IPS अमिताभ ठाकुर पहुंचे गिरफ्तारी देने, SSP ने मांगा एक महीने का समय

लखनऊ। आईजी रूल्स एंड मैनुअल अमिताभ ठाकुर रविवार को अपनी पत्नी नूतन ठाकुर के साथ अपनी गिरफ़्तारी देने एसएसपी आवास पहुंचे। अमिताभ ठाकुर अपने ऊपर लगे रेप के आरोप के चलते गिरफ्तारी देने पहुंचे थे। एसएसपी मजिल सैनी के आश्वासन देने के बाद वो अपने घर लौटे। उनका कहना है कि इस मामले में अभी तक पुलिस तफ़्तीश नहीं कर पाई है, जबकि आरोप लगाने वाली महिला से मैं कभी नहीं मिला।




अमिताभ के मुताबिक बीते डेढ़ साल पहले मुझ पर और मेरी पत्नी पर राजनीतिक दवाब में रेप का मुकदमा लिखवाया गया। पुलिस ने इस मामले में कोई तफ्तीश नहीं की। मैं अपनी पत्नी के साथ यहां ये कहने आए थे क‌ि हम दोषी हैं तो गिरफ्तार किया जाए। वहीं अमिताभ ने कहा कि अगर हम निर्दोष हैं तो केस को खत्म किया जाये।



लखनऊ: तीन महीने घर में दफन रहा पति, पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर की हत्या

एसएसपी मंजिल सैनी ने इस मामले की पड़ताल के लिए एक महीने का समय मांगा है और इस केस के विवेचक सीओ गोमतीनगर सत्यसेन यादव की विभागीय जांच के आदेश भी दिये गए हैं।



ये है मामला—

गाजियाबाद की एक युवती ने अमिताभ ठाकुर पर यौन शोषण का आरोप लगाया था। गोमतीनगर थाने में 13 जुलाई 2015 को इस मामले में केस दर्ज हुआ था।