रेल टिकट ई-बुकिंग सर्विस को जारी रखने के लिए IRCTC ने इस ऐप को किया ऑथोराइज्ड

railyatri
रेल टिकट ई-बुकिंग सर्विस को जारी रखने के लिए IRCTC ने इस ऐप को किया ऑथोराइज्ड

लखनऊ। एंड्राइड का सबसे अधिक इस्तेमाल होने वाला ऐप RailYatri ने IRCTC से लाइसेंस प्राप्त किया है, जिसके तहत अब इसे अपनी ई-बुकिंग सर्विस को जारी रखने के लिए ऑथोराइज्ड किया गया है। इसकी जानकारी इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (IRCTC) ने दी थी जिसमें कहा गया था कि इसका एकीकरण बीते सप्ताह किया गया था।

Irctc Has Authorized Railyatri To Continue The Train Ticket E Booking Service :

वहीं, अधिकारियों का कहना है कि इस तरह के एकीकरण यह सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक हैं कि ऐसे पोर्टल्स पर टिकट बुक करने वाले यात्रियों को कोई अलग से चार्ज नहीं देना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि लाइसेंस, आईआरसीटीसी की तरफ से चार्ज के साथ भी आता है।

RailYatri.in के सीईओ और को फाउंडर मनीष राठी ने कहा कि ट्रेन में देरी के प्रबंधन के लिए ‘लाइव ट्रेन स्टेटस’ जैसे डिजिटल टूल के साथ डेटा संचालित जानकारियों के जरिए ट्रेन टिकट बुकिंग को सिंपल बनाकर हमें इस सेगमेंट में लीडरशिप हासिल करने में मदद मिली है। हम अपनी यूनिक नॉलेज बेस्ड सर्विस के जरिए ग्राहकों की सेवा करेंगे, जिसका उद्देश्य ग्राहकों को अच्छी यात्रा का अनुभव प्रदान करना है।

इतना ही नहीं RailYatri ट्रेन से जुड़ी जानकारी देता है, PNR स्टेट्स, लाइव ट्रेन स्टेट्स, स्टेशनों के बीच ट्रेन, सीट की उपलब्धता और कंफर्मेशन के बारे में बताता है। इसके अलावा यह ऑनलाइन बस टिकट और ट्रेन में खाने की सर्विस भी प्रदान करता है। हाल ही में इसने उत्तर और दक्षिण में 12 शहरों के अंदर इंटरसिटी स्मार्ट बस सर्विस को बढ़ाया है।

लखनऊ। एंड्राइड का सबसे अधिक इस्तेमाल होने वाला ऐप RailYatri ने IRCTC से लाइसेंस प्राप्त किया है, जिसके तहत अब इसे अपनी ई-बुकिंग सर्विस को जारी रखने के लिए ऑथोराइज्ड किया गया है। इसकी जानकारी इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (IRCTC) ने दी थी जिसमें कहा गया था कि इसका एकीकरण बीते सप्ताह किया गया था। वहीं, अधिकारियों का कहना है कि इस तरह के एकीकरण यह सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक हैं कि ऐसे पोर्टल्स पर टिकट बुक करने वाले यात्रियों को कोई अलग से चार्ज नहीं देना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि लाइसेंस, आईआरसीटीसी की तरफ से चार्ज के साथ भी आता है। RailYatri.in के सीईओ और को फाउंडर मनीष राठी ने कहा कि ट्रेन में देरी के प्रबंधन के लिए 'लाइव ट्रेन स्टेटस' जैसे डिजिटल टूल के साथ डेटा संचालित जानकारियों के जरिए ट्रेन टिकट बुकिंग को सिंपल बनाकर हमें इस सेगमेंट में लीडरशिप हासिल करने में मदद मिली है। हम अपनी यूनिक नॉलेज बेस्ड सर्विस के जरिए ग्राहकों की सेवा करेंगे, जिसका उद्देश्य ग्राहकों को अच्छी यात्रा का अनुभव प्रदान करना है। इतना ही नहीं RailYatri ट्रेन से जुड़ी जानकारी देता है, PNR स्टेट्स, लाइव ट्रेन स्टेट्स, स्टेशनों के बीच ट्रेन, सीट की उपलब्धता और कंफर्मेशन के बारे में बताता है। इसके अलावा यह ऑनलाइन बस टिकट और ट्रेन में खाने की सर्विस भी प्रदान करता है। हाल ही में इसने उत्तर और दक्षिण में 12 शहरों के अंदर इंटरसिटी स्मार्ट बस सर्विस को बढ़ाया है।