IPL 2018 SRHvCSK FINAL: हैदराबाद के युवा खिलाड़ी दो बार की चैंपियन किंग्स को देंगे कड़ी चुनौती

IPL 2018 SRHvCSK: हैदराबाद के युवा खिलाड़ी दो बार की चैंपियन किंग्स को कड़ी चुनौती देंगे
IPL 2018 SRHvCSK: हैदराबाद के युवा खिलाड़ी दो बार की चैंपियन किंग्स को कड़ी चुनौती देंगे

मुंबई। आईपीएल के 11वें सीजन में आज (रविवार) ट्रॉफी के लिए जंग होगी। सनराइजर्स हैदराबाद और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच इस सीजन का फाइनल मुकाबला वानखेड़े स्टेडियम में खेला जाना है जिसके लिए दोनों टीमें तैयार हैं। एक की बोलिंग में दम है तो दूसरे के पास अनुभव का दम है। तीसरी बार खिताब जीतने की कोशिश में जुटी चेन्नई 2016 की चैंपियन हैदराबाद से पहले क्वालीफायर मुकाबले आज खेलेगी। दोनों टीमें 22 मई को पहले क्वालीफायर में आमने-सामने थी जिसमें 2010 और 2011 की चैम्पियन चेन्नई ने दो विकेट से जीत दर्ज करके फाइनल में जगह बनाई थी। चेन्नई का नौ प्रयासों में यह सातवां फाइनल होगा। इस साल उसने दोनों ग्रुप मैचों में भी हैदराबाद को हराया है।

Ipl 2018 Srh Vs Csk Sunrisers Hyderabad Vs Chennai Super Kings Final Match Update :

आईपीएल-11 में एकमात्र विदेशी कप्तान केन विलियमसन ने अपनी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के दम पर ऑरेंज कैप पर कब्जा जमा रखा है। विलियमसन ने इस सीजन में 16 मैच खेलकर 52.92 की औसत और 143.33 के स्ट्राइक रेट से सबसे ज्यादा 688 रन बनाए हैं। सीएसके को अगर यह खिताब जीतना है तो उन्हें किसी भी हालत में विपक्षी टीम के कप्तान को फाइनल में रोकना होगा।

हैदराबाद पर हावी रहती है चेन्‍नई

ग्रुप मैचों में सनराइजर्स ने शीर्ष टीम के रूप में और चेन्‍नई ने दूसरे नंबर पर रहते हुए क्‍वालीफायर में प्रवेश किया था, जहां 22 मई को खेले गए पहले क्‍वालीफायर में दो बार की चैंपियन चेन्‍नई ने दो विकेट से जीत दर्ज की थी। चेन्नई का नौ प्रयासों में यह सातवां फाइनल होगा। इस साल उसने दोनों ग्रुप मैचों में भी सनराइजर्स को हराया है। सनराइजर्स को दूसरे क्वालीफायर में कोलकाता नाइट राइडर्स का सामना उसी के मैदान ईडन गार्डंस पर करना पड़ा, जिसमें उसने कल 13 रन से जीत दर्ज की। चेन्नई को दो मैचों के बीच चार दिन का ब्रेक मिला है, जबकि सनराइजर्स को कोलकाता से यहां आकर थकान को भुलाकर खेलना होगा। सनराइजर्स का सात दिन में यह तीसरा मैच है लिहाजा थकान का मसला होगा।

चेन्‍नई को राशिद खान और ब्रेथवेट का निकालना होगा तोड़

चेन्‍नई की टीम किसी एक बल्‍लेबाज पर निर्भर नहीं है। अंबाती रायडू, शेन वॉटसन, फाफ डू प्‍लेसी, महेन्‍द्र सिंह धोनी सभी फॉर्म में चल रहे हैं। हालांकि पिछले मैच में प्‍लेसी ने अकेले दम पर टीम को फाइनल तक पहुंचाया दिया, लेकिन चेन्‍नई के बल्‍लेबाज अगर एक बार मैदान पर टिक गए तो हैदराबाद के लिए परेशानी खड़ी हो सकती है। वहीं बात हैदराबाद की करें तो बल्‍लेबाजी में अभी तक टीम अपने कप्‍तान केन विलियमसन और सलामी बल्‍लेबाज शिखर धवन पर ही निर्भर है। लेकिन एलिमिनेटर में कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ राशिद खान ने जो किया, वह चेन्‍नई के लिए परेशानी खड़ी कर सकते हैं। इसीलिए चेन्‍नई को सबसे पहले राशिद का कोई तोड़‍ निकालना होगा।

मुंबई। आईपीएल के 11वें सीजन में आज (रविवार) ट्रॉफी के लिए जंग होगी। सनराइजर्स हैदराबाद और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच इस सीजन का फाइनल मुकाबला वानखेड़े स्टेडियम में खेला जाना है जिसके लिए दोनों टीमें तैयार हैं। एक की बोलिंग में दम है तो दूसरे के पास अनुभव का दम है। तीसरी बार खिताब जीतने की कोशिश में जुटी चेन्नई 2016 की चैंपियन हैदराबाद से पहले क्वालीफायर मुकाबले आज खेलेगी। दोनों टीमें 22 मई को पहले क्वालीफायर में आमने-सामने थी जिसमें 2010 और 2011 की चैम्पियन चेन्नई ने दो विकेट से जीत दर्ज करके फाइनल में जगह बनाई थी। चेन्नई का नौ प्रयासों में यह सातवां फाइनल होगा। इस साल उसने दोनों ग्रुप मैचों में भी हैदराबाद को हराया है।आईपीएल-11 में एकमात्र विदेशी कप्तान केन विलियमसन ने अपनी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के दम पर ऑरेंज कैप पर कब्जा जमा रखा है। विलियमसन ने इस सीजन में 16 मैच खेलकर 52.92 की औसत और 143.33 के स्ट्राइक रेट से सबसे ज्यादा 688 रन बनाए हैं। सीएसके को अगर यह खिताब जीतना है तो उन्हें किसी भी हालत में विपक्षी टीम के कप्तान को फाइनल में रोकना होगा।

हैदराबाद पर हावी रहती है चेन्‍नई

ग्रुप मैचों में सनराइजर्स ने शीर्ष टीम के रूप में और चेन्‍नई ने दूसरे नंबर पर रहते हुए क्‍वालीफायर में प्रवेश किया था, जहां 22 मई को खेले गए पहले क्‍वालीफायर में दो बार की चैंपियन चेन्‍नई ने दो विकेट से जीत दर्ज की थी। चेन्नई का नौ प्रयासों में यह सातवां फाइनल होगा। इस साल उसने दोनों ग्रुप मैचों में भी सनराइजर्स को हराया है। सनराइजर्स को दूसरे क्वालीफायर में कोलकाता नाइट राइडर्स का सामना उसी के मैदान ईडन गार्डंस पर करना पड़ा, जिसमें उसने कल 13 रन से जीत दर्ज की। चेन्नई को दो मैचों के बीच चार दिन का ब्रेक मिला है, जबकि सनराइजर्स को कोलकाता से यहां आकर थकान को भुलाकर खेलना होगा। सनराइजर्स का सात दिन में यह तीसरा मैच है लिहाजा थकान का मसला होगा।

चेन्‍नई को राशिद खान और ब्रेथवेट का निकालना होगा तोड़

चेन्‍नई की टीम किसी एक बल्‍लेबाज पर निर्भर नहीं है। अंबाती रायडू, शेन वॉटसन, फाफ डू प्‍लेसी, महेन्‍द्र सिंह धोनी सभी फॉर्म में चल रहे हैं। हालांकि पिछले मैच में प्‍लेसी ने अकेले दम पर टीम को फाइनल तक पहुंचाया दिया, लेकिन चेन्‍नई के बल्‍लेबाज अगर एक बार मैदान पर टिक गए तो हैदराबाद के लिए परेशानी खड़ी हो सकती है। वहीं बात हैदराबाद की करें तो बल्‍लेबाजी में अभी तक टीम अपने कप्‍तान केन विलियमसन और सलामी बल्‍लेबाज शिखर धवन पर ही निर्भर है। लेकिन एलिमिनेटर में कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ राशिद खान ने जो किया, वह चेन्‍नई के लिए परेशानी खड़ी कर सकते हैं। इसीलिए चेन्‍नई को सबसे पहले राशिद का कोई तोड़‍ निकालना होगा।