आईपीएल-10: स्टोक्स का शानदार शतक, पुणे ने गुजरात को पांच विकेट हराया

पुणे| आईपीएल-10 के सबसे महंगे खिलाड़ी बेन स्टोक्स ने एक बेहतरीन शतकीय पारी खेलते हुए सोमवार को यहां के महाराष्ट्र क्रिकेट संघ मैदान पर खेले गए लीग के 39वें राउंड रोबिन लीग मुकाबले में गुजरात लायंस के खिलाफ राइजिंग पुणे सुपरजाएंट टीम को शानदार जीत दिलाई। स्टोक्स ने 63 गेंदों पर सात चौकों और छह छक्कों की मदद से 103 रनों की नाबाद पारी खेली और 42 रन पर चार विकेट गंवा चुकी अपनी टीम को एक गेंद शेष रहते पांच विकेट से जीत दिला दी। पुणे की इस जीत में स्टोक्स के साथ महेंद्र सिंह धौनी (26) तथा डेनियल क्रिस्टीयन (नाबाद 17) की साझेदारियां अहम साबित हुईं।




पुणे के लिए यह जीत आसान नहीं थी क्योंकि लक्ष्य का पीछा करने उतरी इस टीम की शुरुआत बेहद निराशाजनक रही। उसने एक समय 10 रनों पर अपने तीन अहम विकेट-अजिंक्य रहाणे (4), कप्तान स्टीफन स्मिथ (4) और मनोज तिवारी (0) के के रूप में गंवा दिए थे। रहाणे और स्मिथ को प्रदीप सांगवान ने आउट किया जबकि तिवारी को बासिल थम्पी ने चलता किया। इसके बाद अभिषेक त्रिपाठी (6) और स्टोक्स ने स्कोर को 42 तक पहुंचाया लेकिन इसी योग पर त्रिपाठी रन आउट हो गए।

त्रिपाठी को एरान फिंच ने रन आउट किया। त्रिपाठी और स्टोक्स के बीच चौथे विकेट के लिए 32 रनों की साझेदारी हुई। त्रिपाठी की विदाई के बाद स्टोक्स का साथ देने धौनी आए और समय के साथ खेलते हुए स्कोर को आगे ले जाने लगे। स्टोक्स भी काफी सटीक बल्लेबाजी कर रहे थे। इन दोनों ने स्कोर को 100 के पार पहुंचाया। अंतिम चार ओवरों में पुणे को जीत के लिए 44 रनों की जरूरत थी। यह स्कोर हासिल कियाा सकता था और स्टोक्स तथा धौनी के मन में भी यही बात थी लेकिन 10.4 ओवरों की यह साझेदारी बासिल थम्पी ने तोड़कर गुजरात को बड़ी सफलता दिलाई।

धौनी ने 33 गेंदों का सामना कर एक चौका और एक छक्का लगाया। धौनी तथा स्टोक्स के बीच 76 रनों की साझेदारी हुई। वह 118 के कुल योग पर आउट हुए। अब विकेट पर स्टोक्स के साथ क्रिस्टीयन थे। अंतिम तीन ओवरों में पुणे को जीत के लिए 36 रनों की दरकार थी। संगवान द्वारा फेंके गए 18वें ओवर में 11 रन बने। अंतिम 12 गेंदों पर पुणे को 25 रनों की जरूरत थी। स्टोक्स ने थम्पी द्वारा फेंके जा रहे 19वें ओवर की पहली गेंद पर छक्का लगाकर पुणे को जीत के करीब ला दिया। थम्पी के इस ओवर में दो छक्कों सहित कुल 17 रन बने। पुणे जहां जीत के करीब था वहीं स्टोक्स शतक के करीब थे। अब पुणे को जीत के लिए 6 गेंदों पर 8 रनों की जरूरत थी।

स्टोक्स ने फाल्कनर द्वारा फेंके गए अंतिम ओवर की पहली गेंद पर चौका लगाकर शतक पूरा किया। यह उनका पहला टी-20 शतक है। स्टोक्स ने अपने शतक का जश्न मनाया क्रिस्टीयन ने पांचवीं गेंद पर छक्के के साथ अपनी टीम को यादगार जीत दिलाने का जश्न मनाया। स्टोक्स तथा क्रिस्टीयन ने अंतिम 22 गेंदों पर 49 रनों की साझेदारी की। स्टोक्स को मैन ऑफ द मैच चुना गया। इस जीत के साथ पुणे की टीम 12 अंक लेकर आठ टीमों की तालिका में चौथे स्थान पर मजबूती से पैर जमा चुकी है। दूसरी ओर, गुजरात की टीम छठे स्थान पर बनी हुई है।

इससे पहले, टॉस हारने के बाद बल्लेबाजी कर रही गुजरात की टीम ने 19.5 ओवरों में सभी विकेट गंवाकर 161 रन बनाए। इसमें ब्रेंडन मैक्लम के सर्वाधिक 45 रन शामिल हैं। गुजरात को शुरुआत तो अच्छी मिली लेकिन बाद के बल्लेबाज कायदे से इसका फायदा नहीं उठा सके। ईशान किशन (31) और मैक्लम की सलामी जोड़ी ने पहले विकेट के लिए छह ओवर में 55 रन जोड़े। इमरान ताहिर ने ईशान को आउट कर पुणे को पहली सफलता दिलाई। यहां से गुजरात की टीम लगातार अंतराल पर विकेट खोती रही।

कप्तान सुरेश रैना (8) दुर्भाग्यवश रन आउट हुए। 10वें ओवर में जब गुजरात का स्कोर 94 रन था तभी ताहिर ने उसे दो बड़े झटके दिए। एरॉन फिंच (13) और ड्वायन स्मिथ (0) को ताहिर ने दो लगातार गेंदों पर पवेलियन भेजा। 27 गेंदों की अपनी आतिशी पारी में पांच चौके और दो छक्के लगाने वाले मैक्लम, शार्दुल ठाकुर की गेंद को सीमा रेखा के पार भेजने के प्रयास में अंजिक्य रहाणे के हाथों लपके गए। उस समय कुल योग 109 रन था। रवींद्र जडेजा बल्ले से कुछ कमाल नहीं दिखा पाए और डेनियल क्रिस्टिन का शिकार बने। जडेजा ने 12 गेंदों पर तीन चौकों की मदद से 19 रन बनाए। जडेजा 135 के कुल योग पर आउट हुए।



जयदेव उनादकत ने 18वें ओवर में गुजरात को दो लगातार झटके दिए। उनादकत ने जेम्स फॉल्कनर (6) और प्रदीप सांगवान (1) को क्रमश: 146 और 148 के कुल योग पर आउट किया। 20वें ओवर में गुजरात ने एक बार फिर से दो विकेट गंवाए। दिनेश कार्तिक (29) रन आउट हुए जबकि अंकिका सोनी (1) को उनादत ने आउट किया। ये दोनों विकेट 161 के कुल योग पर गिरे। कार्तिक ने 26 गेंदों पर दो चौके लगाए। पुणे की ओर से इमरान ताहिर और उनादकत ने तीन-तीन सफलता हासिल की जबकि शार्दुल और क्रिस्टीन को एक-एक विकेट मिले।