IPL2018Final CSKvsSRH: यूसुफ़ ने खेली धमाकेदार पारी, चेन्‍नई को दिया 179 रन का लक्ष्य

IPL2018Final CSKvsSRH: युसुफ़ ने खेली धमाकेदार पारी, चेन्‍नई को दिया 179 रन का टारगेट लक्ष्य
IPL2018Final CSKvsSRH: युसुफ़ ने खेली धमाकेदार पारी, चेन्‍नई को दिया 179 रन का लक्ष्य

मुंबई। मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में सनराइजर्स हैदराबाद पहले बल्लेबाज़ी कर रही है। हैदराबाद की टीम ने 20 ओवर तक पांच विकेट के नुकसान पर 178 रन बना लिए हैं। युसुफ़ पठान 45 रन बनाकर नाबाद हैं। उनके साथ कार्लोस ब्रेथवेट ने 21 रन की धमाकेदार पारी खेली।

Ipl2018final Cskvssrh Live Cricket Score Update :

दीपक हुड्डा 3 रन बनाकर आउट हुए, वहीं शाकिब अल हसन के रूप में हैदराबाद को चौथा झटका लगा, शाकिब 15 गेंदों में 23 रन बनाकर ब्रावो की गेंद पर रैना के हाथों लपके गए इससे पहले कप्तान केन विलियमसन की शानदार बल्लेबाज़ी की बदलौत हैदराबाद को अच्छी शुरुआत मिली।

हालांकि कप्तान विलियमसन अपना अर्धशतक पूरा करने से चूक गए और 47 रन के निजी स्कोर पर कर्ण शर्मा की गेंद पर धोनी के हाथों स्टंप आउट हुए। इससे पहले शिखर धवन 26 रन बनाकर रविंद्र जडेजा की गेंद पर बोल्ड हुए और श्रीवत्स गोस्वामी पांच रन बनाकर रन आउट हुए।

इस ख़िताबी मुकाबले में चेन्नई ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फ़ैसला किया है। चेन्नई की टीम में एक बदलाव किया गया है। हरभजन सिंह की जगह कर्ण शर्मा को अंतिम एकादश में मौका दिया गया है।

क्या कहते हैं आंकड़े-

मौजूदा सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स की टीम सनराइजर्स हैदराबाद पर लगातार हावी रही है. फाइनल से पहले तक दोनों में तीन बार मुकाबला हो चुका हैं और हर बार चेन्नई ने बाजी मारी.

1. 22 अप्रैल को हैदराबाद में सनराइजर्स को चेन्नई ने 4 रनों से हराया

2. 13 मई को पुणे में सनराइजर्स को चेन्नई ने 8 विकेट से हराया

3. 22 मई को मुंबई में सनराइजर्स को चेन्नई ने क्वालिफायर-1 में 2 विकेट से हराया.

गेंदबाजों ने दिखाया दम

हैदराबाद की सफलता उसकी गेंदबाजी पर निर्भर है, हालांकि उसकी बल्लेबाजों ने भी अच्छा काम किया है। बल्लेबाजी में हैदराबाद का दारोमदार कप्तान केन विलियमसन पर टिका है। उनके अलावा शुरुआती मैचों में आउट ऑफ फॉर्म चल रहे शिखर धवन का बल्ला भी रंग में आ गया है। वहीं चोट से वापसी करने वाले रिद्धिमान साहा के आने से टीम को मजबूती मिली है।

टॉप पर रही है लीग मैचों में हैदराबाद

हैदरबाद की टीम ने पूरे टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन किया है, वहीं चेन्नई की टीम ने भी दो साल के बाद शानदार वापसी करते हुए रिकॉर्ड सातवीं बार फाइनल में प्रवेश किया है. चेन्नई की टीम इकलौती ऐसी टीम है जिसने जब भी वह खेली है तब से हर बार प्लेऑफ में जगह बनाने में कामयाब रही है. चेन्नई की टीम का भी इस टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन रहा है. उसने कई नजदीकी मुकाबले जीते हैं.

चेन्नई : महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान-विकेटकीपर), शेन वाटसन, फाफ डु प्लेसिस, अंबाती रायडू, सुरेश रैना, ड्वायन ब्रावो, रवींद्र जडेजा, लुंगी नगिदी, कर्ण शर्मा, दीपक चहर और शार्दूल ठाकुर.

हैदराबाद : केन विलियमसन (कप्तान), शिखर धवन, दीपक हुड्डा, शाकिब अल-हसन, यूसुफ पठान, कार्लोस ब्रैथवेट, श्रीवत्स गोस्वामी (विकेटकीपर), राशिद खान, भुवनेश्वर कुमार, सिद्धार्थ कौल और संदीप शर्मा.

मुंबई। मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में सनराइजर्स हैदराबाद पहले बल्लेबाज़ी कर रही है। हैदराबाद की टीम ने 20 ओवर तक पांच विकेट के नुकसान पर 178 रन बना लिए हैं। युसुफ़ पठान 45 रन बनाकर नाबाद हैं। उनके साथ कार्लोस ब्रेथवेट ने 21 रन की धमाकेदार पारी खेली।दीपक हुड्डा 3 रन बनाकर आउट हुए, वहीं शाकिब अल हसन के रूप में हैदराबाद को चौथा झटका लगा, शाकिब 15 गेंदों में 23 रन बनाकर ब्रावो की गेंद पर रैना के हाथों लपके गए इससे पहले कप्तान केन विलियमसन की शानदार बल्लेबाज़ी की बदलौत हैदराबाद को अच्छी शुरुआत मिली।हालांकि कप्तान विलियमसन अपना अर्धशतक पूरा करने से चूक गए और 47 रन के निजी स्कोर पर कर्ण शर्मा की गेंद पर धोनी के हाथों स्टंप आउट हुए। इससे पहले शिखर धवन 26 रन बनाकर रविंद्र जडेजा की गेंद पर बोल्ड हुए और श्रीवत्स गोस्वामी पांच रन बनाकर रन आउट हुए।इस ख़िताबी मुकाबले में चेन्नई ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फ़ैसला किया है। चेन्नई की टीम में एक बदलाव किया गया है। हरभजन सिंह की जगह कर्ण शर्मा को अंतिम एकादश में मौका दिया गया है।

क्या कहते हैं आंकड़े-

मौजूदा सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स की टीम सनराइजर्स हैदराबाद पर लगातार हावी रही है. फाइनल से पहले तक दोनों में तीन बार मुकाबला हो चुका हैं और हर बार चेन्नई ने बाजी मारी.1. 22 अप्रैल को हैदराबाद में सनराइजर्स को चेन्नई ने 4 रनों से हराया2. 13 मई को पुणे में सनराइजर्स को चेन्नई ने 8 विकेट से हराया3. 22 मई को मुंबई में सनराइजर्स को चेन्नई ने क्वालिफायर-1 में 2 विकेट से हराया.

गेंदबाजों ने दिखाया दम

हैदराबाद की सफलता उसकी गेंदबाजी पर निर्भर है, हालांकि उसकी बल्लेबाजों ने भी अच्छा काम किया है। बल्लेबाजी में हैदराबाद का दारोमदार कप्तान केन विलियमसन पर टिका है। उनके अलावा शुरुआती मैचों में आउट ऑफ फॉर्म चल रहे शिखर धवन का बल्ला भी रंग में आ गया है। वहीं चोट से वापसी करने वाले रिद्धिमान साहा के आने से टीम को मजबूती मिली है।

टॉप पर रही है लीग मैचों में हैदराबाद

हैदरबाद की टीम ने पूरे टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन किया है, वहीं चेन्नई की टीम ने भी दो साल के बाद शानदार वापसी करते हुए रिकॉर्ड सातवीं बार फाइनल में प्रवेश किया है. चेन्नई की टीम इकलौती ऐसी टीम है जिसने जब भी वह खेली है तब से हर बार प्लेऑफ में जगह बनाने में कामयाब रही है. चेन्नई की टीम का भी इस टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन रहा है. उसने कई नजदीकी मुकाबले जीते हैं.चेन्नई : महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान-विकेटकीपर), शेन वाटसन, फाफ डु प्लेसिस, अंबाती रायडू, सुरेश रैना, ड्वायन ब्रावो, रवींद्र जडेजा, लुंगी नगिदी, कर्ण शर्मा, दीपक चहर और शार्दूल ठाकुर.हैदराबाद : केन विलियमसन (कप्तान), शिखर धवन, दीपक हुड्डा, शाकिब अल-हसन, यूसुफ पठान, कार्लोस ब्रैथवेट, श्रीवत्स गोस्वामी (विकेटकीपर), राशिद खान, भुवनेश्वर कुमार, सिद्धार्थ कौल और संदीप शर्मा.