आईपीएल-10: सुपर ओवर में बुमराह ने मुंबई इंडियंस को दिलाई शानदार जीत

राजकोट| मुम्बई इंडियंस ने शनिवार को यहां सुपर ओवर तक खिंचे इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें संस्करण के रोमांचक राउंड रोबिन लीग मुकाबले में गुजरात लायंस को हरा दिया। इस जीत के साथ मुम्बई के 14 अंक हो गए हैं। वह तालिका में दूसरे स्थान पर बना हुआ है। गुजरात ने मुम्बई इंडियंस के सामने 154 रनों का लक्ष्य रखा था लेकिन मुम्बई की टीम ने अंतिम पांच ओवरों में 36 रनों पर छह विकेट गंवाने के साथ मैच पर से पकड़ खो बैठी और 153 रनों पर आउट हो गई। इसके बाद मैच का फैसला सुपर ओवर से हुआ। मुम्बई ने सुपर ओवर में पांच गेंदों पर दो विकेट पर 11 रन बनाए लेकिन गुजरात की टीम जसप्रीत बुमराह द्वारा फेंके गए ओवर में आठ गेंदों का सामना करने के बाद भी छह रन ही बना सकी।




बहरहाल, 154 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी मुम्बई की शुरुआत अच्छी रही। जोस बटलर (9) हालांकि बड़ी पारी नहीं खेल पाए लेकिन उनकी मौजूदगी में पार्थिव ने खूब रन बटोरे और दोनों ने पहले विकेट के लिए 24 गेंदों पर 43 रन जोड़े। बटलर को फॉल्कनर ने रन आउट किया। इसके बाद नितिन राणा (19) और पार्थिव ने दूसरे विकेट के लिए 39 रनोनं की साझेदारी की। राणा का विकेट 82 के कुल योग पर गिर। उन्हें अंकित सोनी ने पगबाधा आउट किया। राणा ने 16 गेंदों पर एक चौका और एक छक्का लगाया। राणा का स्थान लेने आए कप्तान रोहित शर्मा (5) को जेम्स फॉल्कनर ने अधिक देर नहीं टिकने दिया। रोहित का विकेट 104 रन के कुल योग पर गिरा।

फॉल्कनर का यह ओवर गुजरात के लिए वापसी का रास्ता खोलने वाला साबित हुआ। रोहित को चलता करने के बाद फाल्कनर ने पारी के 14वें ओर की पांचवीं गेंद पर पार्थिव को भी आउट किया। पार्थिव का विकेट 109 के कुल योग पर गिरा। पार्थिव ने 44 गेंदों पर नौ चौके और एक छक्का लगाया। पार्थिव हालांकि अपना काम कर चुके थे क्योंकि उनकी टीम को अगली 36 गेंदों पर जीत के लिए 45 रनो की जरूरत थी और विकेट पर थे क्रूनाल पंड्या (29) और केरन पोलार्ड (15)। दोनों ने संयम के साथ खेलना शुरू किया लेकिन पोलार्ड 127 के कुल योग पर बासिल थम्पी की गेंद पर आउट हो गए। पोलार्ड ने 11 गेंदों पर दो चौके लगाए।

अब क्रूनाल का साथ देने आए उनके भाई हार्दिक पंड्या (4)। हार्दिक को हालांकि 139 के कुल योग पर थम्पी ने चलता कर दिया लेकिन क्रूनाल की मौजूदगी गुजरात के लिए खतरा थी। अब क्रूनाल का साथ देने आए हरभजन सिंह (0) और मुम्बई को जीत के लिए चाहिए थे, 8 गेंदों पर 12 रन लेकिन थम्पी ने भज्जी को खाता तक नहीं खोलने दिया। यह विकेट 142 के कुल योग पर गिरा। 19वें ओवर की अंतिम गेंद पर मिशेल मैक्लेघन (0) रन आउट हुए। मुम्बई का आठवां विकेट गिर गया था। अंतिम 6 गेंदों पर मुम्बई को जीत के लिए 11 रन चाहिए थे। क्रूनाल ने इरफान पठान द्वारा फेंके जा रहे इस ओवर की पहली गेंद पर छक्का लगाया और संतुलन बना दिया।

अगली गेंद पर एक रन बना और स्ट्राइकर पर आए जसप्रीत बूमराह (0) लेकिन वह एक रन लेकर क्रूनाल को स्ट्राइक देने के प्रयास में रन आठउ हो गए। क्रूनाल हालांकि स्ट्राइक बदलने में सफल रहे। चौथी गेंद पर उन्होंने दो रन लिए। अब अंतिम दो गेंदों पर दो रन चाहिए थे।
पांचवीं गेंद पर एक रन बना और स्कोर बराबर हो गया लेकिन देखने वाली बात यह थी कि क्या लसिथ मलिंगा अंतिम गेंद पर एक रन ले पाते हैं या नहीं। क्रूनाल और मलिंगा ने एक रन चुराने की भरसक कोशिश की लेकिन इस प्रयास में क्रूनाल रन आउट हो गए। इस तरह मम्बई की टीम 153 रनों पर आउट हो गई और अब मैच का फैसला सुपर ओवर से होना था।

सुपर ओवर में फाल्कनर ने मुम्बई को 11 रन दिए लेकिन शुरुआती पांच गेंदों में ही उन्होंने बटलर और पोलार्ड को आउट कर दिया। इस तरह मुम्बई की टीम पांच गेंद ही खेल सकी। अब गुजरात की बारी थी। उसकी ओर से बल्लेबाजी के लिए आए एरान फिंच और ब्रेंडन मैक्लम। बूमराह ने इस ओवर में एक वाइड और एक नो के साथ कुल आठ गेंदें डालीं लेकिन फिंच और मैक्लम का बल्ला उनके खिलाफ नहीं चल सका।

आईपीएल में अब तक खेले गए नौ मैचों में से सात में जीत के साथ मुंबई ने आठ टीमों की तालिका में दूसरे स्थान पर मजबूत हुई है। कोलकाता के भी 14 अंक हैं लेकिन उसका नेट रन रेट मुम्बई से बेहतर है। गुजरात की टीम छह अंकों के साथ पांचवें स्थान पर है। इससे पहले, टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए गुजरात की टीम ने निर्धारित 20 ओवरों में 9 विकेट पर 153 रन बनाए। इसमें ईशान किशन के सबसे अधिक 48 रन शामिल हैं।

ईशान और काफी हद तक रवींद्र जडेजा (28) को छोड़कर शीर्ष क्रम का कोई और बल्लेबाज छाप नहीं छोड़ सका। ईशान ने पारी की शुरूआत करते हुए 35 गेंदों पर छह चौके और दो छक्के लगाए। ब्रेंडन मैक्लम (6), सुरेश रैना (1), एरान फिंच (0) और दिनेश कार्तिक (2) ने निराश किया। जडेजा ने 21 गेंदों प दो चौके और एक छक्का लगाया। आईपीएल-10 में पहली बार खेल रहे इरफान पठान (2) अपने पदार्पण को यादगार नहीं बना सके। एक समय गुजरात ने 101 रनों पर सात विकेट गंवा दिए थे लेकिन इसके बाद जेम्स फॉल्कनर (21) और एंड्यू टाई (25) ने आठवें विकेट के लिए 43 रनों की साझेदारी करते हुए उसे एक लिहाज से सम्मानजनक योग तक पहुंचाया।




यह साझेदारी सिर्फ 19 गेंदों पर हुई। टाई ने 12 गेंदों पर दो चौके और दो छक्के लगाए। फाल्कनर ने 22 गेंदों का सामना कर दो चौके लगाए। फॉल्कनर और टाई को 19वें ओवर में जसप्रीत बूमराह ने आउट किया। अंकित सोनी एक छक्के के साथ सात तथा बासिल थम्पी दो रनों पर नाबाद लौटे। मुम्बई की ओर से क्रूनाल पांडे ने तीन विकेट लिए जबकि बूमराह और लसिंथ मलिंगा ने दो-दो विकेट लिए। हरभजन सिहं ने एक सफलता हासिल की। क्रूनाल ने चार ओवरों में सिर्फ 14 रन खर्च किए।