रवाई

By शिव मौर्या 
Updated Date

Ip Singh Has Been Expelled From Bjp For 6 Years

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी के नेता आईपी सिंह अपने विवादित बयानों और ट्वीट को लेकर सुर्खियों में थे। वह अक्सर अपने पार्टी के नेताओं पर तंज कसते थे। एक ट्वीट में उन्होंने खुद को उसूलदार क्षत्रिय बताया है। इसके साथ आगे लिखा है कि ‘दो गुजराती ठग हिन्दी ​हृदय स्थल, हिन्दी भाषियों पर कब्जा करके पांच वर्ष से बेवकूफ बना रहे हैं और हम खामोश हैं।’

इसके साथ ही वह एक के बाद एक ट्वीट कर पार्टी पर निशाना साधाते रहते थे। वहीं भाजपा ने पार्टी के खिलाफ बयान देने के मामले में वरिष्ठ नेता आइपी सिंह को पार्टी से फिलहाल बाहर कर दिया है। अब वह छह वर्ष पार्टी से निलंबित रहेंगे।

आईपी सिंह भाजपा पर काफी समय से हमला कर रहे थे। कल्याण सिंह सरकार में दर्जा प्राप्त मंत्री रहे आइपी सिंह को आज भाजपा ने बाहर का रास्ता दिखा दिया। कल समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की आजमगढ़ से उम्मीदवारी घोषित होने के बाद उन्हें अपने घर में कार्यालय खोलने का न्योता दिया था।

इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर भी निशाना साधा था। पार्टी ने आईपी सिंह को दलविरोधी गतिविधियों के आरोप में सस्पेंड किया है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ ट्वीट करते हुए उन्हें प्रचारमंत्री बताया।

आईपी ने ट्वीट किया कि हमने ‘प्रधानमंत्री’ चुना था या ‘प्रचारमंत्री’? अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से देश का प्रधानमंत्री क्या टी-शर्ट और चाय का कप बेचते हुए अच्छा लगता है? भाजपा वो पार्टी रही है जिसने अपने विचारों से लोगों के दिलों में जगह बनाई।

मिस कॉल देकर और टी-शर्ट पहन कर यहां पर ‘कार्यकर्ताओं’ की खेती असंभव है। उनके इन्हीं पार्टी विरोधी तेवरों को देखते हुए उन्हें भाजपा से निष्कासित कर दिया गया है। इसके साथ ही उन्होंने कई ट्वीट कर पार्टी पर निशाना साधा है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...