ईरान की लड़की ने पोस्ट किया ‘डांस वीडियो’, पुलिस ने किया गिरफ्तार

नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है। ईरान ने इंस्टाग्राम पर ‘ डांस वीडियो ’ डालने के मामले में एक किशारी को हिरासत में लिया गया है। मेदेह होजब्री (18) के वीडियो को लाखों लोगों ने देखा है सरकारी टीवी चैनल में एक वीडियो के दौरान दिखाया गया कि होजब्री ने नियमों का उल्लंघन करने के बाद स्वीकार करते हुए कहा कि उसने ऐसा जानबूझकर नहीं किया है। हालांकि, यह स्पष्ट नहीं है कि उसने यह बयान दबाव में दिया है या नहीं।’

Iranian Girl Detained For Posting Dance Videos On Instagram :

उधर, ईरान पुलिस मैदेह के वीडियो ब्लॉक करने और उनके नाम पर इंस्टाग्राम पर चल रहे पैरोडी अकाउंट को बंद कराने की तैयारी में है। देश में सोशल मीडिया को बैन करने पर भी विचार किया जा रहा है। मैदेह ने इंस्टाग्राम पर अब तक 300 से ज्यादा वीडियो शेयर किए हैं। इन वीडियो में बिना हिजाब के बिना नजर आ रही हैं। उन्हें करीब 52 हजार लोग फॉलो करते हैं।

1979 में बदला गया कानून

ईरान में महिलाओं के डांस करने पर प्रतिबंध है। हालांकि पहले बच्चों को स्कूल में डांस सिखाया जाता था। लेकिन 1979 में इस्लामी क्रांति के बाद कानून बदला और डांस करना सबसे बड़ा जुर्म हो गया। ईरान के लोग लगातार इसका विरोध कर रहे हैं। उनका मानना है कि यह अनुचित है और महिलाओं के अधिकारों का हनन है।

नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है। ईरान ने इंस्टाग्राम पर ‘ डांस वीडियो ’ डालने के मामले में एक किशारी को हिरासत में लिया गया है। मेदेह होजब्री (18) के वीडियो को लाखों लोगों ने देखा है सरकारी टीवी चैनल में एक वीडियो के दौरान दिखाया गया कि होजब्री ने नियमों का उल्लंघन करने के बाद स्वीकार करते हुए कहा कि उसने ऐसा जानबूझकर नहीं किया है। हालांकि, यह स्पष्ट नहीं है कि उसने यह बयान दबाव में दिया है या नहीं।’ उधर, ईरान पुलिस मैदेह के वीडियो ब्लॉक करने और उनके नाम पर इंस्टाग्राम पर चल रहे पैरोडी अकाउंट को बंद कराने की तैयारी में है। देश में सोशल मीडिया को बैन करने पर भी विचार किया जा रहा है। मैदेह ने इंस्टाग्राम पर अब तक 300 से ज्यादा वीडियो शेयर किए हैं। इन वीडियो में बिना हिजाब के बिना नजर आ रही हैं। उन्हें करीब 52 हजार लोग फॉलो करते हैं।

1979 में बदला गया कानून

ईरान में महिलाओं के डांस करने पर प्रतिबंध है। हालांकि पहले बच्चों को स्कूल में डांस सिखाया जाता था। लेकिन 1979 में इस्लामी क्रांति के बाद कानून बदला और डांस करना सबसे बड़ा जुर्म हो गया। ईरान के लोग लगातार इसका विरोध कर रहे हैं। उनका मानना है कि यह अनुचित है और महिलाओं के अधिकारों का हनन है।